Tuesday, 19 July 2016

JANSAMPARK NEWS 15-7-16

एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क एवं सी.एस.सी. के रजिस्ट्रेशन 21 जुलाई तक 

बुरहानपुर | 15-जुलाई-2016
भारत शासन की कॉमन सर्विस सेण्टर परियोजना सीएससी 2.0 एवं पूर्व में कार्यरत सीएससी जो अन्य एजेंसी के माध्यम से एम.पी. ऑनलाइन की सेवायें दे रहे थे, उनके सीधे एम.पी. ऑनलाइन पोर्टल एवं सीएससी एसपीव्ही पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए निम्नानुसार आवेदन आमंत्रित किये गये। वे सभी सीएससी जो पूर्व में किसी सर्विस सेण्टर एजेंसी (यथा एनआईसीटी, आईसेक्ट, सीएसएस तथा रिलायंस) के माध्यम से एम.पी. ऑनलाइन में रजिस्टर्ड एवं कार्यरत हैं व उन्हें अब राज्य शासन के निर्देशानुसार सीधे एम.पी. ऑनलाइन व डिस्ट्रिक्ट ई गवर्नेंस सोसाइटी (डीईजीएस) के साथ त्रिपक्षीय अनुबंध करना होगा।
    ई-गवर्नेंस प्रबंधक श्री आशीष गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि जो सी एस सी पहले ही एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क के लिए त्रिपक्षीय अनुबंध कर चुके हैं उन्हें दुबारा आवेदन देने की आवश्यकता नहीं होगी। इसके अलावा जो सी एस सी पहले ही (csc.gov.in) पर रजिस्टर्ड हैं उन्हें भी दुबारा आवेदन देने की आवश्यकता नहीं होगी। जो आवेदक नए एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क के लिए आवेदन करना चाहते हैं उनके लिए भी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया प्रारम्भ की जा रही है। इसमें भी जो आवेदक पूर्व में नए एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क के लिए आवेदन कर चुके हैं उन्हें दुबारा आवेदन देने की आवश्यकता नहीं होगी। आवेदन ऑनलाइन एम.पी. ऑनलाइन पोर्टल पर किया जा सकेगा। एम.पी. ऑनलाइन पोर्टल पर उन सभी कियोस्क की सूची प्रदर्शित की जायेगी जो वर्तमान में रजिस्टर्ड हैं या जिन्हें कियोस्क आवंटित किया जा चुका है। इस सूची से नए आवेदकों को अपने लिए कियोस्क का स्थान चुनने में सुविधा होगी।
    त्रिपक्षीय अनुबंध का प्रारूप एवं प्रक्रिया एम.पी. ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध है। csc.gov.in  पर रजिस्टर करने के लिए अनुबंध की आवश्यकता नहीं होगी। एम.पी. ऑनलाइन पोर्टल एवं सी एस सी एस पी व्ही पोर्टल दोनों की सेवाये देने वाले कियोस्कों को को-ब्रांडिंग के दिशा निर्देशों के अनुसार डिस्प्ले बोर्ड लगाना होगा जिसके लिए स्टैण्डर्ड डिजाईन उपलब्ध की जायेगी एवं अलग से भुगतान किया जाएगा। पुराने सी एस सी  के लिए त्रिपक्षीय अनुबंध के लिए आवेदन 21 जुलाई तक स्वीकार किये जायेंगे, नए कियोस्क के लिए आवेदन प्रक्रिया सतत जारी रहेगी। विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिये संयुक्त जिला कार्यालय स्थित जिला ई-गवर्नेंस कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।
निजी स्कूलों में गरीब बच्चों के निःशुल्क प्रवेश के आवेदन 19 जुलाई तक 

बुरहानपुर | 15-जुलाई-2016
प्रदेश में शिक्षा का अधिकार कानून के अंतर्गत प्रायवेट स्कूलों की पहली कक्षा में गरीब परिवारों के बच्चों के निःशुल्क प्रवेश हेतु आवेदन की अंतिम तिथि को राज्य शासन द्वारा 19 जुलाई तक बढ़ाया गया है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश भर में भीषण वर्षा, बाढ़ के चलते शालाओं में हुए अवकाश एवं इंटरनेट की अवरूद्धता की दृष्टि से प्रायवेट स्कूलों की प्रथम कक्षा में निःशुल्क प्रवेश हेतु आवेदन करने एवं प्रवेश हेतु लाटरी आदि प्रक्रियाओं की तिथियों में संशोधन किया गया है। प्रायवेट स्कूलों की प्रथम कक्षा में निःशुल्क प्रवेश ऑनलाईन या ऑफलाइन आवेदन 19 जुलाई तक किये जा सकेंगे। आवेदन-पत्र सभी संबंधित गैर मान्यता प्राप्त अशासकीय स्कूल, जनशिक्षा केन्द्र, बीआरसी/बीईओ कार्यालय, जिला शिक्षा अधिकारी/जिला शिक्षा केन्द्र कार्यालय से निःशुल्क उपलब्ध हैं। भोपाल आरटीई पोर्टल www.educationportal.mp.gov.in/RtePortalपर भी ऑनलाइन आवेदन-पत्र का प्रारूप उपलब्ध है, जिसको डाउनलोड किया जा सकता है। फार्म प्राप्त करने अथवा जमा करने में कोई दिक्कत हो या उन स्कूलों जहाँ सीटें खाली हैं कि जानकारी प्राप्त करने के लिये जिला शिक्षा अधिकारी एवं सर्वशिक्षा अभियान के जिला परियोजना कार्यालय, विकासखण्ड स्रोत केन्द्र कार्यालय में संपर्क किया जा सकता है। 
पट्टों के नवीनीकरण हेतु शिविर आज लोहारमण्डी में आयोजित होगा 

बुरहानपुर | 15-जुलाई-2016
शहरी क्षेत्र में भूखण्ड आवासीय एवं व्यवसायिक प्रयोजन के लिये पट्टे पर दिये गये थे। अधिकांश पट्टों की समयावधि वर्ष 1994 में समाप्त हो चुकी है। इसके लिये शिविरों के माध्यम से पट्टों के नवीनीकरण की कार्यवाही की जा रही है। इसी कड़ी में नजूल ब्लॉक 09 से 16 के लीजधारकों के लिये लोहारमण्डी स्थित शासकीय उर्दु प्राथमिक शाला भवन में आज 16 जुलाई को पट्टा नवीनीकरण हेतु शिविर आयोजित किया जा रहा है। नजूल अधिकारी श्रीमती हेमलता सोलंकी (डावर) ने जानकारी दी कि शिविर प्रातः 11 बजे से सायंकाल 5 बजे तक संचालित होगा। उल्लेखनीय है कि यह शिविर 7 जुलाई को ईद पर्व होने के कारण स्थगित कर दिया गया था।  

No comments:

Post a Comment