Wednesday, 8 June 2016

JANSAMPARK NEWS 7-6-16

जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा हेतु आवेदन 16 सितम्बर तक जमा करें 

बुरहानपुर | 07-जून-2016
जवाहर नवोदय विद्यालय लोनी में कक्षा छठवी में प्रवेश हेतु चयन परीक्षा-2017 आगामी 8 जनवरी 2017 को प्रातः 11.30 बजे से आयोजित होगी। उक्त विद्यालय द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी, संबंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी, बुरहानपुर व खकनार विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी के कार्यालय एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नेपानगर में उपलब्ध करा दिये है। यहा से निःशुल्क आवेदन पत्र प्राप्त किये जा सकते है। विद्यालय प्राचार्य ने जानकारी देते हुए बताया कि अभ्यर्थी को सत्र 2016-17 में कक्षा पांचवी में जिले के किसी भी शासकीय या शासन द्वारा मान्यता प्राप्त विद्यालय में अध्ययनरत होना चाहिए। आवेदन पत्र संबंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में 16 सितम्बर 2016 तक जमा किये जायेगे। 
मतदाता सूची शुद्धिकरण व वोटर आईडी का संशोधन अभियान जारी 
वोटर कार्ड में फोटो धुंधली या पुरानी और अस्पष्ट है तो न हों परेशान 
बुरहानपुर | 07-जून-2016
वोटर आईडी कार्ड में अगर फोटो धुंधली है पुरानी है अथवा पहचान में नहीं आ रही है या खराब गुणवत्ता की है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। भारत निर्वाचन आयोग ने इस समस्या को दूर करने तथा मतदाता सूची के शुद्धिकरण के लिये विशेष अभियान प्रारंभ किया है। इस अभियान के अंतर्गत बूथ लेवल अधिकारियों को मतदाता आवश्यक जानकारी देकर और फार्म नम्बर 8 भरकर उक्त समस्या से निजात पा सकते हैं। यह अभियान आगामी 31 अगस्त तक जारी रहेगा।
     कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया ने निर्देश दिये हैं कि इस अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाये। मतदाताओं को प्रेरित किया जाये कि मतदाता सूची के शुद्धिकरण के इस अभियान का अधिक से अधिक लाभ लें। मतदाता सूची में अगर नाम नहीं है तो अपना नाम जुड़वायें। अगर अपने नाम की प्रविष्ठियों में किसी भी तरह का संशोधन हो तो संशोधन करवायें। मृत व्यक्तियों के नाम मतदाता सूची से हटवायें। दो जगह अगर नाम है तो एक जगह से नाम हटवाने की कार्यवाही करें। वोटर आईडी कार्ड में अगर फोटो धुंधली है, पुरानी है अथवा पहचान में नहीं आ रही है या खराब गुणवत्ता की है तो नया फोटो देकर नया रंगीन वोटर आईडी कार्ड बनवा लें। मतदाताओं से अपील की गयी है कि वे अपने घर पर आने वाले बूथ लेवल अधिकारियों को आवश्यक जानकारी दें। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गये निर्देशानुसार मतदाता सूची के शुद्धिकरण और रंगीन वोटर आईडी कार्ड बनाने का अभियान जारी है। यह अभियान 31 अगस्त 2016 तक जारी रहेगा। इस अभियान के अंतर्गत बूथ लेवल अधिकारी पता करेगें कि मतदाता सूची में जिनके नाम हैं उनके मतदाता परिचय-पत्र बनें है कि नहीं। मतदाता किसी भी तरह के संशोधन करवाना चाहते हैं तो फार्म नम्बर 8 भरकर बूथ लेवल अधिकारी को दे सकते हैं। किसी नागरिक का नाम मतदाता सूची में जुड़वाना चाहते हैं तो फार्म नम्बर 6 भरकर आवेदन दे सकते हैं। कॉलेजों में नवप्रवेशित विद्यार्थियों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने के लिये भी विशेष कार्यवाही की जायेगी। इसके लिये प्राचार्यों की अलग से बैठक आयोजित की जायेगी। प्राचार्यों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने-अपने कॉलेजों में नवप्रवेशित विद्यार्थियों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करवाने की कार्यवाही करें। इसके लिये वे प्रवेश आवेदन-पत्र के माध्यम से मतदाता होने की जानकारी लें। अगर वे मतदाता नहीं हैं, तो उनके नाम जुड़वाने के लिये फार्म नम्बर 6 भरवाकर नाम जुड़वाने की कार्यवाही करें।
शालाओं में प्रवेशोत्सव 16 जून को 
"स्कूल चलें हम" अभियान का दूसरा चरण 31 जुलाई तक चलेगा 
बुरहानपुर | 07-जून-2016
 मध्यप्रदेश में "स्कूल चलें हम" अभियान का दूसरा चरण शुरू हो चुका है। दूसरे चरण का मुख्य उद्देश्य स्कूलों में बच्चों का नामांकन एवं उपस्थिति सुनिश्चित करना है। यह अभियान 31 जुलाई तक चलेगा, जिसमें विभिन्न गतिविधि संचालित होंगी। शालाओं में प्रवेशोत्सव 16 जून को होगा। राज्य शासन ने दूसरे चरण की गतिविधियों के सफल संचालन के लिये सभी जिला कलेक्टर, जिला पंचायत के सीईओ, नगर निगमों के आयुक्त और नगर पालिका एवं नगर परिषद के सीएमओ को निर्देश जारी कर दिये हैं।
    बच्चों के शत-प्रतिशत नामांकन के लिये जिला-स्तर पर विकासखण्ड समन्वयकों और जन-शिक्षा केन्द्र प्रभारियों को 16 जून के पहले प्रशिक्षित किया जायेगा। प्रशिक्षण में इस बात पर जोर दिया जायेगा कि कोई भी बच्चा शाला में प्रवेश से न छूटे। प्रशिक्षण में संकुल प्राचार्य भी उपस्थित रहेंगे। शिक्षकों द्वारा शालाओं एवं बच्चों के पालकों से सम्पर्क करने की समय-सीमा 11 से 16 जून निर्धारित की गयी है। शिक्षक उन्हें प्रवेशोत्सव की जानकारी भी देंगे। बच्चों एवं पालकों से सम्पर्क के लिये 15 जून के पहले आँगनवाड़ी केन्द्रों पर शिक्षक पहुँचेंगे।
    अभियान में सहभागिता और आमजन से जुड़ाव की दृष्टि से वातावरण निर्माण के लिये शाला प्रबंध समिति की बैठक 15 जून से पहले होगी। ऐसी शालाएँ, जहाँ विगत 2 वर्ष में नामांकन में गिरावट आयी है, वहाँ की बसाहटों में विशेष ध्यान दिया जायेगा। यह कार्य 30 जून तक किया जायेगा। नामांकन में प्रेरकों की भूमिका को देखते हुए उनका पंजीयन 5 से 12 जून के बीच करवाया जायेगा। समग्र शिक्षा पोर्टल पर 16 जून से प्रवेश की प्रविष्टि करवायी जायेगी। प्रवेशोत्सव के दौरान लगातार 7 दिन तक उत्सवी वातावरण में खेल एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आदि होंगे। प्रवेशोत्सव में बच्चों, पालकों, जन-प्रतिनिधियों, गणमान्य नागरिकों और पूर्व छात्रों को आमंत्रित किया जायेगा। ऐसे प्रयास होंगे कि एक जुलाई तक सभी बच्चों के नाम शाला में दर्ज हो जायें। आगामी 1 जुलाई को होने वाली ग्रामसभा में बच्चों के दर्ज होने की जानकारी भी दी जायेगी। पलायन करने वाले बच्चों की सूची जिला परियोजना समन्वयक को 15 जुलाई तक उपलब्ध करवायी जायेगी। अप्रवेशी एवं शाला त्यागी बच्चों को आवासीय छात्रावास में प्रवेश दिलवाने की कार्यवाही होगी। बालिकाओं को कस्तूरबा गांधी विद्यालय एवं बालिका छात्रावास में प्रवेश दिलवाया जायेगा। विशेष आवश्यकता वाले बच्चों की समावेशित शिक्षा के लिये कक्षा 1 से 8 तक शाला में उनका ठहराव एवं उपस्थिति सुनिश्चित की जायेगी।
    गुणवत्तायुक्त शिक्षा के लिये विशेष कक्षाएँ लगेंगी। शाला-स्तर से विकासखण्ड-स्तर एवं जिला-स्तर पर अकादमिक गुणवत्ता कार्य-योजना तैयार होगी। दूसरे चरण में माध्यमिक शिक्षा के लिये शत-प्रतिशत नामांकन एवं दक्षता सुधार की कार्यवाही की जायेगी। शिक्षकों को माध्यमिक शालाओं का उत्तरदायित्व दिया जायेगा। विगत वर्षों में आठवीं उत्तीर्ण होने के बाद नवमीं कक्षा में दर्ज न होने वाले बच्चों को शाला से पुनरू जोड़ने की कार्यवाही होगी। इसी तरह प्रवेशोत्सव में बारहवीं कक्षा तक विद्यार्थियों का प्रवेश सुनिश्चित किया जायेगा। कक्षा 9 में प्रवेशित बच्चों को 16 से 30 जून तक किताबों के स्थान पर गतिविधि आधारित ब्रिज मॉड्यूल से पढ़ाया जायेगा। ब्रिज कोर्स के बाद 1 अगस्त को उनका पोस्ट टेस्ट होगा। जुलाई माह में नामांकन से शेष रहे गये बच्चों की पहचान कर उनको प्रवेश दिलवाया जायेगा। जो बच्चे दर्ज हो गये हैं, उनकी मेपिंग की जायेगी। बालिका छात्रावासों में निर्धारित सीट की पूर्ति सुनिश्चित की जायेगी। छात्रावासों में पुस्तकालय के लिये स्थान सुनिश्चित कर बालिकाओं को उसके उपयोग के लिये प्रेरित किया जायेगा। साथ ही उनके स्वास्थ्य का परीक्षण अनिवार्य रूप से होगा। जिन छात्रावास के नये भवन बन चुके हैं, उनमें बालिकाओं के आवास की व्यवस्था 10 जून तक करवाने के निर्देश दिये गये हैं। विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को दिये जाने वाले सुविधा भत्ते की जानकारी स्कूलों को दी जायेगी। शासन ने अभियान की व्यापक मॉनीटरिंग के निर्देश भी दिये हैं। 
 

No comments:

Post a Comment