Saturday, 6 August 2016

JANSAMPARK NEWS 3-8-16

अधिकारी व जनप्रतिनिधि आपसी समन्वय स्थापित कर जिले का विकास करें - प्रभारी मंत्री श्री पारस जैन 
जिला योजना समिति की बैठक संपन्न 
बुरहानपुर | 03-अगस्त-2016
प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री एवं बुरहानपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री पारसचन्द्र जैन की अध्यक्षता में बुरहानपुर कलेक्ट्रेट में जिला योजना समिति की बैठक बुधवार को संपन्न हुई। बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस एवं क्षेत्रीय सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान के अलावा महापौर श्री अनिल भोंसले, कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया एवं पुलिस अधीक्षक श्री अनिलसिंह कुशवाह के अलावा समिति के सदस्य व विभागीय अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सांसद श्री चौहान के प्रस्ताव पर समिति ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि गत दिनो आयोजित ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के दौरान जिन 7 हजार परिवारों के नाम गरीब परिवारों की सूची से हटाने की कार्यवाही की जा रही थी उसे रोका जाये तथा एक-एक परिवार का विस्तृत सर्वे कर केवल अपात्र परिवारों को ही बीपीएल सूची से हटाया जाये तथा वास्तविक गरीबों के नाम सूची में शामिल रखे जायें। बैठक में कृषि, उद्यानिकी, शिक्षा व स्वास्थ्य विभागों की विस्तार से समीक्षा की गई।
    प्रभारी मंत्री श्री जैन ने बैठक में निर्देश दिये कि अगली बार से जिला योजना समिति की बैठक का एजेण्डा व गत बैठक का पालन प्रतिवेदन बैठक आयोजन की तिथि से लगभग 3-4 दिन पहले सदस्यों तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाये ताकि सदस्यगण बैठक में अध्ययन कर तैयारी से आ सकें। प्रभारी मंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति नियमित हो यह सुनिश्चित किया जायें तथा स्कूलों के निरीक्षण अधिक से अधिक किये जाये। उन्होंने सांसद श्री चौहान से अनुरोध किया कि वे केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री से चर्चा कर कक्षा 5 वी व 8 वी की बोर्ड की परीक्षा पुनः प्रारंभ करवाये ताकि बच्चें मन लगाकर पढ़े और उनकी शैक्षणिक स्तर में सुधार आये।
    महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनीस ने बैठक में कहा कि शहरी क्षेत्र में स्कूलों की तरह आंगनवाड़ी केन्द्रों के युक्तियुक्तकरण किये जाने की आवश्यकता है क्योंकि शहरी के कुछ क्षेत्रों में बहुत अधिक आंगनवाड़ी केन्द्र है जबकि कुछ क्षेत्रों में आंगनवाड़ी केन्द्र ना के बराबर है जिससे वहां के बच्चों को काफी दूर आंगनवाड़ी केन्द्र तक जाना पडता है। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री खान ने बैठक में बताया कि जिले के अधिकांश आंगनवाड़ी केन्द्रो के भवन स्वीकृत हो गये है केवल 36 आंगनवाड़ी केन्द्रों के लिये भूमि उपलब्ध नही होने से भवन स्वीकृत नही हो पा रहे है। मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में बताया कि आंगनवाड़ी केन्द्र भवन की लागत लगभग 7.80 लाख रूपये होती है यदि सांसद या विधायक निधि से 3 लाख रूपये मेचिंग ग्रांण्ट उपलब्ध हो जाये तो शेष 4.80 लाख रूपये महिला एवं बाल विकास विभाग स्वीकृत कर देगा जिससे प्रदेश में सैकड़ो आंगनवाड़ी केन्द्र भवन एक साथ स्वीकृत हो जायेगें। मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में प्रभारी मंत्री श्री जैन को बताया कि बुरहानपुर जिले में खकनार एवं बुरहानपुर विकासखण्ड में लगभग 2-2 हजार किसानों के खेतो में खेत कुण्ड किसानों को प्रेरित कर बनवाये गये है। उन्होनें कहा कि इस बारे में मुख्यमंत्री जी को भी अवगत कराया गया है। निकट भविष्य में मुख्यमंत्री जी के बुरहानपुर जिले के प्रवास दौरान खेत कुण्ड बनाने वाले जागरूक किसानों का सम्मान कराया जायेगा।
    सांसद श्री चौहान ने बैठक में कहा कि नेपानगर क्षेत्र हितग्राहियों को योजनाओं की राशि प्राप्त करने में काफी परेशानी आती है क्योंकि वहा  बैंक की शाखाऐं बहुत कम है। उन्होनें नेपानगर क्षेत्र में चलित बैंक सुविधा प्रारंभ किये जाने की आवश्यकता बताई। उन्होनें कहा कि खण्डवा जिले में पूर्व में इस तरह का प्रयोग अत्यंत सफल रहा है। उन्होनें जिला सहकारी बैंक के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ए.के.जैन से कहा कि सहकारी बैंक के द्वारा मोबाइल बैंक स्थापित कर गांव में ही ग्रामीणों को राशि उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जायें। श्री जैन ने उन्हें बताया कि लगभग 57 थम्ब इम्प्रेशन मशीन यदि उपलब्ध करा दी जाये तो वे गांव-गांव में ग्रामीणों तक सहकारी बैंक पहुंचा सकते है। सांसद श्री चौहान ने इन 57 मशीनों के लिये पूरी राशि सांसद निधि से तत्काल उपलब्ध कराने की घोषणा की। सांसद श्री चौहान ने वन मण्डलाधिकारी से कहा कि वनाधिकार पट्टे के जिन आदिवासियों के आवेदन निरस्त किये गये है उन्हें पुनः स्वीकृत किये जाने की कार्यवाही की जाये। वन मण्डलाधिकारी ने बताया लगभग 6 हजार आवेदन निरस्त किये गये है जिन्हें पुनः परीक्षण कर सभी पात्र वनवासियों को पट्टे दिलाये जायेगें। सांसद श्री चौहान ने बैठक में बताया कि फसल क्षति का मुआवजा जो किसानों के खातो में जमा होना था वह तकनीकि कारणो से उनके खातों में जमा नही हो पाया है। इस पर कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने बताया कि इस मामले का विस्तृत परीक्षण कर लिया गया है तथा किसानों के सही खाता क्रमांक प्राप्त कर लिये गये है अगले 4-5 दिनों में शेष रहे सभी किसानों के खातो में मुआवजे की राशि जमा हो जायेगी।
    नगर निगम महापौर श्री भोंसले ने बैठक में बताया कि बीआरजीएफ योजना की ब्याज की राशि लगभग 1.30 करोड़ रूपये नगर निगम के पास उपलब्ध है इस राशि से नेहरू स्टेडियम ग्राउण्ड के उन्नयन का कार्य कराया जा सकता है। जिसमें पवेलियन पर शेड निर्माण, चेंजिंग रूम, शौचालय व एथेलेटिक ट्रेक का निर्माण शामिल है। उनके इस प्रस्ताव को जिला योजना समिति ने सर्वसम्मति से अनुमोदित किया।



नागरिकों की समस्याओं का निराकरण सरकार की पहली प्राथमिकता 
जनसंवाद शिविर में प्रभारी मंत्री श्री जैन ने सुनी नागरिकों की समस्याऐं 
बुरहानपुर | 03-अगस्त-2016
 प्रदेश सरकार ने नागरिकों की समस्याओं के निराकरण के लिये जनसुनवाई, जनसंवाद, समाधान ऑनलाइन व सीएम हेल्पलाइन जैसी अनेकों योजनाऐं प्रारंभ की है क्योंकि सरकार की पहली प्राथमिकता नागरिकों की समस्याओं का निराकरण करना है। यह बात प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री एवं बुरहानपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री पारसचन्द्र जैन ने स्थानीय गुर्जर भवन में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में कही। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस, महापौर श्री अनिल भोंसले, नगर निगम अध्यक्ष श्री मनोज तारवाला, कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया, पुलिस अधीक्षक श्री अनिलसिंह कुशवाह, सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे, नगर निगम आयुक्त श्री सुरेश रेवाल सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री श्री जैन व महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनीस ने नागरिकों की समस्याऐं सुनी और उनके निराकरण के लिये अधिकारियों को निर्देश दिये। 
   प्रभारी मंत्री श्री जैन ने अधिकारियों से कहा कि नागरिकों को उनकी पात्रता के अनुसार सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाये तथा यदि आवेदक किसी योजना के लिये अपात्र है तो उसे स्पष्ट बता दे कि वह इस योजना के लिये अपात्र है ताकि आवेदक अनावश्यक कार्यालयों में चक्कर ना लगाये। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में विद्युत का उत्पादन इस समय काफी हो रहा है जिससे बिजली कटोती की समस्या नही है प्रदेश में फीडर सेपरेशन सरकार की महत्वपूर्ण उपलब्धि है। उन्होनें बताया कि प्रदेश में लगभग 14 हजार मेगावाट हो रहा है जबकि खपत मात्र 9 हजार मेगावाट है। इस कारण से प्रदेश में शहरी क्षेत्रों में 24 घंटे बिजली मिल रही है। श्री जैन ने अपने संबोधन में कहा कि बुरहानपुर की पहचान पावरलूम उद्योग के कारण भी है। विद्युत आपूर्ति नियमित रूप से होने के कारण पावरलूम उद्योग सही तरीके से कार्य कर रहा है। पूर्व में विद्युत कटोती के कारण पावरलूम उद्योग के संचालक व श्रमिक काफी परेशान होते थे। उन्होंने कहा कि नागरिकों की सुविधा के लिये यह व्यवस्था की जा रही है कि अब बिजली के बिल हिन्दी में सरल भाषा में उपभोक्ताओं को दिये जायेंगे ताकि बिल से संबंधित जानकारी जनसामान्य के समझ में आ सके।
   महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनिस ने कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहा कि बुरहानपुर जिले में विकास कार्य काफी तीव्र गति से हो रहे है यहा कलेक्ट्रेट, न्यायालय, जिला पंचायत, जिला अस्पताल सहित सभी प्रमुख कार्यालयों के भवन बन चुके है सिविल लाइन भी लगभग 14 करोड़ रूपये की लागत से स्वीकृत हो चुकी है साथ ही तीन करोड़ की लागत से सर्किट हाउस भी स्वीकृत हो चुका है जिसका निर्माण कार्य शीघ्र प्रारंभ हो जायेगा। उन्होनें बताया कि जिले में 19 करोड रूपये की लागत से जिला जेल का निर्माण भी शीघ्र ही स्वीकृत हो जायेगा। कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि  नागरिकों की समस्याओं के निराकरण के लिये जनसुनवाई कार्यक्रम जिले में नियमित रूप से आयोजित होता है साथ ही लोक कल्याण शिविरों के माध्यमों से भी नागरिकों के आवेदनों का निराकरण किया जाता है।
विभागों ने स्टॉल लगाकर बांटी प्रचार सामग्री, नागरिकों दी योजनाओं की जानकारी
   आज गुर्जर भवन में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, राजस्व, आदिमजाति कल्याण, जनसंपर्क विभाग सहित विभिन्न विभागों ने प्रदर्शनी आयोजित की तथा विभागों के स्टॉलों पर योजनाओं की जानकारी देने वाली प्रचार सामग्री भी नागरिको को वितरित की गई।




No comments:

Post a Comment