Friday, 26 February 2016

JANSAMPARK NEWS 25-2-16

जिला जनसंपर्क कार्यालय, बुरहानपुर (म.प्र.)

समाचार

स्कूली विद्यार्थियों ने खुले में शौच बंद करने निकाली जागरूकता रैली 

बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - मध्य प्रदेश जन अभियान परिषद द्वारा संचालित मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम के अंतर्गत विकासखण्ड समन्वयक श्री महेश कुमार खराडे़ के निर्देशानुसार बीएसडब्ल्यू के छात्र राजू माझी को प्रदत्त ग्राम प्रयोगशाला हतनूर में स्कूली छात्र/छात्राओं ने ग्रामीणों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता रैली निकाली। रैली में बच्चों ने खुलें में शौच बंद करने संबंधी नारे भी लगाये। जिसमें स्वच्छता को अपनाना है। घर-घर में शौचालय बनाना है। बहु बेटिया दूर ना जाये घर में ही शौचालय बनवाये। शौचालय का करें प्रयोग तभी रहेंगे सभी आरोग्य। खुले में शौच को बोलो ना शौचालय को बोलो हा सहित अन्य स्वच्छता संबंधी नारे लगाकर ग्रामीणों में जागरूकता फैलाई। 
श्री माझी ने बताया अधिकतर बीमारियां गंदे पानी के पीने, गंदे पानी से नहाने एवं दूषित भोजन खाने से तथा खुले में शौच करने से होती है। इन सभी से बचाव हेतु हमें सर्वप्रथम खुले में शौच बंद करना है। क्योंकि जब हम खुले में शौच करते हैं, तो बारिश के मौसम में वह मल पानी के साथ बहता हुआ हमारे पेयजल स्त्रोतों को दूषित करता है। इसी प्रकार मल गर्मी के दिनों में सूखने के बाद मिटट्ी में मिलकर धुल के माध्यम से हमारे घर, भोजन एवं यहा तक की श्वास के जरिये हमारे शरीर में पहुंचता है। जिससे हम बीमार होकर कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाते है। इसलिये हम खुले में शौच बंद करें। अपने परिवार, पडोसियों, मित्रों एवं ग्रामीणों को खुले में शौच करने से होने वाली बीमारियों के बारे में जागरूक करें जिससे वे खुले में शौच करना बंद करें। शौच के बाद साबुन से हाथ अवश्य धोये, भोजन करने से पूर्व एवं बाद में अच्छे से हाथ धोये, पानी को उबालकर पीये, स्वच्छ भोजन करें आदि के बारे में समझाईश दी। इस अवसर पर बीएसडब्ल्यू के विद्यार्थी तिलोत्तमा महाजन, रजनी ज्ञानी, रिंकु महाजन व ऐश्विनी और माध्यमिक शाला के प्रभारी प्रधानपाठक अनिता भोजने, शिक्षक आशीष वाणी, शिल्पा शेवाडे़ तथा प्राथमिक शाला के प्रभारी प्रधानपाठक चुन्नीलाल उपाध्याय, कैलाश कोटवे एवं सुरेखा सरोदे सहित बड़ी संख्या में छात्र/छात्राऐं मौजूद उपस्थित रहे। 


क्रमांकः 82/182/सचिन/प्रशासन/फोटो   

समाचार


किशोर न्याय अधिनियम के तहत संस्थाओं का पंजीयन अनिवार्य

बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - राज्य शासन निर्देशानुसार किशोर न्याय (बालकों की देखरेख और संरक्षण) अधिनियम के तहत 18 वर्ष की आयु तक के बालकों की देखरेख और संरक्षण हेतु संचालित जिले समस्त संस्थाओं का पंजीयन अनिवार्य किया गया है। 
      जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री अब्दुल गफ्फार खान ने बताया कि उक्त अधिनियम के तहत ऐसा कोई व्यक्ति या संस्था जो पंजीकृत नहीं है। परन्तु देखरेख एवं संरक्षण की आवश्यकता वाले बालकों को संरक्षण देती है। तो ऐसी संस्था या व्यक्ति को एक वर्ष का कारावास या एक लाख रूपये का जुर्माना या दोनों से दण्डित किये जाने का प्रवधान है। जिले में कोई ऐसी संस्था है जो कि देखरेख एवं संरक्षण की आवश्यकता वाले बालकों को संरक्षण प्रदान करती है तथा उसका पंजीयन किशोर न्याय अधिनियम के तहत् नहीं किया गया है तो वह तुरंत निर्धारित प्रारूप 19 में आवेदन जिला महिला सशक्तिकरण कार्यालय में 29 फरवरी 2016 तक अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें। अन्यथा निर्धारित तिथी के बाद ऐसी कोई संस्था संचालित पाई जाती है तो उस पर नियमानुसार कार्यवाही होगी। 
क्रमांकः 83/183/सचिन/म.स.वि. 

समाचार

कक्षा 1 व 4, कक्षा 6 व 7 एवं कक्षा 5 व 8 वार्षिक मूल्यांकन समय 

सारणी 

बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - आयुक्त राज्य शिक्षा केन्द्र, मध्यप्रदेश भोपाल के निर्देशानुसार सत्र 2015-16 में कक्षा 1 से 8 के वार्षिक मूल्यांकन कार्यक्रम अनुसार कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा 6 व 7 की परीक्षाएॅं 04 अप्रैल 2016 से 12 अप्रैल 2016 तक शाला स्तर पर प्रश्नपत्र निर्माण एवं उत्तर पुस्तिकाओं की व्यवस्था की जायेगी। उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन जांचकार्य शाला स्तर पर किया जावेगा। कक्षा 5 वीं एवं 8 वीं की परीक्षा 26 मार्च 2016 से 04 अप्रैल 2016 तक आयोजित होगी। जिसके प्रश्नपत्र जिला कार्यालय से उपलब्ध होगे। 
जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी.एल.रघुवंशी ने बताया कि उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन जांच कार्य संकुल/जनशिक्षा केन्द्र स्तर पर किया जावेगा। कक्षा 5 व 8 के लिए उत्तर पुस्तिकाओं की व्यवस्था भी शाला स्तर से की जावेगी। कक्षा 1 से 8 के विद्यार्थियों को परीक्षा परिणाम की घोषणा, प्रगति पत्रक एवं शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के नियम 2009 के नियम 2011 कंडिका-19 के अनुसार स्कूल के प्रधान शिक्षक या वरिष्ठतम शिक्षक द्वारा प्रारंभिक शिक्षा पूर्ण होने के एक माह के भीतर बच्चों को प्रारंभिक शिक्ष पूर्णता प्रमाण पत्र निर्धारित प्रारूप में जारी किया जाएगा। 
क्रमांकः 84/184/सचिन/शिक्षा  

समाचार

स्वाध्यायी परीक्षार्थी के फार्म जमा करने की अंतिम तिथि 5 मार्च 

बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - राज्य शिक्षा केन्द्र, मध्यप्रदेश, भोपाल निर्देशानुसार सत्र 2015-16 में कक्षा 5 वीं एवं 8 वीं की परीक्षा में स्वाध्यायी परीक्षार्थी के रुप में सम्मिलित होना चाहते है तो फार्म नज़दीकी संकुल प्राचार्य/विकासखंड शिक्षा अधिकारी, बुरहानपुर/विकासखंड अधिकारी, खकनार/बी.आर.सी.सी, बुरहानपुर एवं खकनार/जनशिक्षा केन्द्र से प्राप्त कर आवश्यक पूर्तियां एवं सह पत्र संलग्न कर संबंधित संकुल प्राचार्य, विकासखंड-बुरहानपुर/मूल्यांकन केन्द्र प्राचार्य, विकासखंड-खकनार के पास निर्धारित शुल्क कक्षा 5 वीं के लिये 30 रुपये एवं कक्षा 8 वीं हेतु 50 रुपये के साथ 05 मार्च 2016 तक जमा करावें एवं वहीं से परीक्षा के समय टाइम टेबल एवं प्रवेश पत्र प्राप्त करें। राज्य के अंदर के 14 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति ही पात्र होंगे, परंतु उन्हें परीक्षा में सम्मिलित होने का औचित्य सिद्ध करना आवश्यक है कि उन्हें इसमें क्यों सम्मिलित होना है। कोई भी परीक्षार्थी सीधे ही प्राथमिक प्रमाण पत्र परीक्षा (कक्षा-5) में स्वाध्यायी रूप से कोई भी परीक्षार्थी सम्मिलित हो सकता है। जो परीक्षार्थी इस परीक्षा में पहली बार प्रविष्ट हो रहें हैं उन्हे निम्नांकित शर्तो का पालन करना होगा। परीक्षार्थी की आयु वर्तमान शिक्षा सत्र की 1 जनवरी को 14 वर्ष से अधिक होना आवश्यक है। पूर्व में अध्ययनरत शाला के प्रधानाध्यापक द्वारा प्रमाणित जन्मतिथि प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। उपर्युक्त न होने की स्थिति में या कहीं अध्ययन न करने की स्थिति में नगर निगम/नगरपालिका/नगर पंचायत/अन्य प्राधिकृत संस्था द्वारा प्रदत्त जन्म तिथि प्रमाण पत्र मान्य होगा। यदि उपर्युक्त में से जन्मतिथि का कोई प्रमाण पत्र उपलब्ध नहीं है तो उसके अभिभावक को शपथ पत्र देना होगा जिसमें परीक्षा की जन्मतिथि के साथ-साथ उसके द्वारा किसी भी शाला में न पढ़ने का उल्लेख होगा। पूर्व माध्यमिक शिक्षा प्रमाण पत्र परीक्षा (कक्षा-8) के लिए पात्रता प्राथमिक शिक्षा प्रमाण पत्र परीक्षा (कक्षा-5) उत्तीर्ण होने की अंकसूची की प्रमाणित छायाप्रति लगाना आवश्यक है। स्वाध्यायी रूप से पूर्व माध्यमिक प्रमाण पत्र परीक्षा (कक्षा-8) में सम्मिलित होने के लिए उन्हें प्राथमिक शिक्षा प्रमाण पत्र परीक्षा (कक्षा-5) उत्तीर्ण होने के बीच कम से कम दो वर्ष का समयान्तर (गेप) हो। परीक्षार्थी को उसका नवीन पासपोर्ट साइज का 01 फोटो फार्म पर चस्पा करें तथा 01 फोटो प्रवेश पत्र हेतु पिन से अटैच करें। स्वाध्यायी परीक्षार्थियों का परीक्षा केन्द्र शा.सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय बुरहानपुर रहेगा। स्वाध्यायी परीक्षार्थी शुल्क विवरण-कक्षा 5 हेतु 30/-तथा कक्षा-8 हेतु 50/-स्वाध्यायी परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम एवं अंकसूची 30 अप्रैल 2016 को संबंधित जनशिक्षा केन्द्र से प्राप्त करें जहां परीक्षा में सम्मिलित होने हेतु फार्म जमा किया था एवं प्रवेश पत्र प्राप्त किया था। 
क्रमांकः 85/185/सचिन/शिक्षा

समाचार


1 मार्च से 15 अप्रैल तक प्रत्येक ग्राम पंचायत में होगी किसान सभा 


कलेक्टर की अध्यक्षता में सभा पूर्व तैयारियों संबंधी बैठक संपन्न 

बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - जिले में 01 मार्च 2016 से 15 अप्रैल 2015 तक प्रत्येक ग्राम पंचायत में किसान सभा आयोजित करने संबंध में बैठक आयोजित हुई। यह बैठक कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट सभागृह में संपन्न हुई। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्री बंसत कुर्रे, कृषि उपसंचालक श्री एम.एस.देवके, उद्यानिकी उपसंचालक सुश्री शानु मेश्राम, पशु चिकित्सा सेवाऐं श्री एम.के.शर्मा, जल संसाधन, सहकारिता, मत्स्य विभाग तथा रेशम विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।
कलेक्टर ने कहा कि सभी ग्राम पंचायत में किसान सभा के एक-एक दिन पूर्व कोटवारों के माध्यम से मुनादी करावे। साथ ही सभी किसानों को सूचना दी जावें। ग्राम पंचायत में शामिल हर परिवार में से एक सदस्य की भागीदारी सुनिश्चित कराये। प्रधानमंत्री फसल बीमा की जानकारी कृषकों को दी जायें। खरीफ 2016 का ग्राम पंचायत के कृषकों से चर्चा कर कृषि प्लान तैयार करने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि खरीफ में बीज, खाद एवं फसल विविधीकरण, किस्म विविधीकरण के संबंध में कृषकों से चर्चा कर बीज उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। साईल हेल्थ कार्ड एवं मिट्टी परीक्षण की जानकारी कृषकों को दे। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में कृषकों से चर्चा कर योजना तैयार कराना। नये किसानों के क्रेडिट कार्ड बनाना एवं मछली पालन वालें किसानों के भी क्रेडिट कार्ड बनाना। कलेक्टर ने उद्यानीकि उपसंचालक को निर्देश दिये कि कृषि वानिकी एवं कृषि उद्यानिकी को बढ़ावा दिया जायें, एवं चर्चा कर कृषकों का चयन करें। साथ ही पुष्प उत्पादन के लिए बीस कृषकों का चयन कर पुष्प उत्पादन को बढ़ावा देवें। आगामीे सीजन में कृषकों को फसल एवं किस्म विविधीकरण के अन्तर्गत धारवाड विधी, सोयाबीन में जे.एस. 335 के स्थान पर सोयाबीन की नयी किस्म को बढ़ावा दे। साथ में खरीफ बोनी जाने वाली पैकेट प्रैक्टीस नवीन तकनीकी जानकारी कृषकों को उपलब्ध कराये। समन्वित कृषि प्रणाली के अन्तर्गत पशुपालन, बकरीपालन, मुर्गीपालन एवं मधुमक्खी पालन के संबंध में कृषकों को जानकारी देवे एवं हितग्राहियों का चयन करें। 
क्रमांकः 86/186/सचिन/कृषि

समाचार


ग्राम असीरगढ़ में खुले में शौच रोकने प्रातः 4 बजे से निगरानी समिति 

ने दी दस्तक
 
बुरहानपुर-( 25 फरवरी 2016 ) - ग्राम पंचायत असीरगढ़ में निगरानी समिति के पुरूष एवं महिला पंच, विकासखण्ड पीसीओ, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं बच्चों के साथ पशु चिकित्सा सेवाऐं डॉ.एम.के.शर्मा ने प्रातः 4 बजे पहुंचकर बाहर मार्गो पर खुले में शौच जाने से रोककर उन्हें घर में बने शौचालय का उपयोग करने की समझाईश दी। साथ ही ग्रामीणों को खुले में शौच करने से विपरित प्रभाव व जंगली जीव जन्तुओं से होने वाले खतरो की जानकारी दी। समिति द्वारा शौच के डिब्बों व बोतलों को जलाकर नष्ट किया गया। इसके बाद प्रातः 7.30 से 8 बजे तक ग्राम मुख्यालय पर सरपंच एवं पंच व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को गांव में जल्द से जल्द शत-प्रतिशत शौचालय बनवाने की बात कही। साथ ही उन्होनें मिस्त्रीयों को निर्धारित मापदण्ड अनुसार शौचालय बनाने समझाईश दी। 






क्रमांकः 87/187/सचिन/पं.ग्रा.वि./फोटो 

No comments:

Post a Comment