Thursday, 10 March 2016

JANSAMPARK NEWS 3-3-16

जिला जनसम्पर्क कार्यालय, बुरहानपुर म.प्र.

समाचार

ग्राम पंचायत जैसिंगपुरा सचिव निलंबित 

बुरहानपुर/3 मार्च 2016/- सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे ने बुरहानपुर विकासखण्ड के तहत ग्राम पंचायत जैसिंगपुरा सचिव श्री संतोष  गुर्जर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। सचिव द्वारा अपने दायित्वों का निर्वहन में लापरवाही एवं कर्तव्य पर प्रायः अनुपस्थित रहने पर निलंबित कर दिया है। 
सीईओ ने बताया कि सचिव द्वारा म.प्र.पंचायत राज-ग्राम स्वराज अधिनियम-1993 एवं म.प्र. पंचायत सेवा (ग्राम पंचायत सचिव भर्ती और सेवा की शर्ते नियम-2011) के नियमों का उल्लघंन किया है। निलंबन अवधि में सचिव का मुख्यालय जिला पंचायत कार्यालय बुरहानपुर रहेगा। इस दौरान सचिव को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी। जैसिंगपुरा पंचायत सचिव का प्रभार आगामी आदेश तक श्री सुरेश नारायण को सौंपा गया हैं। 
क्रमांकः 03/198/सचिन/पं.ग्रा.वि.

समाचार

सुपोषण अभियान अंतर्गत प्रशिक्षण का आयोजन 

कुपोषण से जंग सुपोषण के संग 

बुरहानपुर/3 मार्च 2016/- कलेक्टेªट कार्यालय सभागृह में सुपोषण अभियान अंतर्गत स्नेह शिविरों के आयोजन के लिए पोषण सहयोगीनी एवं पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 
जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री अब्दुल गफ्फार खान ने बताया कि जीवन के प्रारंभिक 5 वर्षो तक पोषण का विशेष महत्व होता है। क्योकि इसका असर पूरे जीवन के विकास और प्रगति पर पड़ता है। उल्लेखनीय है कि जिले में 30 आंगनवाड़ी केन्द्रों पर स्नेह शिविरों का आयोजन 8 मार्च से 21 मार्च तक किया जायेगा। 
विकास होता है प्रभावित
कुपोषण के कारण बच्चों की शारीरिक बुद्धि, बौद्धिक विकास एवं स्वास्थ्य पर बूरा प्रभाव पड़ता है। साथ ही संक्रमण और मृत्यु का भय बना रहता है। शिशुओं को विशेषकर 2 वर्ष से कम आयु के बच्चों में कुपोषण अधिक पाया जाता है। गर्भावस्था से जीवन के पहले दो वर्ष में प्राप्त पोषण का सीधा प्रभाव बच्चों के संपूर्ण विकास एवं बुद्धि पर पड़ता है। 
क्या है उपाय
कुपोषण से बचाव के उपाय के लिये गर्भावस्था में उचित देखभाल, संस्थागत प्रसव, जन्म के तुरंत बाद स्तनपान, 6 माह तक केवल स्तनपान, समय पर उपरी आहार खिलाना प्रारंभ करना, बच्चों की वृद्धि पर नियमित निगरानी, संपूर्ण टीकाकरण करवाना और स्वच्छता का विशेष ध्याना चाहिए। 
टीपः-फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक-1
क्रमांकः 04/199/सचिन/म.स.वि./फोटो 



समाचार

आज खामनी, बंभाड़ा, डोईफोड़िया, बसालीरैयत और हैदरपुर में 

आयोजित होगी किसान सभा 

बुरहानपुर/3 मार्च 2016/- आज 4 मार्च को बुरहानपुर एवं खकनार विकासखण्ड के तहत 05 ग्राम पंचायतों में किसान सभाऐं होगी। इस दौरान कृषि से जुड़े महत्वपूर्ण मसलों पर किसानों के साथ चर्चा की जाएगी। किसान सभा में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, मनरेगा में मेरा खेत-मेरी माटी, फसल चक्र परिवर्तन, कृषि वानिकी एवं कृषि उद्यानिकी को बढ़ावा आदि विषय पर बारे में बताया जायेगा। कृषि उपसंचालक श्री एम.एस.देवके ने बताया कि बुरहानपुर विकासखण्ड अंतर्गत किसान सभा खामनी और बंभाड़ा में आयोजित होगी। वहीं खकनार विकासखण्ड के ग्राम डोईफोड़िया, बसालीरैयत और हैदरपुर में किसान सभा आयोजित होगी।
क्रमांकः 05/200/सचिन/कृषि 

समाचार


महिला दिवस पर 8 मार्च को विशेष ग्रामसभा, व नारी शक्ति चौपाल 

लगेगी

8 से 15 मार्च तक लगातार आयोजित होंगे विभिन्न कार्यक्रम

बुरहानपुर/3 मार्च 2016/- अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदेश में 8 से 15 मार्च तक विभिन्न कार्यक्रम होंगे। सप्ताह के पहले दिन 8 मार्च को विशेष महिला जन-सुनवाई और ग्राम सभाएँ प्रदेश के सभी 52 हजार गाँव में होंगी। महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने यह जानकारी दी। आगामी 8 मार्च को विशेष महिला जन-सुनवाई में कलेक्टर अलग से सिर्फ महिलाओं की सुनवाई करेंगे। विशेष ग्राम-सभाओं में श्महिला नीतिश् के बिन्दुओं पर चर्चा होगी। नारी शक्ति चौपाल में ऐसी महिलाएँ अपनी कहानी सुनायेंगी, जिन्होंने संघर्ष करते हुए एक बेहतर मुकाम हासिल किया है। इस दिन विभिन्न क्षेत्रों में सफल महिलाओं के साथ संवाद होगा। ऐसी महिलाओं के साथ भी संवाद किया जाये, जो एसिड अटेक, शारीरिक अत्याचार और सिंगल मदर हैं और संघर्ष करते हुए उन्होंने समाज में अपना स्थान खुद हासिल किया। आठ मार्च को ही सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे, जिसमें महिला सशक्तिकरण थीम पर प्रस्तुतियाँ दी जायेंगी। इस दिन संघर्षशील महिलाओं का सम्मान भी किया जायेगा।
सप्ताह के दूसरे दिन 9 मार्च को महिलाओं को महिला थाने का भ्रमण करवाया जायेगा। शौर्या दल के सदस्य, महिलाओं और पुलिसकर्मियों के बीच संवाद होगा। इसमें महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराध जैसे- घरेलू हिंसा, दहेज प्रताड़ना, छेड़छाड़, मारपीट और शारीरिक अत्याचार के बारे में एफ.आई.आर. और पुलिस द्वारा की जाने वाली कार्यवाही के बारे में बताया जायेगा। इसी दिन महिलाओं का परिवार परामर्श केन्द्र से परिचय करवाया जायेगा। इन जानकारियों के आधार पर प्रश्न मंच होगा और सही जवाब देने वाली महिलाओं को पुरस्कार दिये जायेंगे। सप्ताह के तीसरे दिन 10 मार्च को महिलाओं को जिला अदालत का भ्रमण करवाया जायेगा। न्यायालयीन कार्यवाही की जानकारी देने के साथ ही महिलाओं, शौर्या दल के साथ न्यायाधीश एवं विधिक सहायता अधिकारियों का संवाद होगा। इसमें महिलाओं से संबंधित कानून एवं अधिकारों की जानकारी दी जायेगी। इसमें सम्पत्ति अधिकार, निरूशुल्क विधिक सहायता, परिवार परामर्श केन्द्र की जानकारी दी जायेगी। 
महिलाओं को रोजगार संबंधी योजनाओं की जानकारी 11 मार्च को दी जायेगी प्रदर्शनी भी लगेगी। इच्छुक महिलाओं को पात्रतानुसार लाभ दिलवाने के लिये मौके पर फार्म भरवाये जायेंगे। मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना की हितग्राही को लाभ दिया जायेगा। जिला उद्योग केन्द्र द्वारा ऋण लेने के संबंध में जानकारी दी जायेगी। स्थानीय आवश्यकतानुसार लघु उद्योगों की स्थापना के लिए प्रशिक्षण और मार्गदर्शन दिया जायेगा। आर.टी.ओ. ड्राइविंग लायसेंस बनाने के लिए स्टॉल लगायेगा। सफल महिला उद्यमियों का सम्मान भी किया जायेगा। बैंक और पोस्ट ऑफिस का 12 मार्च को  भ्रमण करवाया जायेगा। महिलाओं को एकाउंट, एफडी, लोन की पात्रता, गोल्ड लोन, प्रधानमंत्री जन-धन, सुकन्या समृद्धि, एन.एस.सी. आदि की जानकारी दी जायेगी। विशेष स्वास्थ्य शिविर 14 मार्च को लगाये जायेंगे। इनमें डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, सी.वी.सी., आईसाइट, वजन आदि का परीक्षण अनिवार्य रूप से किया जायेगा। महिलाओं को संतुलित आहार, सस्ती सुलभ खाद्य सामग्री और उसकी पौष्टिकता के बारे में जानकारी दी जायेगी। परिवार नियोजन के बारे में भी बताया जायेगा। नशामुक्ति केन्द्र का भ्रमण 15 मार्च को करवाया जायेगा। महिलाओं को शराब, धूम्रपान, गुटखा-तंबाखू, जुआ आदि व्यसन से मुक्ति के उपाय बताये जायेंगे। महिला प्रधान भारतीय फिल्म का प्रदर्शन भी होगा।
क्रमांकः 06/201/सचिन/म.बा.वि.

समाचार


समस्त नोडल अधिकारी ग्रामों में सुबह से दस्तक दें-श्रीमती सिंथिया 


कलेक्टर ने शौचालय निर्माण की समीक्षा बैठक में दिये निर्देश

बुरहानपुर/3 मार्च 2016/- स्वच्छ भारत मिशन के तहत बुरहानपुर विकासखण्ड अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे शौचालय निर्माण कार्यो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। इस दौरान कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने आवंटित ग्राम पंचायतों के नोडल अधिकारियों से ग्रामों में चल रहे शौचालय निर्माण की प्रगति एवं स्थिति का जायजा लिया। साथ ही उन्होने शौचालय निर्माण कार्य तेजी लाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने एडीओ एवं पीसीओ को संबंधित नोडल अधिकारी के सतत् संपर्क में रहकर समन्वय से कार्य करने की समझाईश दी। 
कलेक्टर ने नोडल अधिकारियों को ग्राम पंचायतों में शर्म यात्रा निकालने के निर्देश दिये। उन्होनें आदेश देते हुए कहा इस यात्रा में निगरानी समिति सदस्य, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, वानर सेना, एडीओ, पीसीओ, उपयंत्रियों को शामिल कर गांव में यात्रा निकालेंगे। यह यात्रा गांव के हर घर में जाकर शौचालय निर्माण एवं उसके उपयोग के लिये प्रेरित करें। इसी प्रकार खुले में शौच मुक्त वाली ग्राम पंचायतों में गर्व यात्रा निकाली जायेंगी। 
सभी नोडल अधिकारी ग्रामों में सुबह से दे दस्तक

कलेक्टर ने कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने-अपने आवंटित ग्राम पंचायतों में प्रातः 4 बजे से गांव में निगरानी समिति, सरपंच, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, उपयंत्री, एडीओ, पीसीओ के साथ समन्यक स्थापित कर ग्रामीणों को खुले में शौच बंद करने हेतु मॉनीटरिंग करें। ग्रामीणों को खुले में शौच करने से होेने वाली बीमारियों के बारे में जानकारी देे। 
टीपः-फोटोग्राफ संलग्न क्रमांक-2
क्रमांकः 07/202/सचिन/प्रशासन/फोटो

No comments:

Post a Comment