Friday, 26 February 2016

JANSAMPARK NEWS 18-2-16

जिला जनसंपर्क कार्यालय, बुरहानपुर (म.प्र.)

समाचार

पल्स पोलिया अभियान के तहत जनजागरूता रैलियों का आयोजन 20 

को 

बुरहानपुर-( 18 फरवरी 2016 ) - जिले में राष्ट्रीय सघन पल्स पोलियों अभियान को सफल बनाने के उद्देश्य से जनजागरूकता रैलियों का आयोजन 20 फरवरी से किया जायेगा। पल्स पोलियों अभियान का द्वितीय चरण 21 से 23 फरवरी 2016 को पूरे प्रदेश सहित जिले में आयोजित होगा। इस दौरान जन्म से लेकर 05 वर्ष तक के सभी बच्चों को दो बूंद जिदंगी की पोलियों की दवाई पिलायी जायेंगी। इस अभियान को सफल बनाने के लिये मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एच.एन.नायक ने सभी जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संस्थाओं, गणमान्य नागरिकों से इस अभियान को सफल बनाने रैली में सहभागिता हेतु आव्हान किया गया है। 
क्रमांकः 58/158/सचिन/स्वास्थ्य 
समाचार

जिले में देषी-विदेषी मदिरा दुकान व समूह टेण्डर निष्पादन 4 को 

बुरहानपुर-( 18 फरवरी 2016 ) -  जिले की समस्त 14 समूहों में सम्मिलित 28 देषी एवं 16 विदेषी मदिरा दुकानों एकल समूहों का निष्पादन वर्ष 2016-17 हेतु निर्धारित आरक्षित मूल्य पर राज्य शासन द्वारा निर्धारित शर्तो एवं प्रक्रिया के अधीन 4 मार्च 2016 (शुक्रवार) को जिला समिति द्वारा कलेक्टोरेट सभागृह बुरहानपुर में किया जायेगा।
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया ने उक्त जानकारी दी। उन्होनें बताया कि जिले में आबकारी विभाग द्वारा आमजन व फुटकर ठेकेदारों की विषेष जानकारी के लिए राज्य शासन के आदेषानुसार एवं मध्यप्रदेष राजपत्र क्रमांक 73 द्वारा 05 फरवरी 2016 में यह सूचना प्रकाषित की गई है। उक्त टेण्डर निष्पादन बुरहानपुर जिले में वर्ष 2016-17 अर्थात 01 अप्रैल 2016 से 31 मार्च 2017 तक की अवधि के लिए नियत शर्तो एवं प्रकिया के अधीन किया जाना प्रस्तावित है। टेण्डर प्रपत्र जिला आबकारी कार्यालय बुरहानपुर में 17 फरवरी 2016 से निर्धारित मूल्य पर बिक्री हेतु उपलब्ध है। इच्छुक व्यक्ति देषी/विदेषी मदिरा की फुटकर बिक्री की दुकानों/एकल समूहों की सूची, मदिरा दुकानों का आरक्षित मूल्य, जमा की जाने वाली धरोहर राषि, मादक द्रव्य की खपत, आदि की जानकारी जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय बुरहानपुर से कार्यालयीन समय में (अवकाष के दिनों सहित) प्राप्त कर सकते है।   
क्रमांकः 59/159/सचिन/आब.
समाचार


आओं सब मिलकर प्रकृति को बचानें में अपनी भूमिका का निर्वहन करें-

श्री पांडे 

स्कूली विद्यार्थियों ने जाना पर्यावरण का महत्व, लिया संरक्षण का 

संकल्प

बुरहानपुर-( 18 फरवरी 2016 ) - हरित कुुंभ समन्वय समिति नासिक द्वारा हरित कुंभ चेतना यात्रा का आयोजन जन अभियान परिषद से समन्वयक कर पंचमहाभूत संवर्धन साक्षरता 18 फरवरी से 22 फरवरी 2016 तक किया गया है। इसी कड़ी में आज जिले में हरित कुंभ यात्रा का आगमन हुआ। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार यह यात्रा नासिक प्रारंभ होकर बुरहानपुर, ओंकारेश्वर, महेश्वर, इंदौर और उज्जैन पहुंचेगी। हरित कुंभ समन्वय समिति नासिक के श्री राजेश पंडित, श्री निशिकांत पगारे, श्री नितीन रूईकर, श्री योगेश बर्वे एवं नंदु मोरे ने जन अभियान परिषद श्री महेश कुमार खराडे़, श्री अमजद खान, श्री रविन्द्र देशमुख, स्वैच्छिक संगठन व सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों में श्री संजय अग्रवाल, श्री मोहन जोशी, श्री दिनेश शंखपाल, श्री ललित सिरोतिया व बीएसडब्ल्यू के छात्रो ने किया माँ ताप्ती सलिला का विधिवत पूजन अर्चन किया। इस दौरान पर्यावरण के प्रति जागरूकता का संदेश शासकीय सावित्री बाई फूले कन्या शाला में श्री पांडे ने बताया कि प्रकृति और मनुष्य का संबंध काफी पुराना है। यदि हम पर्यावरण के स्वच्छता पर ध्यान देंगे तो निर्मलता और संतुलन से ही संसार को बचाया जा सकता है। 
जाना पर्यावरण संरक्षण का महत्व
श्री पंडित ने कहा कि अग्नि, वायु, जल, आकाश, पृथ्वी, सूर्य, चंद्रमा, औषधि एवं वनस्पति आदि देवता स्वरूप हैं। इन सभी देवताओं के साथ हमें भावनात्मक संबंध रखना चाहिए। इस ब्रह्मांड में प्रकृति सबसे शक्तिशाली है, क्योंकि यही सृजन एवं विकास और यही ह्रास तथा नाश करती है। प्राचीनकाल से हम यह चिंतन में सुनते आए हैं कि पंचमहाभूत (जल, पृथ्वी, वायु, आकाश, अग्नि) का सम्मिश्रण है। इस एक में से किसी की भी सत्ता डगमगा गई तो इसका हश्र क्या होगा, यह सभी जानते हैं। फिर यह अज्ञानता क्यों? पढ़-लिखकर भी मनुष्य अज्ञानी बनकर स्वार्थ तक सिमट गया है। वह इन तत्वों के प्रति छेड़छाड़ को गंभीरता से क्यों नहीं ले रहा है। जब तक किसी भी वस्तु, आविष्कार, खोज के गुण-दोष की जानकारी नही होंगी। तब तक आगे बढ़ना हमारे लिए पीछे हटने के बराबर है। सभी स्कूली छात्राओं ने पर्यावरण का संरक्षण हेतु संकल्प लिया। 
पॉलीथीन का करें बहिष्कार

पर्यावरण का ध्यान रखते हुए हम आगे बढ़े, तभी वह हमारे लिए सही अर्थों में आगे बढ़ना है। उन्होनें पर्यावरण के महत्व पर प्रकाश डालते हुए विद्यार्थियों को पॉलीथीन का उपयोग ना करने का आग्रह किया। उन्होनें कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए पॉलीथिन का बहिष्कार आवश्यक है। उन्होनें विद्यार्थियों से कहा कि जब भी हम कोई वस्तु खरीदनें जाये, तो दुकानदारों से पॉलीथिन पैकिंग में सामान न लें। आस-पास के लोगों को पॉलीथिन से उत्पन्न खतरों से अवगत कराएं। साथ ही समिति द्वारा कपडे़ से निर्मित बैग शिक्षकों और विद्यार्थियों को वितरित किये गये। इस अवसर पर विद्यालय परिवार भी उपस्थित रहा। 
क्रमांकः 60/160/सचिन/ज.अ.प./फोटो 





समाचार


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा एक दिन में दो शिविर आयोजित

शिविर में ग्रामीणों को दी गई विधिक जानकारी 

बुरहानपुर-( 18 फरवरी 2016 ) - जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष श्री मोहम्मद युसुफ मन्सूरी के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण-जिला न्यायालय द्वारा ग्राम बोरसर में विधिक साक्षरता शिविर आयोजित किया गया। जिसके अंतर्गत प्रथम शिविर नवीन मा. शाला बोरसर में मूल अधिकार एवं मूल कर्त्तव्य विषय पर लिखित निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस निबंध प्रतियोगिता में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर सागर विनोद ठाकरे द्वितीय स्थान आंनद विनोद ठाकरे़ एवं तीसरा स्थान अविनाश राजू ठाकरे ने प्राप्त किया। 
इस मौके पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री रॉबिन दयाल ने बताया कि भारतीय संविधान का अनुच्छेद 51-ए में उल्लेख है कि प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह हिंसा से दूर रहें। उन्होनें बताया कि हिंसा से किसी को लाभ नहीं होता चाहे वह बाहर हो या आंतरिक मनुष्य जीवन के लिये हिंसा से कोई लाभ नहीं है हिंसा केवल मानव जाति आर्थिक क्षति पहुंचाती है। वहीं हिंसा मनुष्य के विकास की सबसे बड़ी बाधा उत्पन्न करती है। प्रत्येक नागरिक का कर्त्तव्य है कि देश में भाईचारे से रहे। इस अवसर पर प्राचार्य श्रीमती पुष्पा नागवंशी, अध्यापक श्री गौरव खतरी एवं पूर्णिमा जावरे भी उपस्थित रही। अंत में विधिक सेवा के कर्मचारी श्री संजय कुमार उइके ने अभार व्यक्त किया गया।  इसी प्रकार द्वितीय शिविर अंतर्गत ग्राम निम्ना में भी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुरहानपुर द्वारा संपन्न हुआ। इस दौरान जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री रॉबिन दयाल ने शिविर को सबोधित करते हुये ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को न्याय पाने का अधिकार है। प्राकृतिक न्याय के सिद्वान्त के आधार पर बिना सुने न्याय नहीं किया जा सकता। इसलिये आर्थिक व निर्योग्यता के कारण समान अवसर पर न्याय पाने से वंचित न रह जाये वहीं भारतीय संविधान के अनुच्छेद 39-ए में निःशुल्क विधिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके लिये जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की स्थापना की गई है। उन्होनें शासन की महत्वकांक्षी योजना मनरेगा के तहत ग्रामीणों को रोजगार के लिये अवसर दिया जाता है। साथ ही उन्होनें ग्रामीणों को अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अधिनियम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन संजय कुमार उइके ने किया। शिविर में श्री नगीन सदाशिव पाटील, ग्राम पंचायत सदस्य श्री अरूण चन्द्र सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे। यह जानकारी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, जिला न्यायालय द्वारा दी गई।
क्रमांकः 61/161/सचिन/जि.वि.प्रा./फोटो 




समाचार

लोक सेवा केन्द्र के लिये प्री-बिड कॉन्फ्रेस संपन्न 

प्रतिभागी हुए लोक सेवा केन्द्र की अवधारणा से रूबरू 

बुरहानपुर-( 18 फरवरी 2016 ) - जिला पंचायत सीईओ श्री बसंत कुर्रे की अध्यक्षता में लोक सेवा केन्द्र हेतु प्री-बिड कान्फ्रेस संपन्न हुई। इस दौरान सीईओ ने उपस्थित प्रतिभागियों को लोक सेवा केन्द्र की अवधारणा के बारे में जानकारी दी। वहीं जिला लोक सेवा प्रबंधक श्री मनोज शंखपाल ने पावर पांईट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से लोक सेवा केन्द्र की संपूर्ण प्रक्रिया को विस्तृत से बताया। साथ ही उन्होनें प्रतिभागियों की शंकाओं का समाधान भी किया। इस अवसर पर लेखाधिकारी जिला पंचायत श्री रविन्द्र गांधी सहित अन्य अधिकारी/कर्मचारी और विभिन्न प्रतिभागी उपस्थित रहे। 
क्रमांकः 62/162/सचिन/लो.सेवा/फोटो 


No comments:

Post a Comment