Friday, 26 February 2016

JANSAMPARK NEWS 14-2-16

जिला जनसम्पर्क कार्यालय, बुरहानपुर (म.प्र.)  

समाचार 

जनसंवाद कार्यक्रम में ग्रामीणों को दी गई योजनाओं की जानकारी

सूचना शिविर में वितरित की गई प्रचार सामग्री 

बुरहानपुर 14 फरवरी, 2016 - बुरहानपुर विकासखण्ड के ग्राम खातला में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया की उपस्थिति में ग्रामीणों को विभागीय अधिकारियों ने प्रदेश सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री बसंत कुर्रे, एसडीएम नेपानगर श्री एस.एल.सिंगाडे, तहसीलदार श्रीमती हेमलता सोंलकी व जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राकेश शर्मा, महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्री अब्दुल गफार खान, उपसंचालक कृषि श्री एम.डी.देवके, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एच.एन.नायक एवं उपसंचालक उद्यानिकी सुश्री शानू मेश्राम, सहित विभिन्न विभागों के जिला व खण्ड स्तरीय अधिकारी भी उपस्थित थे। इस दौरान जिला जनसम्पर्क कार्यालय बुरहानपुर द्वारा आयोजित सूचना शिविर में ग्रामीणों को जनसम्पर्क संचालनालय से प्राप्त विभागीय योजनाओं की जानकारी देने वाली पुस्तक ‘‘आगे आये लाभ उठायें‘‘ तथा अन्य योजनाओं की प्रचार सामग्री भी वितरित की गई। 

कलेक्टर ने ग्रामीणों को पढ़ाया स्वच्छता का पाठ

कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने खातला के ग्रामीणों को जन संवाद कार्यक्रम में स्वच्छता का पाठ पढ़ाया। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि स्वच्छ रहकर हम अनेको बीमारियों से बच सकते है। उन्होंने कहा कि बीमारियों के इलाज पर जो धन राशि खर्च होती है उससे परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होती है, अतः हमें स्वच्छ रहने की आदत डालना चाहिए। कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने ग्रामीणों से कहा कि वे अपने घरों में शौचालय निर्माण कराकर उसका उपयोग अवश्य करें। इसके लिए सरकार सहायता भी उपलब्ध कराती है। उन्होनें ग्रामीणों से खुले में शौच बंद करने का आव्हान किया। कलेक्टर ने ग्रामीणों को समझाईश दी कि भोजन करने से पूर्व हाथ धोने की आदत जरूर डालें। साथ ही उन्होनें ग्रामीणों से अपने बच्चों को स्कूल भेजने तथा छोटे बच्चों को आंगनवाड़ी भेजने के लिए अपील की। ग्रामीणजनों को शिक्षा के महत्व के बारे में बताते हुये कहा कि अगर बच्चों को अच्छी शिक्षा दी जाये तो हम बच्चों का भविष्य सुधार सकते है। कलेक्टर के समक्ष ग्रामीणों ने समस्याऐं एवं मांग संबंधी आवेदन प्रस्तुत किये। उन्होनें तत्काल आवेदनों का निराकरण करने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। 
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कुर्रे ने प्रधानमंत्री के स्वच्छता कार्यक्रम के बारे में ग्रामीणों को बताया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नायक ने ग्रामीणों को जननी सुरक्षा योजना, प्रसूति सहायता योजना, जननी एक्सप्रेस, मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना, मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना, बीमारी सहायता योजना के बारे में बताया। उप संचालक कृषि श्री देवके ने ग्रामीणों को खेती के नए-नए तरीकों को अपनाने के लिए प्रेरित किया तथा बताया कि उन्नत खेती करके कम लागत में अधिक फसल ली जा सकती है। उन्होंने किसानों को खेती की जैविक पद्धति अपनाने की भी सलाह दी। 

ए.एन.एम एवं सुपरवाईजर ग्राम में समन्वय से कार्य करे

इससे पूर्व कलेक्टर श्रीमती सिंथिया के निर्देश पर विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने गांव में संचालित अपने-अपने विभाग के शासकीय कार्यालयों का निरीक्षण किया। कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे ग्रामीण क्षेत्र में स्थित अपने कार्यालयों की सफाई व मरम्मत कार्य कराते रहे। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की कार्यकर्ता, परिवेक्षक व ए.एन.एम. को मुख्यालय पर रहने एवं समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि अपने कार्य को जिम्मेदारी से करें। 
टीप - फोटोग्राफ संलग्न है।






No comments:

Post a Comment