Friday, 22 January 2016

JANSAMPARK NEWS 21-1-16

जिला जनसंपर्क कार्यालय बुरहानपुर म.प्र.
समाचार
अंत्योदय मेला 4 फरवरी को बुरहानपुर में आयोजित होगा
बुरहानपुर/21 जनवरी/-राज्य शासन की विभिन्न योजना का लाभ नागरिकों को एक ही स्थान पर एक साथ दिलाने के उद््देश्य से अंत्योदय मेले आयोजित किये जाते हैं। इसी क्रम में बुरहानपुर के नेहरू स्टेडियम में अंत्योदय मेला 4 फरवरी को प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री कुंवर श्री विजय शाह की अध्यक्षता में आयोजित किया जायेगा। 
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने जिले के विभिन्न अधिकारियों को मेला आयोजन की व्यवस्थाओं के लिये दायित्व सौंप दिये है। उन्होनें सभी अधिकारियों को निर्देश दिये है कि अंत्योदय मेले में वे अपने-अपने विभाग की योजनाओं के हितग्राहियों को अधिक से अधिक संख्या में लाभान्वित करने की व्यवस्था करें। उन्होनें सभी जिला अधिकारियों को अंत्योदय मेले में अपने-अपने स्टॉलों पर विभागीय योजनाओं की जानकारी देने वाली प्रदर्शनी आयोजित करने तथा विभागीय योजनाओं से संबंधित प्रचार सामग्री वितरित कराने के निर्देश भी दिये है। 
कलेक्टर श्रीमती सिंथिया ने अंत्योदय मेले के लिये स्टेडियम में साफ-सफाई व फर्नीचर व्यवस्था, अस्थाई शौचालयों तथा पेयजल एवं प्रकाश व्यवस्था का दायित्व नगर निगम आयुक्त श्री सुरेश रेवाल को सौंपा गया है। नगर निगम को मेले में आने वाले हितग्राहियों के लिये सेक्टरवार बैठक व्यवस्था तैयार कराने के निर्देश दिये है। बेरिकेटिंग के लिये बांस बल्ली की व्यवस्था के लिये वनमण्डलाधिकारी को निर्देश दिये गये है। इस अंत्योदय मेले में जनपद बुरहानपुर के साथ-साथ नगरीय क्षेत्र बुरहानपुर एवं नगर पंचायत शाहपुर क्षेत्र में निवासरत नागरिकों को लाभान्वित किया जायेगा। अंत्योदय मेला स्थल पर अस्थाई चिकित्सा शिविर की व्यवस्था के लिये मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिये गये है। इस मेले के आयोजन के लिये जिला पंचायत सीईओ श्री बसंत कुर्रे को नोडल अधिकारी बनाया गया है। 
जिला विज्ञान मेला 30 जनवरी तक लगाने के निर्देश
बुरहानपुर/21 जनवरी/-राज्य शासन ने जिला शिक्षा अधिकारियों और डीपीसी को अपने-अपने जिलों में 30 जनवरी तक विज्ञान मेला लगाने के निर्देश दिये हैं। मेला पिछले साल की तरह ही होगा। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान में होने वाले विज्ञान मेला/प्रदर्शनी में प्रत्येक शासकीय हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल से चुना हुआ एक विद्यार्थी और एक मार्गदर्शी शिक्षक भाग ले सकेगा।

कलेक्टर श्रीमती सिंथिया गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में होगी मुख्य अतिथि
गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहरण कर लेंगी परेड की सलामी
बुरहानपुर/21 जनवरी/-गणतंत्र दिवस आगामी 26 जनवरी को जिले में हर्षोल्लास एवं समारोह पूर्वक मनाया जायेगा। जिला मुख्यालय पर स्थानीय नेहरू स्टेडियम में आयोजित होने वाले जिला स्तरीय कार्यक्रम की मुख्य अतिथि कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया होंगी। इस जिला स्तरीय कार्यक्रम में कलेक्टर ध्वजारोहरण कर परेड की सलामी लेंगी एवं इस अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं परेड में सराहनीय प्रदर्शन करने वालो को पुरूस्कृत भी करेंगी। प्रदेश सरकार द्वारा जारी आदेश के अनुसार प्रदेश के कुल 23 जिलों में मंत्रीगण गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में ध्वजारोहण करेंगे। जबकि प्रदेश के बुरहानपुर सहित 25 जिलों में जिलों के कलेक्टर ध्वजारोहण करेंगे। 

जिला विज्ञान मेला 30 जनवरी तक लगाने के निर्देश
बुरहानपुर/21 जनवरी/-राज्य शासन ने जिला शिक्षा अधिकारियों और डीपीसी को अपने-अपने जिलों में 30 जनवरी तक विज्ञान मेला लगाने के निर्देश दिये हैं। मेला पिछले साल की तरह ही होगा। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान में होने वाले विज्ञान मेला/प्रदर्शनी में प्रत्येक शासकीय हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल से चुना हुआ एक विद्यार्थी और एक मार्गदर्शी शिक्षक भाग ले सकेगा। 
प्रायमरी स्कूलों की बेहतरी के लिये प्रणाम पाठशाला कार्यक्रम चलेगा
बुरहानपुर/21 जनवरी/-राज्य शासन ने प्रदेश की प्रायमरी शालाओं की बेहतरी के लिये सभी जिला कलेक्टर को ‘‘प्रणाम पाठशाला‘‘ कार्यक्रम के संचालन के निर्देश दिये हैं। शासन का मानना है कि व्यक्ति को अपनी प्राथमिक शाला से गहरा लगाव होता है। इससे उनके द्वारा अपनी प्राथमिक शाला के कल्याण के लिये कुछ कार्य करवाये जा सकते हैं। हालांकि प्राथमिक शिक्षा अभियान के लोक-व्यापीकरण में प्राथमिक शालाओं को मूलभूत सुविधाएँ उपलब्ध करवायी गयी हैं। फिर भी शिक्षा की गुणवत्ता की दृष्टि से प्राथमिक शालाओं में और अधिक सुविधाओं की आवश्यकता बनी रहती है। शाला प्रबंधन समिति स्थानीय स्त्रोतों से आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकती है।
 समिति के सदस्यों और संबंधित शाला के शिक्षकों द्वारा उस शाला में पढ़े हुए नागरिकों से वर्ष में एक बार शाला में आने के लिये अनुरोध किया जायेगा। ऐसे व्यक्ति के शाला में पहुँचने पर उन्हें शाला की आवश्यकताओं के बारे में बताया जायेगा। साथ ही उन्हें स्वेच्छा से अपनी क्षमतानुसार सहयोग के लिये प्रेरित भी किया जायेगा।

No comments:

Post a Comment

dk;kZy; dysDVj ¼tulaidZ½ ftyk & cqjgkuiqj lekpkj vuqlwfpr tkfr csjkstxkj ;qodksa dk 3 ls 7 flracj rd gksxk lk{kkRdkj cqjgk...