Wednesday, 21 October 2015

JANSAMPARK NEWS 1-10-15 TO 20-10-15

जिला जनसम्पर्क कार्यालय, बुरहानपुर (म.प्र.)

समाचार

कलेक्टेªट में वंदेमातरम् गायन कर कार्य प्रारंभ  

बुरहानपुर/1 अक्टूबर/ राज्य शासन के निर्देशानुसार माह की पहली तारीख 01 अक्टूबर 2015 को कलेक्ट्रेट कार्यालय में वंदेमातरम् तथा मध्य प्रदेश गीत का गायन हुआ। 
इस प्रायोजित कार्यक्रम का नेतृृत्व अपर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल ने किया। तत्पश्चात कार्यालयीन कार्य प्रारंभ हुआ। इस दौरान डिप्टी कलेक्टर श्री सुमेरसिंह मुजाल्दा व डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र महाप्रबंधक श्री आर.एस.ठाकुर, एकीकृत बाल विकास सेवा कार्यक्रम अधिकारी श्री अब्दुल गफ्फार खान व लोक सेवा प्रबंधक श्री मनोज शंखपाल सहित कलेक्ट्रेट के समस्त कार्यालयों के अधिकारी-कर्मचारियों ने भाग लिया। 
-------
क्रमांक-01/849/2015                        सचिन/प्रशासन/फोटो 

समाचार

अस्पृश्यता निवारणार्थ सद्भावना शिविर आज 

बुरहानपुर/1 अक्टूबर/जिला बुरहानपुर अंतर्गत अनुसूचित जाति बाहुल्य ग्राम बादखेडा में गांधी जयंती अवसर पर आज 2 अक्टूबर 2015 को सदभावना शिविर का आयोजन किया गया है। उक्त जानकारी प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग श्री अरूण महाजन ने दी।  
-------
क्रमांक-02/850/2015                                 सचिन/आ.वि. 

समाचार

शालाओं में पदांकन हेतु 3 अक्टूबर को काउंसलिंग आयोजित

बुरहानपुर/1 अक्टूबर/जिला स्तरीय विभागीय पदोन्नति समिति द्वारा निर्णय अनुसार आदिवासी विभाग विभाग में पदस्थ शिक्षकों की 24 सितम्बर 2015 को आयोजित डी.पी.सी. में पदोन्नति की गई। 
प्रभारी सहायक आयुक्त श्री अरूण महाजन ने बताया कि माध्यमिक शाला प्रधान पाठक पद हेतु 06 शिक्षक तथा उच्च श्रेणी शिक्षक जिसमें हिन्दी विषय-04, सामाजिक विज्ञान विषय-11 एवं प्राथमिक शाला प्रधान पाठक-23 शिक्षको को पदोन्नत किया गया। रिक्त पद वाली शालाओं में पदांकन हेतु 03 अक्टूबर 2015 को प्रातः 11.00 बजे से कार्यालय सहायक आयुक्त, आदिवासी विकास बुरहानुपर में काउंसलिंग आयोजित की गई है।
-------
क्रमांक-03/851/2015                                 सचिन/आ.वि. 

समाचार

तीन दिवसीय आवासीय सेवा एवं सरोकार षिविर आयोजित 

बुरहानपुर/1 अक्टूबर/राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत गांधी जयंती 2 अक्टूम्बर से 4 अक्टूम्बर 2015 तक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल में तीन दिवसीय आवासीय सेवा एवं सरोकार षिविर (पी.ओ.डी.कैम्प) का आयोजित किया है। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एच.एन.नायक ने बताया कि शिविर का उद््देष्य विकृति से प्रभावित कुष्ठ रोगीयों को घाव के प्रबंधन एवं स्वरक्षा पध्दति के विषय में प्रषिक्षित करना है। साथ ही उसके उपयोगिता की जानकारी देना है। जनसमुदाय को कुष्ठ रोग के चिन्ह एवं लक्षणों से अवगत कराना। जिससे चर्मरोग एवं कुष्ठ रोग में भेद कर सके। षिविर में कुष्ठ कार्यकर्ताआंे को डी.पी.एम.आर पध्दति का प्रषिक्षण दिया जायेगा। कुष्ठ के प्रति समुदाय में व्याप्त भ्रम एवं भेदभाव के दूर किया जायेगा। समुदाय की भागीदारी सुनिष्चित करना एवं उपचार प्रबंधन की दिषा में उनका सहयोग प्राप्त करना।  प्रतिदिन षिविर में आने वाले षंकास्पद रोगीयों का निदान एवं उपचार एम.डी.टी द्वारा निःषुल्क होगा।  

-------
क्रमांक-04/852/2015                                 सचिन/स्वास्थ 

समाचार

मिशन इन्द्रधनुष अंतर्गत जिला टॉक्स फोर्स समिति की बैठक संपन्न

कलेक्टर ने बैठक में सभी ब्लॉक मेडिकल ऑफिसरों को मॉनीटरिंग के 

दिये निर्देश 

बुरहानपुर/1 अक्टूबर/ भारत शासन के निर्देशानुसार जिले में आगामी चार माह में 07 से 17 अक्टूबर 2015, 07 से 17 नवम्बर 2015, 07 से 17 दिसम्बर 2015 एवं 07 से 17 जनवरी 2016 तक मिशन इन्द्रधनुष आयोजित किया जाना है। इस हेतु जिला टास्क फोर्स समिति की बैठक कलेक्टेªट सभागृह में संपन्न हुई। 
कलेेक्टर जे.पी. आईरीन सिंथिया ने बैठक में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा हेडकाउंट सर्वे, प्रचार-प्रसार, कार्ययोजना मिशन इन्द्रधनुष का माईक्रो प्लान संबंधी बिन्दुओ पर चर्चा की। उन्होनें कहा कि मिशन इन्द्रधनुष भारत शासन की महत्वकांक्षी योजना है। इस योजना का लाभ हमें उन हितग्राहियों (0 से 2 वर्ष तक के बच्चें तथा गर्भवती महिलाओं) तक पहुंचाना है। जो किन्हीं कारणो से टीकाकरण से वंचित रह जाते हैं। उन्होनें सभी मेडिकल ऑफिसरों को प्रतिदिन सुपरवाईजारों की मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने सभी विभागों एवं स्वयं सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों से अभियान को सफल बनाने हेतु अपील की। उन्होनें अपील में कहा कि अपने-अपने क्षेत्र में जनसमुदाय को मिशन इन्द्रधनुष के संबंध में जागरूकता फैलाने हेतु अनुरोध किया है। 
जिला टास्क फोर्स का उद्बोधन मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एच.एन.नायक द्वारा किया गया। संचालन डब्ल्यू.एच.ओ. के सर्वेंलेंस मेडीकल ऑफिसर डॉ. शेखावतसिंह भारतीय द्वारा किया गया। राज्य स्तर से युनिसेफ भोपाल के प्रतिनिधि श्री हर्ष रायजादा भी उपस्थित रहे। बैठक में डीपीएम प्रवीण भार्गव, चिकित्सा अधिकारी, स्वयं सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। अंत में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. यामिनि भूषण शास्त्री द्वारा आभार व्यक्त किया गया। 
-------
क्रमांक-05/853/2015                         सचिन/स्वास्थ्य/फोटो  
समाचार
जिले में मद्य निषेध सप्ताह आज से 8 अक्टूबर तक मनाया जायेगा 
बुरहानपुर/1 अक्टूबर/ राज्य शासन संचालनालय सामाजिक न्याय विभाग के निर्देशानुसार जिले में आज 2 अक्टूबर गांधी जयंती से 8 अक्टूबर 2015 तक मद्य निषेध सप्ताह मनाया जायेगा। इस दिवस के मनाने का उद््देश्य समाज में बढ़ती हुई मदिरापान सेवन प्रवृत्ति की रोकथाम करना है। इस दौरान विविध कार्यक्रमों के माध्यम से मदिरापान के दुष्परिणामों सेे आमजन को अवगत कराने जनजागृति प्रसारित करना सुनिश्चित किया गया है। 
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आइरिन सिंथिया ने मद्य निषेध सप्ताह में जागरूक गतिविधियों के प्रचार-प्रसार हेतु आयुक्त नगर निगम, नगरीय निकाय नेपानगर/शाहपुर तथा ग्रामीण निकाय जनपद पंचायत बुरहानपुर/खकनार को तथा समस्त शासकीय/अशासकीय विद्यालय/महाविद्यालय के प्राचार्यो को निर्देश दिए है। 
सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग उपसंचालक ने बताया कि ‘‘मद्य निषेध सप्ताह‘‘ के अंतर्गत मदिरापान के सेवन से ह््दय रोग, अलसर, लीवर का खराब होना आदि गंभीर बीमारियां होती है। इसके दुष्परिणामों से खासकर युवावर्ग तथा जन-जन को बचाव के लिए सचेत किया जाएगा। इस मौके पर युवावर्ग व अन्य मदिरापान का सेवन करने वालो को स्वेच्छा से मदिरा पान त्यागने हेतु संकल्प पत्र भरवाए जाएगे। इस अवधि में मदिरापान के भयावह दुष्परिणामों पर आधारित कार्यक्रम संपन्न होगे। इन जागरूक कार्यक्रमों में सेमिनार, रैली, पोस्टर, प्रदर्शनी, वादविवाद, निबंध लेखन, प्रश्न मंच, चित्रकला, नुक्कड़ नाटक, गीत, नृत्य आदि का आयोजन किया जाना शामिल है। सभी विद्यालयों/महाविद्यालयों में अनिवार्य रूप से उक्त कार्यक्रर्मो का आयोजन सुनिश्चित करने एवं संस्थाओं को भी इस दिशा में अपने स्तर पर व्यापक प्रयास करने हेतु निर्देशित किया गया है। यह हमारा नैतिक दायित्व है कि बढ़ती प्रवृत्ति से बचाव के लिए जिले के हर युवा, वृद्ध एवं नागरिकों को पहल करना होगी। सभी संस्थाए मद्य निषेध सप्ताह में संपादित किए गए कार्यक्रमों का प्रतिवेदन कार्यालय उपसंचालक सामाजिक न्याय विभाग कार्यालय में प्रस्तुत करेगें। 
-------
क्रमांक-06/854/2015                              सचिन/सा.न्या.
समाचार
प्रधानमंत्री मुद्रा लोन मेगा शिविर संपन्न 
बुरहानपुर/1 अक्टूबर/ प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजनान्तर्गत जिले की समस्त बैंकों द्वारा मेगा ऋण शिविर जनपद पंचायत सभागृह बुरहानपुर में संपन्न हुआ। 
इस अवसर पर बुरहानपुर विधायक श्रीमती अर्चना चिटनीस, नेपानगर विधायक श्री राजेन्द्र दादू, कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया, महापौर श्री अनिल भाउ भोंसले, नगर निगम अध्यक्ष श्री मनोज तारवाला, बुरहानपुर जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री किशोर पाटील, नगर परिषद नेपानगर अध्यक्ष श्रीमती मधुसिंह चौहान, श्री राजाराम पाटीदार, अन्य जनप्रतिनिधिगण, समस्त बैंक प्रबंधक, अधिकारीगण और जनसमुदाय उपस्थित रहे। 
कार्यक्रम को संबोधन करते हुए श्रीमती चिटनीस ने मुद्रा लोन के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होनें मुद्रा योजना के शुभारंभ अवसर पर प्रधानमंत्री की प्रशंसा की। परिवार के आर्थिक विकास में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। अतः उन्होनें सभी बैंकों से विशेष रूप से महिलाओं को ऋण उपलब्ध करने की अपेक्षा की है। श्री दादू ने मुद्रा लोन योजना की जानकारी देते हुए बताया कि आमजनता ऋण का सदुपयोग कर आर्थिक विकास करें। महापौर श्री भोंसले ने संबोधन में कहा कि आम व्यक्ति भी बैंक से जूड़ रहा है। 
कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने मुद्रा योजना की प्रशंसा करते हुए कहा कि इतने कम समय में बैंक कर्मियों ने जन-धन, बीमा व मुद्रा योजना को पूर्ण रूप से सफल बनाने में सहयोग किया है। इस दौरान विभिन्न बैंकों द्वारा स्वीकृत मुद्रा ऋण के प्रमाण पत्र एवं बैंक ऋण द्वारा प्राप्त वाहनों की चाबियां हितग्राहियों को अतिथियों ने वितरित की। अग्रणी जिला प्रबंधक श्री महेश मित्तल ने मुद्रा योजना का संपूर्ण ब्यौरा प्रस्तुत किया। उन्होनें कहा कि मुद्रा लोन योजनान्तर्गत जिले की समस्त बैंकों के माध्यम से 1195 हितग्राहियों को ऋण उपलब्ध कराया गया। कार्यक्रम का संचालन जनपद पंचायत एडीओ श्री विनायक पाटील द्वारा किया गया। 
-------
क्रमांक-07/855/2015                          सचिन/अ.बैं/फोटो  
जिला जनसम्पर्क कार्यालय, बुरहानपुर (म.प्र.)
समाचार
गांधी जयंती अवसर पर मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम का शुभारंभ 
अब गांव-गांव में ग्रामीणों को जागरूक करेगें सामाजिक नेतृृत्वकर्ता 
बुरहानपुर/2 अक्टूबर/ म.प्र.जन अभियान परिषद विकासखण्ड बुरहानपुर के संयोजन में मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम का गांधी जयंती के अवसर पर शुभारंभ किया गया। उक्त कार्यक्रम की विधिवत रूप से शा.उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय में मुख्य अतिथि महापौर श्री अनिल भोंसले, निगमाध्यक्ष श्री मनोज तारवाला, प्राचार्य नरेन्द्र मोदी, जिला समन्वयक डॉ.सुप्रिती यादव द्वारा माँ सरस्वती और महात्मा गाँधी के छायाचित्र पर माल्यार्पण व पूजन अर्चन कर शुरूआत की गई। 
इस मौके पर श्री भोंसले ने कहा कि यदि हम परिवार में मुखिया द्वारा दिखाये हुए मार्ग पर चलेगें। तो जीवन में कभी परेशानियों का सामना नही करना पडे़गा। गांव में किसी विधवा महिला को पेंशन का लाभ नही मिल रहा है। आपके नेतृृत्व से उस महिला को पेंशन मिलने लगी। गांव में बच्चें स्कूल नहीं जाते है। तो उसें हम स्कूल भेजनें का कार्य करेगें। वे शिक्षा अर्जित कर भविष्य में उच्च अधिकारी, डॉक्टर व इंजिनियर बनेगें। तो समझों आपके नेतृत्व ने उन्हें मुकाम तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होनें कहा शासन की मंशा है कि मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम का उद््देश्य जिन छात्र-छात्राओं ने 12 वी कक्षा उतीर्ण कर किसी कारणवश पढ़ाई छोड़ दी है। वह इस कार्यक्रम के अंतर्गत पढ़ाई को निरंतर जारी रखने के लिये बेचलर ऑफ सोशल वर्क (कम्यूनिटी लीडरशीप) की डिग्री प्राप्त कर सकते है। 
इस मौके पर श्री तारवाला ने बताया कि इस कार्यक्रम से नेतृत्व क्षमता को निखारने का अवसर प्राप्त होगा। इसे प्रारंभ करने का उद््देश्य समाज के अंतिम छोर पर बैठें अंतिम व्यक्ति तक शासकीय योजनाओं का लाभ पहुंचाना पुण्य का कार्य है। ग्राम में अपने अधिकारों के लिये नेतृृत्व क्षमता का विकास करना अर्थात गांव-गांव सामाजिक नेतृत्व की अलख जगाना ग्रामीण विकास की कड़ी में सवर्णिम मध्य प्रदेश के विकास में अहम योगदान होगा। 
श्रीमती यादव ने मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम पर प्रकाश डालते हुए कहा कि महात्मा गाँधी चित्रकूट विश्वविद्यालय द्वारा संचालित बेचलर ऑफ सोशल वर्क कोर्स के तहत प्रथम वर्ष में 40 रविवार को कक्षाऐं लगायी जायेगी। जिसमें क्षेत्रीय कार्य निर्देशिका, पोषण एवं स्वास्थ्य देखभाल आदि विषयों पर शिक्षा दी जाना है। जिसके उपरांत सर्टिफिकेट उपलब्ध करायेगें। प्राचार्य श्री मोदी ने विद्यार्थियों से कहा कि आज हम देश के विकास में सहभागी बनने जा रहे है। कार्यक्रम में प्रेरक की भूमिका में मोहन जोशी, दिनेश शंखपाल, मनोज राजपूत, सुनंदा चौबे, मुकेश दरबार, खकनार ब्लॉक समन्वयक अमजद खान, राजेश सविता, राजेश मोरे, रविन्द्र देशमुख, राजू मांझी, स्वयंसेवी संस्था से नरेन्द्र प्रजापति, भगवान महाजन, खुशबु तिवारी सहित अन्य संस्था प्रतिनिधि और प्रतिभागी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन व आभार श्री महेश कुमार खराडे़ ने माना।   
टीपः- फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक 1 और 2 है। 
-------
क्रमांक-08/856/2015                        सचिन/ज.अ.प./फोटो 
समाचार
जिले में पशुपालन विभाग द्वारा दो नवीन योजनाऐं संचालित 
बुरहानपुर/2 अक्टूबर/ राज्य शासन पशुपालन विभाग द्वारा जिले में वर्ष 2015-16 हेतु पशुपालकों के लिये दो नई योजनाऐं शामिल की गई है। पशु चिकित्सा सेवाऐं उपसंचालक डॉ.एम.के.शर्मा ने बताया कि जिनमें ‘‘मुक्त परिसर में कड़कनाथ कुक्कुट ईकाई योजना‘‘ बिना लिंगभेद के 40 चूजों का वितरण अनुसूचित जनजाति के हितग्राहियों को किया जायेगा। योजना के तहत प्रति युनिट लागत 2100/-रूपये है। हितग्राही को लागत राशि का केवल 20 प्रतिशत राशि जमा करनी होगी। 80 प्रतिशत राशि शासन द्वारा अनुदान के रूप में प्रदान की जायेगी। इस योजना में जिले को 150 का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। जिससे लगभग 6000 कड़कनाथ जाति के पक्षियों की वृद्धि होगी। साथ ही गरीब आदिवासियों का आर्थिक स्तर सुधरेगा। 
वहीं ‘‘रिस्क मैनेजमेंट‘‘ के अंतर्गत गाय, भैंस, बकरी, घोडे़, खच्चरों हेतु शासन द्वारा बीमा योजना संचालित है। अभी तक जिले में केवल उन्हीं पशुओं का बीमा होता था जिन्हें शासकीय योजनाओं में ऋण प्रदाय होता था। किंतु अब जो उपरोक्त पशुपालकों ने स्वयं पशुओं को पालन-पोषण कर बडे़ किये है। स्वयं क्रय करके लाया है। उनका भी बीमा बड़ी सस्ती दर पर शासन द्वारा प्रदत्त प्रीमियम पर अनुदान के द्वारा कराया जाकर पशु हानि पर पशुपालक को आर्थिक राहत मिल सकेगी। योजना में पशु मूल्य की 3 प्रतिशत एवं 7.5 प्रतिशत क्रमशः एक वर्ष और 3 वर्ष के लिये पशुबीमा कराया जा सकता है। जिसमें सामान्य वर्ग के पशुपालकों को 50 प्रतिशत छूट एवं अन्य वर्ग के पशुपालकों को 70 प्रतिशत की छूट मिलेगी। श्री शर्मा ने बताया कि जिले में प्रचार-प्रसार की समुचित व्यवस्था की गई है। उन्होनें अधिक से अधिक पशुपालकों से इस योजनान्तर्गत पशुओं का बीमा करानें का आग्रह किया है। पशुओं की आकस्मिक मृत्यु (बीमारी) पर बीमा क्लेम राशि बीमा कंपनी से प्राप्त कर आर्थिक राहत प्राप्त करके नया पशु क्रय कर जीवन यापन कर सकते है। योजना में गाय/भैंस एक व्यक्ति अधिकतम 5 पशु और बकरी/भेड़े अधिकतम 10 पशुओं का अपने नाम करा सकते है। 
टीपः- फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक 3 और 4 है। 
-------
क्रमांक-09/857/2015                        सचिन/प.चि.वि./फोटो  
समाचार
कलेक्टर ने जिले के ग्राम तुरकगुराड़ा में प्रथम 24 घण्टे नल-जल योजना का किया शुभारंभ 
साथ ही वार्डो में भ्रमण कर ग्रामीणों से चर्चा की 
बुरहानपुर/3 अक्टूबर/ लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा संचालित नल जल योजना के तहत जिले की प्रथम 24ग7 (चौबिस घण्टे) पेयजल योजना ग्राम पंचायत तुरकगुराड़ा में कलेेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने जिले की प्रथम 24 घण्टे नलजल योजना का शुभारंभ मोटरपंप का स्वीच दबाकर किया। 
उसके बाद श्रीमती सिंथिया ने ग्राम के सभी वार्डो में भ्रमण किया। उन्होनें यहां नलजल योजना के क्रियान्वयन, जलकर, टोटियों की व्यवस्था आदि सुविधाओं का भी अवलोकन किया। 24ग7 योजना के अंतर्गत लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा मध्यप्रदेष के इन्दौर, मंदसौर व उज्जैन आदि जिलों के ग्रामों में भी इसका शुभारंभ किया जा चुका है। इस योजना के अंतर्गत टंकी व पंप में लगे सेंसर के द्वारा ग्रामीणों को 24 घण्टे शुद्ध पेयजल हो उपलब्ध होगा।  लोक स्वास्थ्य ग्रामीण यांत्रिकी विभाग कार्यपालन यंत्री श्री मनोज कुमार वर्मा के मार्गदर्षन में विभाग की पूरी टीम और सरपंच श्री मुरलीधर वामनराव महाजन के सहयोग से 24ग7 योजना का कार्य सफलता पूर्वक पूर्ण किया गया। गांव के सभी ग्रामीणों ने योजना के क्रियान्वयन से अत्यंत खुशी जाहिर की। कार्यक्रम में सीईओ जिला पंचायत श्री बंसत कुर्रे, एसडीएम श्री के.आर.बडोले, सीईओ जनपंद पंचायत बुरहानपुर श्री आर.के.शर्मा, पीएचई विभाग जिला सलाहकार श्री राजेष कुमार ठाकुर, विजय कुमार गौरे, सहायक यंत्री श्री गंगासिंग रावत, उपयंत्री श्री बलरामसिंह पन्द्रे, श्री विष्णु मुजाल्दा, विकासखण्ड समन्वयक श्री जितेन्द्र ठाकरे व स्वच्छ भारत अभियान के ब्लाक समन्वयक श्री मांगीलाल यादव भी उपस्थित मौजूद रहे। ग्राम सचिव द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारी व कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया। ग्राम में पी.एच.ई. विभाग के सराहनीय सहयोग से 24ग7 योजना प्रारंभ हुई। जो ग्राम के विकास में सहयोगी साबित होंगी। योजना से ग्राम के सभी घरो में टंकी के माध्यम से 24 घण्टे शुद्ध पेयजल प्राप्त हो पायेगा। 
-------
क्रमांक-10/858/2015                         सचिन/पीएचई/फोटो  
समाचार
गांधी जयंती अवसर पर अस्पृश्यता निवारणार्थ शिविर संपन्न
ग्रामीणों को स्वच्छता की शपथ दिलाई गई
बुरहानपुर/3 अक्टूबर/ आदिवासी कल्याण विभाग बुरहानपुर द्वारा ग्राम बादखेडा में 02 अक्टूबर 2015 महात्मा गांधी जयंती अवसर पर अस्पृश्यता निवारणार्थ, सद्भावना शिविर/जनजागृति शिविर का आयोजन किया गया। 
इस अवसर पर जनपद पंचायत बुरहानपुर अध्यक्ष श्री किशोर पाटील, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री राजू शिवहरे, जिला पंचायत सदस्य श्री कैलाश यावतकर, सुजयसिंग चौहान, श्री विनोद पाटील, श्री रूद्रेश्वर एन्डोले, सरपंच श्री नामदेव पाटील, उप सरपंच श्री प्रभाकर यावतकर, सरपंच सिरसोदा, श्रीमती धनश्री ईश्वर पाटील, गोविन्द चौधरी, परसराम गुनंजा, श्री योगेश महाजन उपस्थित रहे। 
कार्यक्रम में ग्रामीणों को स्वच्छता की शपथ दिलाई। श्री शिवहरे ने कहा कि ग्राम में अनुसूचित जाति के विकास के लिए समस्त योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर छुआ-छुत को मिटाने की बात कही। श्री यावतकर ने भी छुआ-छुत पर जोर दिया। उन्होनें बताया कि मैं भी इसी गांव का नागरिक हूॅ और कहॉ गया कि गांव के समस्त ग्रामीण आपस में सद्भाव से रहते हैं। आदिवासी विभाग प्रभारी सहायक आयुक्त श्री अरूण महाजन, श्री रविन्द्र महाजन, प्राचार्य, श्री सुधिर गुप्ता, श्री नारायण पाटील, श्री हितेश नाईक, ज्ञानेश्वर देवकर, श्री राजेश सावकारे, श्री नारायण वास्कले, श्री के. के. पारासर विकास बुरहानपुर, विभाग द्वारा निबंध एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर आये छात्र/छात्राओं को पुरस्कार वितरण जनप्रतिनिधि/अधिकारियों द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री भागवत राठौर द्वारा किया गया। आभार व्यक्त श्री अरूण महाजन द्वारा किया जाकर समस्त ग्राम वासियों के साथ शिविर में उपस्थित समस्त जनप्रतिनिधि/अधिकारीगणों ने सामुहिक भोज किया गया।
-------
क्रमांक-11/859/2015                              सचिन/आ.वि.  
समाचार
कियोस्क एवं सीएससी संचालक 15 अक्टूबर तक अनुबंध करें
बुरहानपुर/6 अक्टूबर/ कलेक्टर एवं सचिव जिला ई-गवर्नेस सोसाइटी बुरहानपुर ने जिले के सभी एम.पी.ऑनलाईन कियोस्क एवं सीएससी संचालको को 15 अक्टूबर 2015 तक विहित प्रारूप में एम.पी.-ऑनलाईन पोर्टल पर अपलोड कर अनुबंध करवाये जाने के निर्देश दिये है। उन्हांेने कहा कि म.प्र.शासन विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भोपाल के आदेशानुसार निर्धारित समयावधि में जिला ई-गवर्नेस सोसाईटी एवं एमपी-ऑनलाईन के साथ त्रिस्तरीय अनुबंध की कार्यवाही सम्पादित करें अन्यथा अनुबंध निरस्त कर दिये जायेगे। विस्तृत जानकारी हेतु प्रबंधक ई-गवर्नेस सोसाइटी कलेक्टोरेट बुरहानपुर से सम्पर्क कर सकते है। 
-------
क्रमांक-12/860/2015                              सचिन/ई.ग.सो.  
समाचार
‘‘बुरहानपुर उत्सव‘‘ 14 से 16 नवम्बर तक मनाया जायेगा
जिला पुरातत्व समिति बैठक 8 को 
बुरहानपुर/6 अक्टूबर/ आगामी 14 नवम्बर से 16 नवम्बर 2015 तक ‘‘बुरहानपुर उत्सव‘‘ मनाया जायेगा। उत्सव की पूर्व तैयारियों के संबंध में 8 अक्टूबर 2015 को सायंकाल 4 बजे जिला पुरातत्सव समिति की बैठक कलेक्टोरेट सभागार में आयोजित की गई है। 
उक्त जानकारी डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य ने दी। उन्होनें बताया कि बैठक में समिति सदस्यों द्वारा किये गये कार्यो की समीक्षा और कार्यक्रम मनाने पर चर्चा की जाना है। उन्होनें सभी समिति सदस्यों और संबंधित अधिकारियों को बैठक में उपस्थित रहने का अनुरोध किया है। 
-------
क्रमांक-13/861/2015                              सचिन/पुरातत्व 
समाचार
प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक 8 को 
बुरहानपुर/6 अक्टूबर/ प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक 8 अक्टूबर 2015 को प्रातः 11 बजे कलेक्टोरेट सभागार में आयोजित की गई है। डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य ने बताया कि बैठक में प्रतिभा खोज योजना हेतु विस्तृत कार्यक्रमों पर चर्चा की जावेगी। 
बैठक में सीईओं जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग, शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य, बुरहानपुर/खकनार जनपद पंचायत सीईओं, म.प्र.जनअभियान परिषद जिला समन्वयक सहित सामाजिक व सांस्कृतिक से जूड़ी संस्थाऐं व स्वयंसेवी संस्थाएंे शामिल होगी। ताकि संस्थाओं जूड़ी प्रतिभागियों को प्रतिभा का प्रदर्शन करने अवसर प्राप्त हो सके। 
-------
क्रमांक-14/862/2015                              सचिन/प्रशासन
समाचार
प्रतिभा खोज योजनान्तर्गत आवेदन पत्र 21 अक्टूबर तक आमंत्रित  
शिविर आयोजित करने निर्देश जारी 
बुरहानपुर/6 अक्टूबर/ राज्य शासन संस्कृति विभाग निर्देशानुसार नगरीय एवं ग्रामीण निकायों में प्रतिभा खोज योजनान्तर्गत 21 अक्टूबर 2015 तक प्रतिभागियों से आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये है। 
सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे ने बताया कि प्रतिभा खोज योजना के तहत नगर निगम आयुक्त, बुरहानपुर/खकनार मुख्य कार्यपालन अधिकारी और नेपानगर/शाहपुर सीएमओं को अपने-अपने क्षेत्र में आवेदन पत्र आमंत्रित करने और कार्यक्रम ब्लॉक स्तर पर आयोजित करने के निर्देश दिये गये है। 
प्रतिभा खोज योजना में यह विधाऐं शामिल है:- प्रतिभा खोज योजना में नृत्य (जनजातीय, लोक एवं शास्त्रीय), संगीत (वादन, सुगम, लोकगीत, शास्त्रीय, उपशास्त्रीय), साहित्य (कहानी व कविता), चित्र (जनजातीय, लोक एवं आधुनिक) और शिल्प (सभी माध्यमों में) विधाऐं सम्मिलित है। श्री कुर्रे ने जिले के सभी उक्त विधाओं में पारम्गत प्रतिभागियों से इस योजना का अधिक से अधिक लाभ लेने की अपील की है। 
योजना का उद््देश्य उक्त सभी विधाओं में पारम्परिक रूप से कार्य कर रहे एवं आधुनिक शिक्षण-प्रशिक्षण द्वारा सक्रिय प्रतिभाओं को प्रोत्साहित कर प्रतिभा हेतु अवसर प्रदान करना है। योजना में 15 से 45 वर्ष आयु वर्ग के प्रतिभागी भाग ले सकेगे। आवेदन पत्र एवं विस्तृत जानकारी संबंधित क्षेत्र के निकाय एवं वेबसाईट ूूूण्बनसजनतमउचण्पद और ूूूण्उचजतपइंसउनेमनउण्बवउ से प्राप्त कर सकते है। 
-------
क्रमांक-15/863/2015                              सचिन/पं.ग्रा.वि.
समाचार
जिला पुरातत्व समिति बैठक आज 
बुरहानपुर/7 अक्टूबर/ ‘‘बुरहानपुर उत्सव‘‘ हेतु जिला पुरातत्व समिति बैठक आज 8 अक्टूबर 2015 को सायंकाल 4 बजे कलेक्टोरेट सभागार में संपन्न होगी। उक्त जानकारी डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य ने दी। उन्होनें बताया कि बैठक में समिति सदस्यों द्वारा किये गये कार्यो की समीक्षा और कार्यक्रम मनाये जाने के संबंध में चर्चा की जावेगी। उन्होनें सभी समिति सदस्यों और संबंधित अधिकारियों को बैठक में उपस्थित रहने का अनुरोध किया है। 
-------
क्रमांक-16/864/2015                              सचिन/पुरातत्व 
समाचार
प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक आज 
बुरहानपुर/7 अक्टूबर/ प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक आज 8 अक्टूबर 2015 को प्रातः 11 बजे कलेक्टोरेट सभागार में आयोजित की गई है। डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य ने बताया कि बैठक में प्रतिभा खोज योजना हेतु विस्तृत कार्यक्रमों पर चर्चा की जावेगी। 
बैठक में सीईओं जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग, शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य, बुरहानपुर/खकनार जनपद पंचायत सीईओं, म.प्र.जनअभियान परिषद जिला समन्वयक सहित सामाजिक व सांस्कृतिक से जूड़ी संस्थाऐं व स्वयंसेवी संस्थाएंे शामिल होगी। ताकि संस्थाओं से जूड़ी प्रतिभागियों को प्रतिभा का प्रदर्शन करने अवसर प्राप्त हो सके। 
-------
क्रमांक-17/865/2015                              सचिन/पं.ग्रा.वि.

समाचार
प्राथमिक/माध्यमिक शालाओं में नवीन दर्ज संख्या उपलब्ध कराने हेतु निर्देश जारी 
बुरहानपुर/7 अक्टूबर/ जिले की समस्त शासकीय एवं शासन से अनुदान प्राप्त प्राथमिक/माध्यमिक शालाओं में वर्ष 2015-16 की नवीन दर्ज संख्या उपलब्ध कराने हेतु निर्देश जारी किये गये है। 
सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे ने जारी निर्देशों में सर्व शिक्षा अभियान जिला कार्यक्रम समन्वयक बुरहानपुर को 30 सितम्बर 2015 की स्थिति में 12 अक्टूबर 2015 तक उपलब्ध कराने निर्देेशित किया है। ताकि परिवर्तित दर्ज संख्या अनुसार मध्यान्ह कार्यक्रम की राशि/खाद्यान्न आगामी अवधि के शैक्षणिक दिवसों के लिये जारी किया जा सके। जिला कार्यक्रम समन्वयक समस्त निकायों से नवीन परिवर्तित दर्ज संख्या एकत्र कर एकजाई जानकारी तैयार कर निर्धारित तिथि में जिला पंचायत कार्यालय बुरहानपुर में जमा कराना सुनिश्चित करें। 
-------
क्रमांक-18/866/2015                              सचिन/पं.ग्रा.वि.
समाचार
पूर्ण टीकाकरण से 8 जानलेवा बिमारीयो से बचें
मिशन इन्द्रधनुष का प्रथम चरण आज से प्रारंभ 
बुरहानपुर/7 अक्टूबर/ भारत शासन की महत्वकांक्षी योजना मिशन इन्द्रधनुष का प्रथम चरण जिलें में आज 07 अक्टूंबर 2015 से प्रारंभ किया गया। उक्त कार्यक्रम का शुभारंभ विभिन्न क्षेत्रों में जन प्रतिनिधियों द्वारा किया गया।  इस दौरान 0 से 2 वर्ष तक के बच्चे तथा गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण किया जा रहा है। अभियान को सफल बनाये जाने हेतु विभिन्न स्तरो पर जिसमें स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही अन्य विभागों से भी सहयोग लिया जा रहा है। मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम को राष्ट्रीय, राज्य स्तर, यूनिसेफ, विश्व स्वास्थ्य संगठन के मॉनिटर्स द्वारा भी सुपरविजन किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एच.एन.नायक तथा जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. यामिनि भूषण शास्त्री ने समस्त जनसमुदाय से अपील की है कि अपने बच्चो एवं गर्भवती महिलाओं का पूर्ण टीकाकरण कराकर 8 जानलेवा बीमारियों से बचा जा सकता है। 
!! जो ना पहुंचे हम तक, हम पहुचे उन तक!!
!! भूल न जाना टीकाकरण जरूर कराना !!
टीपः-फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक-1 
-------
क्रमांक-19/867/2015                         सचिन/स्वास्थ्य/फोटो 
समाचार 
हम पहुंचे उन तक.जो ना पहुंचे हम तक विषय पर जागरुकता नुक्कड़ नाटक आयोजित
बुरहानपुर/7 अक्टूबर/ मिशन इन्द्रधनुष द्वितीय फेस के अंतर्गत ग्रामों में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया के मार्गदर्शन में नेपानगर जागृति कला केन्द्र द्वारा नुक्कड नाटक, लोकगीतो के माध्यम से ग्राम चैनपुरा, मांडवा, बाकडी और सागफाटा में ग्रामीणों जागरूक किया गया। संस्था द्वारा अंाषिक टीकाकृृत या अटीकाकृत बच्चों का पूर्ण टीकाकरण विषयो पर जानकारी दी गई।
संस्था संचालक श्री मुकेष दरबार ने ग्रामीणो तथा महिलाओं से अनुरोध किया कि स्वच्छता अभियान के साथ-साथ जिले मंे मिशन इन्द्रधनुष अभियान का प्रथम चरण आज 07 से 17 अक्टूबर 2015 को अंाषिक टीकाकृत या अटीकाकृत बच्चों का पूर्णटीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें सभी आमजन की सहभागिता जरुरी है। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्रामीणजन तथा महिलाएं उपस्थित रही। 
टीपः-फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक-2
-------
क्रमांक-20/868/2015                         सचिन/स्वास्थ्य/फोटो 

समाचार
प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक संपन्न 
जिले की प्रतिभागियों को कलाओं को प्रदर्शन करने सुअवसर 
ब्लॉक स्तर पर शिविर 22 से 30 तक आयोजित होगें 
बुरहानपुर/8 अक्टूबर/प्रतिभा खोज योजना संबंधी बैठक कलेक्टोरेट सभागार में संपन्न हुई। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे ने योजना की जानकारी देते हुए बताया कि पवित्र नगरी उज्जैन में वर्ष-2016 में सिंहस्थ महाकुम्भ आयोजन होगा। इस दौरान प्रदेश की बहुआयामी, बहुवर्णी एवं बहुभाषी सांस्कृतिक एकरसता का एक माह तक निरंतर प्रदर्शन किया जायेगा। जिसमें जिले के प्रतिभागियों की सहभागिता रहेगी। 
उन्होनें कहा कि प्रतिभा खोज योजना का उद््देश्य नृत्य, संगीत, चित्र एवं शिल्प के क्षेत्र में पारम्परिक रूप से कार्य कर रहे एवं आधुनिक शिक्षण-प्रशिक्षण द्वारा सक्रिय प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करना है। साथ ही उनकी प्रतिभा को प्रदर्शन करने के लिये अवसर उपलब्ध कराना है। श्री कुर्रे ने कहा कि जिले के प्रतिभागियों को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का सुनहरा अवसर प्राप्त हुआ है। उन्होनें समस्त स्वयंसेवी संस्थाओं और सांस्कृतिक संस्थाओं से जूडे़ प्रतिभागियों को उक्त योजना का लाभ दिलाने का अनुरोध किया है। बैठक में योजना की रूपरेखा तैयार कर विस्तृत चर्चा की गई। 
अपर कलेकटर श्री प्रकाश रेवाल ने बताया कि प्रतिभा खोज योजना में नृत्य (जनजातीय, लोक एवं शास्त्रीय), संगीत (वादन, सुगम, लोकगीत, शास्त्रीय, उपशास्त्रीय), साहित्य (कहानी व कविता), चित्र (जनजातीय, लोक एवं आधुनिक) और शिल्प (सभी माध्यमों में) विधाऐं सम्मिलित है। आवेदन पत्र एवं विस्तृत जानकारी नगर निगम बुरहानपुर, नगर परिषद नेपानगर, नगर पंचायत शाहपुर, जनपद पंचायत बुरहानपुर/खकनार एवं वेबसाईट ूूूण्बनसजनतमउचण्पद और ूूूण्उचजतपइंसउनेमनउण्बवउ से प्राप्त कर सकते है। 
बैठक में डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य, सीईओ जनपद पंचायत श्री राकेश शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी जी.एल.रघुवंशी, नेहरू युवा केन्द्र जिला युवा समन्वयक श्री अजीज डिप्टी, परियोजना अधिकारी श्री विजय पचौरी, शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य बुरहानपुर डॉ.सुधीर सोमवंशी, शासकीय जीजामाता पॉलीटेक्निक कॉलेज श्री एस.पी.कोरी, शा.महाविद्यालय नेपानगर से श्री राजू सपकाले, रागिनी संगीत कला महाविद्यालय श्री सतीश वर्मा, जागृति कला केन्द्र नेपानगर श्री मुकेश दरबार, जन अभियान परिषद से श्री रविन्द्र देशमुख सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे। 
22 से 30 अक्टूबर 2015 तक ब्लॉक स्तरीय गतिविधी होगी:- प्रतिभा खोज योजना के तहत ब्लॉक स्तर पर शिविर आयोजित किये जायेगें। जिसमें बुरहानपुर ब्लॉक के लिये जनपद पंचायत सभागार में और खकनार हेतु नेपानगर आडोटोरियम में शिविर होगें।   
 -------
क्रमांक-21/869/2015                         सचिन/पं.ग्रा.वि./फोटो  
समाचार
जिले को राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत 11 पावर टीलरों का लक्ष्य प्राप्त 
बुरहानपुर/9 अक्टूबर/राज्य शासन कृषि अभियांत्रिकी विभाग द्वारा जिले में राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत वर्ष 2015-16 हेतु पावर टीलर हेतु लक्ष्य प्राप्त हुआ है। 
किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग उपसंचालक श्री एम.एस.देवके ने बताया कि योजना के तहत पावर टीलर जो 8 एच.पी. व उससे अधिक पर 11 पावर टीलर का लक्ष्य निर्धारित है। पावर टीलर पर महिला कृषक, लघु एवं सीमान्त कृषक के लिये योजना अनुदान 75 हजार तथा टॉप अप अनुदान 30 हजार रूपये इस प्रकार कुल 105000/- अनुदान एवं अन्य किसान हेतु 90000/- रूपये का प्रावधान है। योजना का लाभ किसानों को ‘‘पहले आओ पहले पाओं‘‘ के आधार दिया जायेगा। 
-------
क्रमांक-22/870/2015                           सचिन/कृषि /फोटो 

समाचार
प्रतिभा खोज योजना हेतु विद्यार्थियों की भागीदारी सुनिश्चित करने बैठक संपन्न
बुरहानपुर/10 अक्टूबर/ राज्य शासन निर्देशानुसार प्रतिभा खोज योजना हेतु आज 10 अक्टूबर 2015 को शासकीय महाविद्यालय बुरहानपुर में प्रचार्य डॉ. सुषील सोमवंषी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई। इस दौरान योजनान्तर्गत नृत्य, गायन, वादन, साहित्य, षिल्प एवं चित्र आदि विधाओं में महाविद्यालय के अधिक से अधिक विद्यार्थियों की भागीदारी सुनिष्चित करने और उन्हें महाविद्यालय स्तर, जिला स्तर, संभाग स्तर तथा अंतिम रूप से आयोजित सिंहस्थ कुंभ मेले में प्रतिभा दिखाने के अवसर प्रदान करने विस्तृत चर्चा की गई। बैठक में डॉ. प्रमोद गुप्ता, डॉ. संगीता सोमवंषी, डॉ. प्रमोद चौधरी, प्रो. रफीक अंसारी, प्रो. भरत कुमार मीणा एवं ग्रंथपाल कु. सोनल विवरेकर सहित समस्त सहा. प्राध्यापक उपस्थित मौजूद रहे। 
-------
क्रमांक-23/871/2015                               सचिन/शिक्षा  
समाचार 
नारी शक्ति पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित
बुरहानपुर/10 अक्टूबर/भारत सरकार के महिला बाल विकास विभाग के नवीन निर्देशों के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रत्येक वर्ष 8 मार्च को नारी शक्ति पुरस्कार दिए जाएंगे। ये पुरस्कार उन महिलाओं/संगठनों को दिए जाएंगे, जिन्होंने महिला सशक्तिकरण, स्वच्छता के क्षेत्र में अद्भुत कार्य और सामाजिक परिवर्तन के लिए उत्कृष्ट एवं अविस्मरणीय कार्य किया हो। नारी शक्ति पुरस्कार के लिए  20 केडर बनाए गए हैं, जिनमें से 11 संस्थागत व 9 व्यक्तिगत केडर निर्धारित हैं। निर्धारित वर्ग के अनुसार संस्थागत पुरस्कार में 2 लाख रूपये व व्यक्तिगत पुरस्कार में एक लाख रूपये की नकद राशि एवं प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। पुरस्कारों से संबंधित विस्तृत जानकारी जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी के कार्यालय से कार्यालयीन समय में प्राप्त की जा सकती है।
-------
क्रमांक-24/872/2015                               सचिन/जि.म.स.

समाचार
समय सीमा बैठक संपन्न
एमडीएम कार्यक्रम अंतर्गत मेन्यू अनुसार बच्चों को भोजन दिया जाये-श्रीमती सिंथिया  
कलेक्टर ने समय सीमा बैठक में संबंधित अधिकारियों को दिये निर्देश 
बुरहानपुर/12 अक्टूबर/ सोमवार को समय सीमा बैठक में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने जिले में मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अंतर्गत शालाओं में बच्चों को मेन्यू अनुसार गुणवत्तापूर्ण भोजन देने के संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि भोजन कीचन शेड में ही बनना चाहिए। कलेक्टर ने सभी विभाग प्रमुखों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे जब भी फिल्ड में जायें वहां स्कूलों में एमडीएम, बच्चों की उपस्थिति और क्वालिटी मॉनीटरिंग अवश्य करें। उसकी रिपोर्ट भी प्रस्तुत करें। ताकि कमियां निकलने पर उसका निराकरण किया जाये। 
कलेक्टर ने समय सीमा बैठक में जनसुनवाई और पीजीआर प्रकरणों की गहनता से समीक्षा की। उन्होनें सभी विभाग प्रमुखों को उक्त प्रकरणों को शीघ्रता से निराकरण करने के निर्देश दिये। उन्होनें जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि बोरी में अतिरिक्त कक्ष एवं धुलकोट हॉयर सेकेण्डरी स्कूल में विज्ञान संकाय हेतु शिक्षक की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। सभी विभाग प्रमुखों से कहा कि सभी राजस्व अधिकारियों द्वारा निरीक्षण दौरान तैयार रिपोर्ट पर नियमानुसार कार्यवाही करें। बैठक में अपर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल, सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे, एसडीएम नेपानगर श्री शंकरलाल सिंगाडे़, डिप्टी कलेक्टर श्री सुमेरसिंह मुजाल्दा व डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य सहित सभी अधिकारीगण उपस्थित रहे। 
उच्च शिक्षा ऋण हेतु शिविर का शेड्यूल बनाये:- समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को उच्च शिक्षा ऋण वितरण हेतु शिविर का शेड्यूल बनाने के निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि समस्त बैंकर्स को अपने-अपने क्षेत्र में उच्च शिक्षा ऋण वितरण हेतु शिविरों का आयोजन करवाया जाये। साथ ही ऋण वितरण की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। 
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एच.एन. नायक ने डेंगू एवं स्वाईन फ्लू व मलेरिया की रोकथाम के संबंध में जानकारी देते हुए सभी विभाग प्रमुखों से अनुरोध किया कि अपने-अपने घरों में सीमेंट की टंकी, प्लास्टिक की टंकी, पानी का हौद, नांद, मटका, घरों में रखे फूलदान, जिसमें अक्सर मनी प्लान्ट लगाते है, पशुओं के पानी पीने के स्थान, टायर, टूटे-फूटे सामान, जिसमें वर्षा का पानी जमा होता रहता है। जिसे सात दिवस में खाली करें। ताकि मच्छरों की उत्पत्ति को रोका जा सकें। उन्होनें शिक्षा विभाग से कहा कि वे विद्यार्थियों को प्रार्थना के समय डेंगू एवं स्वाईन फ्लू व मलेरिया को रोकने संबंधी जानकारी देवे। 
आधार पंजीयन कार्य में प्रगति लाये:- बैठक में कलेक्टर ने जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी को ई-गवर्नेंस प्रबंधक से समन्वय कर 5 वर्ष से कम उम्र आयु वाले बच्चों के आधार कार्ड हेतु पंजीयन करवाने के निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि शेड्यूल बनाकर इस कार्य में प्रगति लाये। 
साधिकार अभियान के तहत ग्राम दल बनाया जायेगा। यह दल ग्रामीण विकास की सभी योजना, राजस्व विभाग के कार्य, श्रम विभाग की योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना पेंशन आदि समस्त योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों का सर्वे उपरांत देगा। 
यह भी दिये निर्देश
सभी निकायों को प्रतिभा खोज योजना के प्रचार-प्रसार हेतु चिन्हित स्थानों पर फ्लैक्स लगाकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के।  
सभी निकायों को आधार और बैंक खाता नंबर की समग्र पोर्टल पर एन्ट्री और डी-डुप्लिेकशन की कार्यवाही में तेजी लाने के। 
भू अभिलेख अधीक्षक को फसल कटाई एवं सर्वे कार्य पूर्ण कर साफ्टवेयर में एन्ट्री करवाने के। 
सभी निकायो को 01 अप्रैल 2014 से अब तक पेंशनरों की सूची निकालकर पात्र हितग्राहियों का नाम मिलान करने के। 
सभी विभाग प्रमुख अक्टूबर एवं नवम्बर 2015 तक अपने अधीनस्थ अधिकारी/कर्मचारियों का अवकाश मंजूर ना करने के। 
दोनो जनपद सीईओ को मुख्यमंत्री आवास की एन्ट्री साफ्टवेयर पर करवाने के।  
शिक्षा विभाग को जाति प्रमाण पत्रों के आवेदन टीम लगाकर एकत्र कर जल्द से जल्द प्रस्तुत करने के। 
सभी विभाग प्रमुखों को सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के। 
समस्त तहसीलदारों को भूदान भूमि से अतिक्रमण हटाने के। 
और समस्त कार्यालय प्रमुख को अपने-अपने विभाग में सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारी व कर्मचारियों का पंजीयन कराकर प्रकरण बनाकर शीघ्र पेंशन कार्यालय में प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। 
टीपः- फोटोग्राफ संलग्न क्र-1 
-------
क्रमांक-25/874/2015                         सचिन/प्रशासन/फोटो 
समाचार 
प्रतिभा खोज योजना की जानकारी हेतु क्षेत्रवार प्रभारी नियुक्त
बुरहानपुर/12 अक्टूबर/ राज्य शासन निर्देशानुसार प्रतिभा खोज योजना के अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार हेतु शासकीय महाविद्यालय बुरहानपुर में आज 12 अक्टूबर 2015 को प्राचार्य डॉ. सुषील सोमवंषी की अध्ययक्षता में बैठक संपन्न हुई। बैठक में महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापकों एवं कार्यालयीन स्टॉफ के सदस्यों से गहन विचार विमर्ष कर प्रतिभा खोज योजना की विधाओं जैसे - नृत्य, गायन, वादन, साहित्य, षिल्प, चित्र में आमजनों की भागीदारी हेतु बुरहानपुर शहर को निम्न क्षेत्रों में विभाजित कर उनके प्रभारियों को प्रचार प्रसार हेतु दिनांक 12 से 15 अक्टूबंर 2015 तक दायित्व सौपा गया है। जिनमें
डॉ. प्रमोद गुप्ता मो.नं. (9826755523) को गांधी चौक, फव्वारा चौक, शाही किला रोड, खैराती बाजार, इतवारा, नया मोहल्ला, माडंूमल चौराहा, राजपुरा ।
प्रो. रफीक अंसारी को (9039911326) को जयस्तम्भ, हरीरपुरा, मोमिनपुरा, लोहारमंडी, आलमगंज व सिंधीपुरा। 
श्री कैलाष नागर मो.नं. (9827507455) को महाजनापेठ, षिकारपुरा, रास्तीपुरा, प्रतापपुरा, सिलमपुरा एवं शनवारा। 
कु. सोनल विवरेकर को सिंधीबस्ती, इंदिरा कॉलोनी, न्यू इंदिरा कॉलोनी, आदर्ष कॉलोनी, बैंक कॉलोनी। 
श्री अंकीत चौहान मो.नं. (9617856353) को सरस्वती नगर, सलीम कॉलोनी, प्रगतिनगर, गंगानगर, गुरू गोविन्दसिग कॉलोनी।  
श्री दुर्गेष सराठे मो.नं. (8871176604) को इन्द्रजीत नगर, नारायण नगर, मिलचाल, कॉरनेषन बाजार, चिंचाला, षिवाजी नगर, गोपाल नगर, अर्जुन नगर, उपकार नगर, गांधी कॉलोनी, ग्राम पातांेडा, ग्राम चिंचाला।  
डॉ. प्रमोद चौधरी (9827347696) को ग्राम बिरोदा, सिरसौदा, बहादरपुर, लोनी, शाहपुर, दापोरा, चापोरा, जैनाबाद, दर्यापुर, इच्छापुर का दायित्व सौंपा गया है। यह सभी प्रतिभा खोज की जानकारी अपने-अपने क्षेत्र में देगें। ताकि अधिक से अधिक लोगों को योजना से लाभान्वित किया जा सकें। उपरोक्त किसी भी क्षेत्र में रहने वाले तथा किसी भी विधा में रूचि रखने वाले प्रबुध्द जनो से अपील है कि वे शासकीय महाविद्यालय बुरहानपुर में 15 अक्टूबंर 2015 तक अपनी प्रस्तुति देकर ब्लॉक स्तर के चयन हेतु निषुल्क आवेदन प्राप्त करे। अधिक जानकारी हेतु महाविद्यालय के दूरभाष क्रमंाक 07325-251533 सम्पर्क करें। 
-------
क्रमांक-26/875/2015                        सचिन/उच्च.शि./फोटो

समाचार
जनसुनवाई में कलेक्टर आवेदकों से रूबरू हुई
प्रकरणों का निराकरण करने अधिकारियों को दिये निर्देश 
बुरहानपुर/13 अक्टूबर/ राज्य शासन द्वारा प्रायोजित प्रत्येक मंगलवार की तरह आज भी जनसुनवाई में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया आवेदकों से रूबरू होकर विभिन्न प्रकार की शिकायतें, समस्याऐं और मांग संबंधित प्रकरणों पर जनसुनवाई की। जनसुनवाई में लगभग 34 आवेदन प्राप्त हुए। 
मुख्यमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाया जाये
जनसुनवाई में जम्बूपानी निवासी सुखलाल पिता रेमसिंग ने बताया कि मुझें मुख्यमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाये जाने की मांग की। कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बुरहानपुर को पात्रता के आधार पर हितगाही को लाभान्वित करने निर्देश दिये। 
वार्ड में साफ-सफाई की जाये
ईतवारा में निवासरत सागर रमेशचन्द्र मोदी ने आवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि वार्ड में साफ-सफाई नही हो रही है। कलेक्टर ने नगर निगम को शीघ्र मच्छरों के लिये स्प्रे और नालियों की साफ-सफाई करवानेे निर्देशित किया। कलेक्टर ने इस दौरान प्रकरणों का निराकरण करने आवेदकों को आश्वस्त किया। आवेदकों को राहत दिलाने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। जनसुनवाई में बीपीएल, अतिक्रमण, स्वास्थ्य, पेयजल, विद्युत बिल आदि आवेदन प्राप्त हुए। कलेक्टर ने संबंधित विभागों को आवेदन निराकरण हेतु प्रेषित किये। जनसुनवाई में डिप्टी कलेक्टर श्री एम.एल.आर्य व डिप्टी कलेक्टर श्री सुमेरसिंह मुजाल्दा सहित अन्य अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे। 
टीपः- फोटोग्राफ संलग्न क्र.1  
-------
क्रमांक-27/876/2015                        सचिन/प्रशासन/फोटो
समाचार 
रैली, जुलुस, शोभायात्रा धरना प्रदर्शन हेतु प्रतिबंधात्मक आदेश जारी 
बुरहानपुर/13 अक्टूबर/ कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती जे.पी. आईरीन सिंथिया ने दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा-144 के अन्तर्गत जन सामान्य के हित/जानमाल एवं लोक शांति को बनाये रखने के लिये बुरहानपुर नगर निगम सीमा में प्रतिबंधात्मक आदेष जारी किया है। जारी निर्देशों में कहा गया है कि कोई भी रैली, जुलुस, शोभायात्रा, धरना, प्रदर्षन आदि सार्वजनिक सभा/आयोजन बिना सक्षम प्राधिकारी के अनुमति के प्रतिबंधित रहेंगे। म0प्र0 कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 के प्रावधानों के अन्तर्गत ध्वनि विस्तार यंत्रों का उपयोग बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के प्रतिबंधित रहेंगे। 
बिना सक्षम प्राधिकारी की अनुमति के मार्ग में कोई भी मंच नहीं बनाया जायेगा। उपरोक्त आदेशों का उल्लंघन करने पर संबंधित आयोजन में शामिल प्रत्येक व्यक्ति जारी प्रतिबंधात्मक आदेष के उल्लंघन का दोषी होगा। यह प्रतिबंधात्मक आदेश पुलिस अधीक्षक बुरहानपुर के प्रस्तुत प्रतिवेदन पर जारी किया गया है। 
-------
क्रमांक-28/877/2015                             सचिन/प्रशासन

समाचार
जिले में ‘‘साधिकार अभियान‘‘ 16 से 26 अक्टूबर तक मनाया जायेगा
डोर टू डोर सर्वे कर पात्र हितग्राही होगे चिन्हित 
बुरहानपुर/14 अक्टूबर/ जिले में ‘‘साधिकार अभियान‘‘ 16 से 26 अक्टूबर तक मनाया जायेगा। राज्य शासन द्वारा प्रत्येक पात्र व्यक्ति का यह अधिकार है कि वह शासकीय योजनाओं का लाभ प्राप्त करें। यह अभियान पात्र व्यक्तिायों को हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ उनके अधिकार के रूप में प्रदान करने का प्रयास है। इस हेतु जिला पंचायत सभागार में बैठक संपन्न हुई। 
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने कहा कि समयबद्ध जारी कार्यक्रम अनुसार प्रत्येक ग्राम पंचायत में दो दिवस तक शिविर लगाया जायेगें। साधिकार अभियान के तहत ऐसी हितग्राही मूलक योजनाओं को चिन्हित किया गया। जिसमें कोई अधिकतम लक्ष्य निर्धारित नही है। जिसका प्रत्येक पात्र व्यक्तियों का लाभ दिया जा सकता है। उक्त अभियान के तहत शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं को शामिल किया गया है। साथ में शिविरों में पात्र व्यक्तियों के प्राप्त आवेदनों की सूची तैयार कर नगरीय व ग्रामीण निकायों में जमा किये जायेगें। प्रत्येक ग्राम हेतु एक नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये है। जो परख कार्यक्रम के नोडल अधिकारी है। जो ग्राम के साधिकार अभियान के क्रियान्वयन की जिम्मेदारियों का निर्वहन करेगें। 
अभियान हेतु प्रत्येक ग्राम के लिये 8 से 10 कर्मचारियों का एक ग्राम साधिकार दल का गठन करने निर्देश दिये गये है। जिसमें संबंधित ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी, सरपंच, रोजगार सहायक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका, आशा कार्यकर्ता, ग्राम कोटवार और ग्राम पंचायत स्तर पर उपलब्ध शासकीय कर्मचारी शामिल होगें। इसी प्रकार नगरीय निकायों में वार्डवार वार्ड प्रभारियों को अभियान को सफल बनाने कार्य में सहयोग प्रदान करेगें। साथ ही जब शिविर लगाया जाये वहा नोडल अधिकारी की उपस्थिति अनिवार्य है। 
इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री बसंत कुर्रे ने कहा कि प्रत्येक ग्राम स्तर पर ग्राम साधिकार दिवस आयोजित किया जायेगा। नियत तिथियों में शिविरों के लिये कोटवारों के माध्यम से मुनादी की जायेगी। शिविरों में नागरिकों से आवेदन प्राप्त किये जायेगे। ग्राम साधिकार दल द्वारा पात्र हितग्राहियों के आवेदन भरेगें। परीक्षण कर टीप सहित नोडल अधिकारी एवं सचिव के हस्ताक्षर से जनपद पंचायत कार्यालय सूची तैयार कर में प्रस्तुत करेगें। ग्राम स्तरीय प्रथम साधिकार दिवस दौरान घर-घर जाकर पात्र व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके फार्म/आवेदन पत्र भरवायें। बैठक में जनपद सीईओं खकनार श्री आर.बी.एस.दण्डौतिया, एकीकृत बाल विकास सेवा कार्यक्रम अधिकारी श्री अब्दुल गफ्फार खान, परियोजना अधिकारी श्री विजय पचौरी, समग्र स्वच्छता श्री प्रवीण गुप्ता सहित अन्य अधिकारीगण व परख के नोडल अधिकारी उपस्थित रहे। 
साधिकार अभियान में यह योजनाऐं है शामिल 
साधिकार अभियान के तहत शिविरों में पात्र परिवारों का गरीबी रेखा में नाम जोड़ना, राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन, राष्ट्रीय विधवा/विकलांग, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, राष्ट्रीय परिवार सहायता, मध्य प्रदेश भवन व अन्य संनिर्माण कर्मकार मण्डल के तहत पात्रताधारियों का पंजीयन एवं नवीन कार्ड, फौती नामांतरण करना, पात्रता पर्ची का वितरण, लाड़ली लक्ष्मी योजनान्तर्गत प्रमाण पत्र जारी करना, समग्र पंजीयन, आधार पंजीयन, स्वच्छता, नवीन बैंक खाता खोलना इत्यादि योजनाओं को सम्मिलित किया गया है। 
-------
क्रमांक-29/878/2015                         सचिन/प्रशासन/फोटो 
समाचार
अनार पौध रोपण पर अनुदान उपलब्ध
बुरहानपुर/14 अक्टूबर/ राष्ट्रीय कृषि विकास योजनांतर्गत उद्यान विभाग द्वारा अनार का बगीचा लगाने हेतु अनुदान दिया जाना है। योजनान्तर्गत कम से कम आधा हेक्टेयर एवं अधिकतम 5ण्00 हेक्टेयर पर अनुदान जायेगा। यह योजना अधिक घनत्व वाले पौध रोपण मय ड्रिप संयंत्र स्थापना पर एक हेक्टेयर की लागत रूपये 1 लाख 50 हजार पर उद्यान विभाग द्वारा प्रथम वर्ष में 50 प्रतिशत यथा अधिकतम रूपये 75 हजार ( प्रथम60 प्रतिशत $ द्वितीय वर्ष 20 प्रतिशत $ तृतीय वर्ष 20 प्रतिशत) अनुदान दिया जावेगा। 
उद्यान उपसंचालक सुश्री शानू मेश्राम ने बताया कि उच्च घनत्व अनार पौघ रोपण में कतार से कतार की दूरी 5 मिटर एवं पौघे से पौधे की दूरी 3 मिटर होना चाहिये। इस  प्रकार पौध रोपण से प्रति हेक्टेयर 667 पौघे रोपित किये जावे। लागत एवं अनुदान की राशि में पौघ रोपण एवं ड्रिप संयंत्र की स्थापना की राशि सम्मिलित हैं। इस योजना में हितग्राहियों को 3 वर्ष तक अनुदान दिये जाने का प्रावधान है। द्वितीय वर्ष में 80 प्रतिशत एवं तृतीय वर्ष में 90 प्रतिशत पौघे जीवित होना अनिवार्य हैं। अधिक जानकारी के लिये वरिष्ठ उद्यान विकास अधिकारी, विकास खण्ड खकनार/बुरहानपुर अथवा कार्यालय उप संचालक उद्यान, संयुक्त जिला कार्यालय से सम्पर्क किया जा सकता हैं।  
-------
क्रमांक-30/879/2015                                सचिन/उद्यान 

समाचार
मदिरा के अवैध परिवहन में लगे वाहन स्वामी को नोटिस जारी 
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/ कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने गत दिनों मदिरा के अवैध परिवहन में संलग्न वाहन क्रमांक एम.पी.-29-क्यू-4393 के वाहन मालिक को नोटिस जारी किया है। नोटिस का जवाब 31 अक्टूबर 2015 तक प्राप्त ना होने पर वाहन को राजसात कर लिया जायेगा। 
 उल्लेखनीय है कि यह वाहन वर्तमान में वाणिज्यकर चैक पोस्ट भोटा फाटा के पार्किंग में खड़ा है तथा वाहन से 704 पेटी विदेशी मदिरा जब्त की गई थी। 
-------
क्रमांक-31/880/2015                              सचिन/आबकारी 
समाचार
गौ पशु पालकों के लिए पुरस्कार योजना
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/ भारतीय नस्ल के गौ वशीय पशुओं के पालन को बढावा देने एवं अधिक दुग्ध उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए गोपाल पुरूस्कार योजना संचालित की गई है। योजना सभी वर्ग के पशुपालकों के लिए है। जिनके पास भारतीय नस्ल की गाय उपलब्ध हो तथा गाय का दुग्ध उत्पादन 04 लीटर या उससे अधिक हो वह पशुपालक अपने आवेदन को निकटतम पशु चिकित्सा संस्था में प्रस्तुत करेंगे। जिला स्तर पर प्रतियोगिता में गायों का चयन विकासखंड स्तर की प्रतियोगिता में सम्मिलित हुई गायों से ही किया जावेगा। विकासखंड स्तरीय एवं जिला स्तरीय पुरस्कार निम्नानुसार रहेगें। विकासखंड स्तरीय पुरस्कार इस प्रकार रहेगें। प्रथम पुरस्कार रू. 10 हजार, द्वितीय पुरस्कार रू. 7 हजार 500, तृतीय पुरस्कार रू. 5 हजार, एवं जिला स्तरीय पुरस्कार प्रथम रू. 50 हजार, द्वितीय पुरस्कार रू. 25 हजार, तृतीय पुरस्कार रू. 15 हजार इसी प्रकार सांत्वना पुरस्कार रू. 5 हजार (प्रत्येक 07 गौ पालको को) दिया जावेगा।
-------
क्रमांक-32/881/2015                              सचिन/पशु.वि.
समाचार 
पिछड़ा वर्ग की छात्रवृत्ति का पोर्टल 31 अक्टूबर तक खुला रहेगा
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों हेतु संचालित पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना का पोर्टल 9 से 31 अक्टूबर तक के लिये पुनः खोला गया है। समस्त शासकीय एवं अशासकीय शैक्षणिक संस्थाओ के प्राचार्यो को आदेशित किया गया है कि वे ऐसे प्रकरण जिनमें विद्यार्थियों द्वारा नियमानुसार एवं पात्रता अनुसार छात्रवृत्ति पोर्टल पर अपने आवेदनो को ऑन लाईन भरकर लॉक कर दिया गया है। किन्तु उनकी छात्रवृत्ति स्वीकृत नही हो सकी है। ऐसे प्रकरणो में नियमानुसार एवं पात्रतानुसार निराकरण किया जाये। ताकि किसी भी पात्र विद्यार्थी को छात्रवृत्ति राशि से वंचित न होना पड़े। 
समस्त शैक्षणिक संस्थाओ के पदाधिकारियो को निर्देशित किया है कि वे शासन के उक्त निर्देशानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करें, अन्यथा की स्थिति में वे स्वयं दोषी माने जायेंगे एवं उनके विरूद्ध कठौर कार्यवाही की जायेगी। 
-------
क्रमांक-33/882/2015                                सचिन/पि.व.क.
समाचार 
प्रतिभा खोज योजना में आयु सीमा का बंधन समाप्त
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/संस्कृति विभाग द्वारा सिंहस्थ 2016 के पूर्व प्रदेशव्यापी प्रतिभा खोज प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। पूर्व में विभाग द्वारा प्रतियोगिता में शामिल होने के लिये प्रतिभागियों की अधिकतम उम्र सीमा 45 साल नियत की गई थी। अब अधिकतम आयु सीमा का बंधन समाप्त कर दिया गया है।    
-------
क्रमांक-34/883/2015                                सचिन/पं.ग्रा.वि.
समाचार 
प्रदूषण जॉंच केन्द्रों की स्थापना के लिए इच्छुक व्यक्ति आवेदन करें
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/प्रदेश सरकार के परिवहन विभाग ने मोटरयानों के प्रदूषण जॉंच केन्द्रों की स्थापना के संबंध में नई नीति जारी की है। इसके तहत इन केन्द्रों की स्थापना के लिए इच्छुक व्यक्तियों व संस्थाओं से आवेदन आमंत्रित किए गए है। अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी श्री सुरेन्द्र गौतम ने बताया कि विस्तृत योजना परिवहन विभाग की वेबसाईट ूूूण्उचजतंदेचवतजण्वतह पर उपलब्ध है। भरा हुआ आवेदन 1000 रूपये निर्धारित शुल्क के साथ मय प्रमाण पत्र सहित अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में 30 अक्टूबर तक जमा किये जा सकते है। आवेदक कम से कम हाई स्कूल परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए। उसकी आयु 18 वर्ष से कम नही होना चाहिए। विस्तृत जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में कार्य दिवसों में परिवहन कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता है। 
-------
क्रमांक-35/884/2015                              सचिन/परि.वि.
समाचार 
संभागायुक्त होंगे निर्वाचक नामावली संक्षिप्त पुनरीक्षण के रोल आर्ब्जवर
बुरहानपुर/16 अक्टूबर/ भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय और राज्य शासन ने प्रदेश के संभागायुक्तों को फोटो निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2016 का इलेक्टोरल रोल आब्जर्वर नियुक्त किया है। संभागायुक्त अपने-अपने संभाग के जिलों के लिए रोल आब्जर्वर होंगे। 
-------
क्रमांक-36/885/2015                                सचिन/निर्वा.

समाचार
निरूशक्त विवाह प्रोत्साहन योजना 
अब लाभ लेने के लिये करना होगा एक वर्ष के भीतर आवेदन
बुरहानपुर/17 अक्टूबर/ निरूशक्त विवाह प्रोत्साहन योजना में लाभ लेने के लिये अब दम्पत्तियों को विवाह के एक साल के अंदर आवेदन करना होगा। पहले इसकी अवधि तीन माह तक थी। अब एक साल के अंदर आवेदन न करने पर योजना का लाभ नहीं मिल पायेगा। प्रदेश में निरूशक्त व्यक्ति (समान अवसर अधिकार, संरक्षण और पूर्ण भागीदारी) अधिनियम में निरूशक्त व्यक्तियों के सामाजिक पुनर्वास के उद्देश्य से विवाह प्रोत्साहन योजना संचालित है। 
-------
क्रमांक-37/886/2015                                सचिन/सा.न्याय
समाचार
प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में बुरहानपुर जिले के 3 गांव शामिल
बुरहानपुर/17 अक्टूबर/ केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय ने मध्यप्रदेश के 262 अनुसूचित-जाति बहुल गाँव के विकास के लिये 52 करोड़ 40 लाख रुपये स्वीकृत किये हैं। यह ऐसे गाँव हैं, जहाँ की आबादी में 50 प्रतिशत से अधिक लोग अनुसूचित-जाति के हैं। यह राशि प्रति गाँव 20 लाख रुपये की दर से स्वीकृत की गयी है। उल्लेखनीय है कि इस योजना में मध्यप्रदेश को पहली बार शामिल किया गया है। केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गहलोत की पहल पर स्वीकृत इस राशि में से 44 करोड़ 70 लाख रुपये देश के अनुसूचित-जाति कल्याण विभाग को जारी कर दिये गये हैं। शेष 7 करोड़ 70 लाख रुपये शीघ्र जारी किये जायेंगे।
       योजना में जिन गाँव के लिये राशि स्वीकृत की गयी है, उनमें भोपाल जिले के 10, सीहोर और रायसेन 5-5, राजगढ़ 4, विदिशा 7, ग्वालियर 15, शिवपुरी 13, गुना 5, अशोकनगर 4, दतिया 2, शहडोल एक, डिण्डोरी 4, होशंगाबाद एक, बैतूल 3, हरदा एक, जबलपुर 2, नरसिंहपुर एक, छिन्दवाड़ा 2, सिवनी एक, सागर 4, दमोह 3, पन्ना 5, छतरपुर 2, टीकमगढ़ 3, श्योपुर एक, मुरैना 7, भिण्ड 4, इंदौर 22, अलीराजपुर 2, बड़वानी एक, खण्डवा 5, बुरहानपुर 3, उज्जैन 40, देवास 10, रतलाम 27, शाजापुर 4, आगर-मालवा 9, मंदसौर 16, नीमच और रीवा दो-दो तथा सतना जिले के 4 गाँव शामिल हैं।
-------
क्रमांक-38/887/2015                                सचिन/सा.न्याय
समाचार
ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया पर अगले सत्र के लिये सुझाव आमंत्रित
बुरहानपुर/17 अक्टूबर/ ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया पर सत्र 2016-17 के लिये सभी कुल सचिव और प्राचार्य से सुझाव आमंत्रित किये गये हैं। सुझाव 30 अक्टूबर तक ऑनलाइन भेजना हैं। आयुक्त उच्च शिक्षा ने कहा है कि ऑनलाइन प्रवेश नियमों में संशोधन, सॉफ्टवेयर में सुधार, कॉलेज लेवल काउंसलिंग समाप्त किये जाने के विकल्प सहित अन्य विषयों पर सुझाव दिये जा सकते हैं। यह सुझाव प्रवेश प्रक्रिया को और अधिक प्रभावी बनाने के उद्देश्य से माँगे गये हैं। 
-------
क्रमांक-39/888/2015                                सचिन/उ.शिक्षा

समाचार 
समय सीमा की बैठक संपन्न 
कलेक्टर ने दिये अधिकारियों को निर्देश 
बुरहानपुर/19 अक्टूबर/ जिले में शासन की महत्वकांक्षी योजना मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजनान्तर्गत शीघ्र लक्ष्य पूर्ति करें। यह निर्देश समय सीमा की बैठक में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने दिये। उन्होनें कहा कि हाथकरघा और पिछड़ा वर्ग विभाग एलडीएम से समन्वय स्थापित कर योजना में लक्ष्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें। साथ ही जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक से कहा कि बैंकों के सहयोग से महाविद्यालयों में उच्च शिक्षा ऋण हेतु शिविर लगाकर रिपोर्ट प्रस्तुत करें।  
कलेक्टर ने जनसुनवाई और पीजीआर प्रकरणों की समीक्षा करते हुए कहा कि सभी विभाग प्रमुख उक्त प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण करें। उन्होनें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से जिले में स्वाईन फ्लू व डेंगू एवं मलेरिया संबंधी जानकारी पूछी। उन्होनें इस हेतु सीएमएचओ व अधीनस्थ अमले को सतर्क रहने के निर्देश दिये। साथ ही जनसमुदाय को उक्त बीमारियों की रोकथाम व नियंत्रण संबंधी जानकारी अवश्य दी जायेे। आगामी दिवसो में अंत्योदय मेले का आयोजन किया जाना है। जिसमें शासन की योजनाओं से पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया जावेगा। इसके लिये समस्त विभाग अभी से तैयारियां कर लेवे। ताकि मेले में पात्र हितग्राही को योजना का लाभ दिया जा सकें। 
कलेक्टर ने कहा कि जिले में साधिकार अभियान संचालित है। जिसमें समस्त विभाग प्रमुख अधीनस्थ अधिकारी व कर्मचारी को उपस्थित रहने निर्देशित करें। उक्त अभियान के तहत शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं को शामिल किया गया है। शिविरों में आवेदन पत्रों की सूची तैयार कर नगरीय व ग्रामीण निकायों में प्रस्तुत करें। पोर्टल पर विलेज मास्टर प्लान के अंतर्गत पंचायत की मांग अनुसार एन्ट्री अनिवार्य रूप से की जायें। इस कार्य को दो दिवस में पूर्ण कर लेवे। समस्त निकाय डी-डूप्लीकेशन व आधार कार्ड पंजीयन कार्य में तेजी लाये। बैठक में अपर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल, सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे, एसडीएम के.आर.बडोले, नेपानगर एसडीएम श्री शंकरलाल सिंगाडे, डिप्टी कलेक्टर श्री सुमेरसिंह मुजाल्दा व श्री एम.एल.आर्य सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे। 
कलेक्टर ने बैठक में समस्त निकायों को अपने-अपने क्षेत्र में जल संरक्षण हेतु बोरी बंधान, स्टॉप डेमो पर गेट लगवाने के निर्देश दिये। ताकि वर्षा पानी को संग्रहित किया जा सके। साथ ही उन्होनें समस्त विभाग प्रमुखो से कहा कि जब फील्ड में जाये तब किसी स्थान पर पानी बहते हुए दिखाई देता है तो संबंधित निकाय को इसकी जानकारी अवश्य रूप से देवे। 
यह भी दिये निर्देश
समस्त निकाय को महाविद्यालय, स्कूलों व अपने-अपने क्षेत्र में प्रतिभा खोज योजना हेतु जन जागरूकता लाने व आवेदन पत्र भरवाने के। 
दोनों जनपद सीईओं को शौचालय निर्माण की पोर्टल में एन्ट्री करवाने के। 
शिक्षा विभाग को जाति प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र जमा करने के। 
सभी विभाग प्रमुखों को सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के। 
और समस्त कार्यालय प्रमुख को अपने-अपने विभाग में सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारी व कर्मचारियों का पंजीयन अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिये। 
-------
क्रमांक-40/890/2015                         सचिन/प्रशासन/फोटो 
समाचार
मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम की कक्षा आयोजित 
नियुक्त मेंटर्सों ने अपने-अपने विषयों पर विद्यार्थियों को व्याख्यान दिये 
बुरहानपुर /18 अक्टूबर/- मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम के अंतर्गत समाजकार्य स्नातक पाठ्यक्रम (सामुदायिक नेतृत्व) की कक्षा आयोजित हुई। यह कार्यक्रम जन अभियान परिषद विकासखण्ड बुरहानपुर के संयोजन में स्थानीय सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय में आयोजन किया जा रहा है। कक्षा में सभी विद्यार्थी सम्मिलित हुए। 
पाठ्यक्रम हेतु नियुक्त समस्त मेंटर्सो ने अपने-अपने विषयों पर व्याख्यान दिये। इस कड़ी में मोहन जोषी ने पोषण एवं स्वास्थ्य की अवधारणा को व्यक्ति के दैनिक जीवन व परिवार के पोषण को परिवार के सुझबुझ व समझ से स्वस्थ कैसे रहे विषय पर समझाईष दी। वहीं मनोज राजपुत ने वर्तमान परिवेष में संचार में जीवन कौषल का महत्व पर प्रकाष डाला। नेतृत्व विकास विषय की षिक्षा श्री दिनेष शंखपाल ने विद्यार्थियों को दी। उन्होनें बताया कि लीडर को नीडर साहसी व वर्तमान परिस्थितियों को किस नेतृत्व की आवष्यकता है। श्री महेष कुमार खराडे़ ने छात्र-छात्राओं को बताया कि विकास एक सतत् प्रक्रिया है। विकास की संभावनाओं पर प्रकाष डालते हुए विद्यार्थियों को विकास के आयाम, समस्याऐं व मुद्दें बतलायें। साथ ही विद्यार्थियों के गु्रप से स्वच्छता संबंधी जानकारी एकत्र की गई। श्रीमती सुनंदा चौबे ने कक्षा में उपस्थित विद्यार्थियों को बाल संरक्षण विषय पर व्याख्यान दिया। जिला समन्वयक डॉ.सुप्रिती यादव भी कक्षा में उपस्थित होकर विद्यार्थियों को मार्गदर्षन दिया। 
-------
क्रमांक-41/891/2015                         सचिन/ज.अ.प./फोटो 
टीपः- फोटोग्राफ संलग्न 
समाचार
सभी अधिकारी मिलकर प्रदेष को स्वर्णिम व विकसित बनाने में भागीदार बनें
- उपाध्यक्ष राज्य योजना आयोग श्री जैन
बुरहानपुर, बड़वानी, खरगोन व खण्डवा की वार्षिक योजना स्वीकृत
बुरहानपुर/17 अक्टूबर/ - मध्य प्रदेष राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री बाबूलाल जैन ने कहा है कि प्रदेष सरकार समाज के सबसे पिछड़े वर्ग के कल्याण के लिए कृतसंकल्पित है तथा मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में तेजी से प्रदेष का विकास हो रहा है। सभी अधिकारी कर्मचारी मिलकर मध्य प्रदेष को स्वर्णिम व विकसित राज्य बनाने में भागीदार बनें। श्री जैन आज कलेक्ट्रेट खण्डवा के सभाकक्ष में कुल चार जिलांे खण्डवा, खरगोन, बुरहानपुर व बड़वानी की वार्षिक योजना स्वीकृति संबंधी बैठक में संबोधित कर रहे थे। बैठक में योजना आयोग के प्रमुख सलाहकार श्री राजेन्द्र मिश्रा, प्रमुख सलाहकार श्री मंगेष त्यागी, सलाहकार श्री पी.सी.बारसकर एवं अर्थषास्त्री डॉ. बी.एल.शर्मा, सहित विभिन्न अधिकारी भी उपस्थित थेे। बैठक में खण्डवा कलेक्टर डॉ. एम.के.अग्रवाल, खरगोन कलेक्टर श्री नीरज दुबे, बड़वानी कलेक्टर श्री अजय गंगवाल, बुरहानपुर कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया, के अलावा चारों जिलो के पुलिस अधीक्षक, जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, वनमण्डलाधिकारी सहित सभी प्रमुख विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे। 
उपाध्यक्ष श्री जैन ने इस अवसर पर संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व के वर्षो में वार्षिक योजना स्वीकृति के लिए प्रदेष के सभी जिलो से अधिकारियों को भोपाल आना पड़ता था, लेकिन प्रषासनीक विकेन्द्रीकरण के क्रम में अब जिला स्तर पर राज्य योजना आयोग के अधिकारी आकर संबंधित जिलों के कलेक्टर व जिला अधिकारियों से चर्चा कर जिले में ही उनकी वार्षिक योजना स्वीकृत करते है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे प्रदेष के विकास और गरीब के कल्याण के लिए कार्य करें तथा स्वीकृत योजनाओं को समय सीमा में पूर्ण कराने का संकल्प ले ताकि प्रदेष तेजी से विकास कर सके। उन्होंने कहा कि योजनाओं के क्रियान्वयन में देरी होने से निर्माण की लागत बढ़ती है जिससे प्रदेष का विकास प्रभावित होता है। उन्होंने कहा कि योजना की स्वीकृति के समय ही यह तय हो जाना चाहिए कि उसका शुभारंभ कब होगा तथा योजना का लोकार्पण कब होगा। उन्होंने उपस्थित सभी कलेक्टर्स व अन्य अधिकारियों से कहा कि वे इस तरह की योजना बनाए कि जिलों के सभी ग्रामों में पेयजल, स्वास्थ्य, सड़क व षिक्षा जैसी सभी मूलभूत सुविधाएं ग्रामीणों को उपलब्ध हो सके। उपाध्यक्ष श्री जैन ने सभी पुलिस अधीक्षक से कहा कि अपराध बढ़ने से व अषांति होने से प्रदेष का विकास अवरूद्ध हो जाता है अतः प्रयास करे कि जिलो में शांति व्यवस्था बनी रहे। इस कार्य में सोषयल पुलिसिंग की मदद लें। 
राज्य योजना आयोग के प्रमुख सलाहकार डॉ. राजेन्द्र मिश्रा ने बैठक में संबोधित करते हुए कहा कि चूकि शीघ्र ही नई पंचवर्षीय योजना शुरू होने जा रही है अतः सभी अधिकारी प्रयास करें कि वर्तमान में प्रचलित सभी अधूरे निर्माण कार्यो को प्राथमिकता से पूर्ण करा लिया जाये। उन्होंने जिलो में हुए अच्छे कार्यो का डोक्यूमेंट टेषन कराने के निर्देष भी अधिकारियों को दिए। डॉ. मिश्रा ने कहा कि प्रदेष में गत तीन वर्षो में पुलिस का बजट 90 करोड़ से बढ़ाकर 900 करोड़ किया गया है। जिससे पुलिस को नए वाहन व नए उपकरण तथा अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हुई है। उन्होंने सरकारी कार्यो में सामुदायिक भागीदारी व पारदर्षिता बढ़ाने पर बल दिया तथा कहा कि सामुदायिक भागीदारी बढ़ाने व जन-जन तक सरकार की योजनाओं की जानकारी पहॅुचाने में मध्य प्रदेष जन अभियान परिषद का सहयोग भी लिया जा सकता है। 
राज्य योजना आयोग के प्रमुख सलाहकार श्री मंगेष त्यागी ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेष लगातार 3-4 वर्षो से अपनी कृषि विकास दर के मामले में देष के सर्वोच्च स्थान पर रहकर कृषि क्रमण अवार्ड प्राप्त कर रहा है। प्रदेष में कृषि उत्पादन में सर्वोच्च होने के बावजूद दुग्ध उत्पादन में मध्य प्रदेष देष में 5 वें स्थान पर है। अतः प्रदेष में दुग्ध उत्पादन बढ़ाने की काफी संभावनाएं है। 
कलेक्टर डॉ. एम.के.अग्रवाल ने बैठक में सभी उपस्थित अतिथियों का स्वागत करने के बाद अपने संबोधन में कहा कि पूर्व में जिले के 50-60 अधिकारियों को लेकर 2-3 दिन के लिए भोपाल जाना पड़ता था, जिसमें काफी परेषानी होती थी। वर्तमान में राज्य योजना आयोग की नई नीतियों के कारण अब जिले स्तर पर ही योजनाओं की स्वीकृति संबंधी बैठक के आयोजन होने से काफी आसानी हो गई है। उन्होंने अपने प्रेजेटेषन में बताया कि लिंग अनुपात तथा साक्षरता प्रतिषत के मामले में खण्डवा जिला बेहतर स्थिति में है। बैठक में सभी कलेक्टर्स ने अपने - अपने जिले का प्रेजेटेषन प्रस्तुत किया। बैठक के अंत में मध्य प्रदेष जन अभियान परिषद के संभागीय समन्वयक श्री अमित शाह ने जन अभियान परिषद की कार्य प्रणाली व उपयोगिता विषय पर विस्तृत प्रेजेटेषन प्रस्तुत किया तथा सभी कलेक्टर्स से अनुरोध किया कि योजनाओं के क्रियान्वयन संबंधी फीड बेक लेने तथा योजनाओं के प्रचार-प्रसार के उद्देष्य से वे जन अभियान परिषद के जिला व विकासखण्ड स्तरीय समन्वयकों का सहयोग ले सकते है। 
बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के बजट स्वीकृत करते समय योजना आयोग के अधिकारियों द्वारा सभी आंगनवाड़ीयों में पेयजल व्यवस्था के लिए निर्देष दिए गए। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्रियों को निर्देष दिए गए कि आगामी 3 माह में चारों जिले के प्रत्येक आंगनवाड़ी के लिए एक-एक हेण्डपंप या अन्य कोई पेयजल स्त्रोत स्थापित कर लें। इसके लिए पर्याप्त बजट उन्हंे उपलब्ध कराया जायेगा। 
बुरहानपुर जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 31403.65 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत
बुरहानपुर जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 31403.65 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। जिसमें पशुपालन विभाग के लिए कुल 76.54 लाख रूपये, मत्स्य पालन विभाग के लिए 13.35 लाख रूपये, सहकारिता विभाग के लिए 19.92 लाख रूपये, खादी ग्रामोद्योग विभाग के लिए 37 लाख रूपये, नगरीय प्रषासन विभाग के लिए 250 लाख रूपये, कौषल विकास विभाग के लिए 5 लाख रूपये, उद्योग विभाग के लिए 551.20 लाख रूपये, राजस्व विभाग के लिए 100 लाख रूपये, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिए 40.69 लाख रूपये, नगर सेना विभाग के लिए 147 लाख रूपये, आपदा प्रबंधन विभाग के लिए 50 लाख रूपये, नवीकृत ऊर्जा विभाग के लिए 25 लाख रूपये, आर्थिक एवं साख्यिकी विभाग के लिए 454 लाख रूपये, राज्य योजना आयोग विभाग के लिए 25 लाख रूपये, कृषि विभाग के लिए 536 लाख रूपये, उद्यानिकी विभाग के लिए 146.10 लाख रूपये, रेषम विकास विभाग के लिए 882.80 लाख रूपये, वन विभाग के लिए 2062 लाख रूपये, ग्रामीण विकास विभाग के लिए 8260.02 लाख रूपये, पंचायत विभाग के लिए 1334 लाख रूपये, पुलिस विभाग के लिए 820 लाख रूपये, लोक निर्माण विभाग के लिए 3000 लाख रूपये, जिला षिक्षा केन्द्र विभाग के लिए 2539 लाख रूपये, लोक षिक्षण विभाग के लिए 496.32 लाख रूपये, जल संसाधन विभाग के लिए 1789.85 लाख रूपये, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के लिए 1240 लाख रूपये, सामाजिक न्याय विभाग के लिए 2105 लाख रूपये, महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए 18.36 लाख रूपये, पिछड़ा वर्ग विभाग के लिए 798.20 लाख रूपये, अनुसूचित जाति विकास विभाग के लिए 1104 लाख रूपये, अनुसूचित जनजाति विकास विभाग के लिए 2477.50 लाख रूपये, की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई।
खण्डवा जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 35075.85 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत
खण्डवा जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 35075.85 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। जिसमें पषुपालन विभाग के लिए कुल 90.72 लाख रूपये, मत्स्य पालन विभाग के लिए 53.97 लाख रूपये, सहकारिता विभाग के लिए 30.48 लाख रूपये, खादी ग्रामोद्योग विभाग के लिए 49.46 लाख रूपये, हथकरघा विभाग के लिए 10 लाख रूपये, नगरीय प्रषासन विभाग के लिए 250 लाख रूपये, कौषल विकास विभाग के लिए 5 लाख रूपये, आयुष विभाग के लिए 60 लाख रूपये, उद्योग विभाग के लिए 213.20 लाख रूपये, राजस्व विभाग के लिए 100 लाख रूपये, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिए 46 लाख रूपये, नगर सेना विभाग के लिए 100 लाख रूपये, आपदा प्रबंधन विभाग के लिए 50 लाख रूपये, जेल विभाग के लिए 50 लाख रूपये, नवीकृत ऊर्जा विभाग के लिए 25 लाख रूपये, आर्थिक एवं साख्यिकी विभाग के लिए 608 लाख रूपये, राज्य योजना आयोग विभाग के लिए 25 लाख रूपये, कृषि विभाग के लिए 802 लाख रूपये, उद्यानिकी विभाग के लिए 309.34 लाख रूपये, रेषम विकास विभाग के लिए 258.25 लाख रूपये, वन विभाग के लिए 1500 लाख रूपये, ग्रामीण विकास विभाग के लिए 8515.50 लाख रूपये, पंचायत विभाग के लिए 2115.91 लाख रूपये, पुलिस विभाग के लिए 526 लाख रूपये, लोक निर्माण विभाग के लिए 3000 लाख रूपये, जिला षिक्षा केन्द्र विभाग के लिए 4331.03 लाख रूपये, लोक षिक्षण विभाग के लिए 576.46 लाख रूपये, जल संसाधन विभाग के लिए 804.50 लाख रूपये, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के लिए 2193 लाख रूपये, सामाजिक न्याय विभाग के लिए 2731.30 लाख रूपये, महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए 36.46 लाख रूपये, पिछड़ा वर्ग विभाग के लिए 580.30 लाख रूपये, अनुसूचित जाति विकास विभाग के लिए 1285.46 लाख रूपये, अनुसूचित जनजाति विकास विभाग के लिए 3743.51 लाख रूपये, की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। 
बड़वानी जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 53033.93 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत
बड़वानी जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 53033.93 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। जिसमें पशुपालन विभाग के लिए कुल 52.91 लाख रूपये, मत्स्य पालन विभाग के लिए 20.60 लाख रूपये, सहकारिता विभाग के लिए 25.44 लाख रूपये, खादी ग्रामोद्योग विभाग के लिए 34.20 लाख रूपये, हथकरघा विभाग के लिए 16 लाख रूपये, नगरीय प्रषासन विभाग के लिए 390 लाख रूपये, कौषल विकास विभाग के लिए 5 लाख रूपये, आयुष विभाग के लिए 100 लाख रूपये, उद्योग विभाग के लिए 310.6 लाख रूपये, राजस्व विभाग के लिए 100 लाख रूपये, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिए 36.10 लाख रूपये, नगर सेना विभाग के लिए 100 लाख रूपये, आपदा प्रबंधन विभाग के लिए 50 लाख रूपये, जेल विभाग के लिए 90 लाख रूपये, आर्थिक एवं साख्यिकी विभाग के लिए 908 लाख रूपये, राज्य योजना आयोग विभाग के लिए 25 लाख रूपये, कृषि विभाग के लिए 596 लाख रूपये, उद्यानिकी विभाग के लिए 224.50 लाख रूपये, रेषम विकास विभाग के लिए 11.50 लाख रूपये, वन विभाग के लिए 2959 लाख रूपये, ग्रामीण विकास विभाग के लिए 8400 लाख रूपये, पंचायत विभाग के लिए 1912 लाख रूपये, पुलिस विभाग के लिए 852 लाख रूपये, लोक निर्माण विभाग के लिए 3500 लाख रूपये, जिला षिक्षा केन्द्र विभाग के लिए 7554 लाख रूपये, जल संसाधन विभाग के लिए 2250 लाख रूपये, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के लिए 3876 लाख रूपये, सामाजिक न्याय विभाग के लिए 3603 लाख रूपये, महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए 39.28 लाख रूपये, पिछड़ा वर्ग विभाग के लिए 875.30 लाख रूपये, अनुसूचित जाति विकास विभाग के लिए 570 लाख रूपये, अनुसूचित जनजाति विकास विभाग के लिए 13597.50 लाख रूपये, की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। 
खरगोन जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 57259.60 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत
खरगोन जिले में वर्ष 2016-17 के लिए कुल 57259.60 लाख रूपये की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई। जिसमें पषुपालन विभाग के लिए कुल 61.42 लाख रूपये, मत्स्य पालन विभाग के लिए 35.83 लाख रूपये, सहकारिता विभाग के लिए 46.80 लाख रूपये, खादी ग्रामोद्योग विभाग के लिए 39.16 लाख रूपये, हथकरघा विभाग के लिए 6.90 लाख रूपये, नगरीय प्रषासन विभाग के लिए 500 लाख रूपये, कौषल विकास विभाग के लिए 5 लाख रूपये, आयुष विभाग के लिए 95 लाख रूपये, उद्योग विभाग के लिए 590.22 लाख रूपये, राजस्व विभाग के लिए 100 लाख रूपये, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिए 27 लाख रूपये, नगर सेना विभाग के लिए 100 लाख रूपये, आपदा प्रबंधन विभाग के लिए 50 लाख रूपये, जेल विभाग के लिए 25 लाख रूपये, नवीकृत ऊर्जा विभाग के लिए 25 लाख रूपये, आर्थिक एवं साख्यिकी विभाग के लिए 1262 लाख रूपये, राज्य योजना आयोग विभाग के लिए 25 लाख रूपये, कृषि विभाग के लिए 1396.84 लाख रूपये, उद्यानिकी विभाग के लिए 307.74 लाख रूपये, रेषम विकास विभाग के लिए 20.94 लाख रूपये, वन विभाग के लिए 2470 लाख रूपये, ग्रामीण विकास विभाग के लिए 11350 लाख रूपये, पंचायत विभाग के लिए 3330 लाख रूपये, पुलिस विभाग के लिए 305 लाख रूपये, लोक निर्माण विभाग के लिए 2000 लाख रूपये, जिला षिक्षा केन्द्र विभाग के लिए 7887 लाख रूपये, लोक षिक्षण विभाग के लिए 271.64 लाख रूपये, जल संसाधन विभाग के लिए 875 लाख रूपये, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के लिए 2696 लाख रूपये, सामाजिक न्याय विभाग के लिए 3167.02 लाख रूपये, महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए 90.04 लाख रूपये, पिछड़ा वर्ग विभाग के लिए 1065.30 लाख रूपये, अनुसूचित जाति विकास विभाग के लिए 1509 लाख रूपये, अनुसूचित जनजाति विकास विभाग के लिए 15523.50 लाख रूपये, की वार्षिक योजना स्वीकृत की गई।
-------
क्रमांक-42/892/2015                         सचिन/जि.यो.वि./फोटो 

No comments:

Post a Comment