Tuesday, 26 July 2016

JANSAMPARK NEWS 23-7-16

बालिकाओं को कुपोषण से मुक्त करने के लिये प्रारंभ करें विशेष अभियान 
अधिकारियों की बैठक में महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनिस ने दिये निर्देश 
बुरहानपुर | 23-जुलाई-2016
प्रदेश सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने शनिवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, कृषि, उद्यानिकी एवं नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें निर्देश दिये कि जिले की बालिकाओं को एनीमिया से मुक्त करने के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दें एवं इसके लिये विशेष अभियान प्रारंभ करें तथा प्रयास करें कि अगले तीन माह में इसके सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे। श्रीमती चिटनिस ने बैठक में बताया कि बालिकाओं में एनीमिया के मामले में बुरहानपुर जिला प्रदेश के टॉपटेन जिलों में है। अतः यहा इस दिशा में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। बैठक में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया, वनमण्डलाधिकारी श्री डी.एस.कनेश, सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे, नगर निगम आयुक्त श्री सुरेश रेवाल, नगर निगम अध्यक्ष श्री मनोज तारवाला सहित विभिन्न पार्षदगण व विभागीय अधिकारी मौजूद थे। 
आंगनवाड़ी केन्द्रों के आसपास लगवाये सुरजने के पौधे
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री अब्दुल गफ्फार खान को निर्देश दिये कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित आंगनवाड़ी केन्द्रों के परिसर में एवं वहां आसपास रहने वाले परिवारों को सुरजने के बीज उद्यानिकी एवं कृषि विभाग की मदद से दिलवाकर सुरजने के पौधे तैयार करायंे। उन्होनें कहा कि सुरजने की फली कुपोषण से मुक्ति के लिये वरदान है, इसकी मदद से नाम मात्र की लागत से गरीब से गरीब परिवार के बच्चों एवं महिलाओं को कुपोषण से मुक्त किया जा सकता है। श्रीमती चिटनिस ने बताया कि सुरजने की फली दही से नौ गुना प्रोटीन एवं गाजर से चार गुना विटामिन ए, पालक से 25 गुना आयरन पाया जाता है। उन्होनें कहा कि कुपोषण का गरीबी से कोई संबंध नही है आवश्यकता केवल खानपान के तरीके बदलने की है। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री खान ने बताया कि जिले में 725 आंगनवाड़ी केन्द्र है सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों एवं वहा के आसपास के 10-10 परिवारों को 4-4 बीज दिये जायेंगे जिससे आंगनवाड़ी के आसपास सुरजने के पर्याप्त पेड़ लग जाये एवं उनकी फलियां आंगनवाड़ियों के बच्चों एवं आसपास रहने वाले बच्चों व महिलाओं को मिल सकें एवं उनका कुपोषण दूर हो सकें।
सभी आंगनवाड़ी केन्द्रो के लिए सरकारी भवन स्वीकृत होंगे
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में कहा कि जिले के सभी आंगनवाड़ी केन्द्रो के लिये सरकारी भवन निर्मित कराये जायेंगे तथा प्रयास किया जायेंगा। अगले एक वर्ष में सभी आंगनवाड़ी केन्द्र सरकारी भवनो में स्थापित हों जाये।
सार्वजनिक स्थलो पर बनाये आँचल कक्ष
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री खान को निर्देश दिये कि शहर के रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड, कलेक्ट्रेट, तहसील कार्यालय सहित सभी सार्वजनिक स्थलों पर यह व्यवस्था सुनिश्चित की जाये कि माताओं को अपने छोटे बच्चों को दूध पिलाने के लिये एक अलग स्थान चिन्हित किया जाये एवं उन स्थानों के बाहर आँचल कक्ष का बोर्ड लगवाया जाये ताकि महिलाओं को यह मालूम हो कि उन्हें बच्चों को स्तनपान कराने के लिये स्थान उपलब्ध रहे।
लाड़ली लक्ष्मियों को इस वर्ष से मिलेंगी छात्रवृत्ति
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में कहा कि लगभग 10 वर्ष पूर्व प्रदेश सरकार ने लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ की थी जिसमें यह प्रावधान था कि बालिका के छठवी कक्षा में आने पर छात्रवृत्ति दी जायेंगी। जिन बालिकाओं को लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ 10 वर्ष पूर्व मिला था वे बालिकाऐं अब कक्षा छठवी में चूंकि आ चुकि है इसलिऐ उन्हें इस वर्ष अगस्त माह में छात्रवृत्ति देने के लिए विशेष अभियान प्रारंभ किया जायेगा।
खुले में शौच से मुक्त बनायें बुरहानपुर शहर को
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में कहा कि हर घर में शौचालय बनवाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत कार्य जारी है। उन्होने बैठक में उपस्थित पार्षदों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे लोगों को शौचालयों का उपयोग करने की समझाईश दे। उन्होने कहा कि गरीब परिवारों के घरों में सरकारी खर्चे पर शौचालय बनवाये जा रहे है। नगर निगम आयुक्त से श्रीमती चिटनिस ने कहा कि शौचालय निर्माण का कार्य बाहर के ठेकेदारो के स्थान पर स्थानीय ठेकेदारो से कराया जाये ताकि कार्य तेजी से पूर्ण हो सके।
विश्व बैंक की मदद से स्वीकृत होगी जिले की पेयजल योजना
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में बताया कि बुरहानपुर शहर की पेयजल योजना विश्व बैंक की मदद से शीघ्र ही स्वीकृत होने जा रही है। उन्होने बताया कि लगभग 131 करोड़ रूपये की लागत वाली इस पेयजल योजना के टेण्डर इस माह के अंत तक हो जायेंगे।
अमृत योजना के तहत स्वीकृत होगी बुरहानपुर की सीवरेज लाइन
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में बताया कि अमृत योजना के तहत शहर की सीवरेज लाइन स्वीकृत करने का कार्य जारी है इसके लिए मैप कास्ट संस्था से बुरहानपुर शहर की विस्तृत कार्ययोजना तैयार कराई जा रही है। इस कार्य में क्षेत्रीय पार्षदों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों की राय ली जायेगी। उन्होनें कहा कि यह कार्ययोजना इस तरह बनाई जायेगी कि शहर की सीवरेज लाइन का गंदा पानी ताप्ती नदी में ना मिले। लगभग 90 करोड़ रूपये की लागत से शहर के गंदे पानी की निकासी के लिए सीवरेज लाइन तैयार की जायेगी।
ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की बेहतर व्यवस्था की जायेगी
    महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बैठक में बताया कि बुरहानपुर शहर की सालिड वेस्ट मेनेजमेंट की विस्तृत कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। लगभग 63 करोड़ रूपये की कार्ययोजना बनाई गई है। इसके तहत नेशनल फर्टिलाईजर लिमिटेड द्वारा बुरहानपुर शहर की ठोस कचरा खरीदा जायेगा जिससें वह खाद तैयार करेगा।





बुरहानपुर में फहरायेगा प्रदेश का ऊंचा तिरंगा 

बुरहानपुर | 23-जुलाई-2016
महिला एवं बाल विकास विभाग की मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए बताया कि प्रदेश का सबसे ऊंचा राष्ट्र ध्वज तिरंगा बुरहानपुर के मरीचिका गार्डन में फहरायेगा। लगभग 40 बाइ 60 फीट आकार का तिरंगा 72 मीटर ऊंचाई पर फहरायेगा। उन्होनें बताया कि आगामी 15 अगस्त को बुरहानपुर में भूमि पूजन कर प्रदेश के सबसे अधिक ऊंचाई पर तिरंगे को फहराने के कार्य का शुभारंभ किया जायेगा। श्रीमती चिटनिस ने बताया कि इस कार्य की लागत लगभग 72 लाख रूपये है, जिसमें विधायक निधि से 40 लाख रूपये व सांसद निधि से 20 लाख रूपये तथा नगर निगम व अन्य मद से योगदान शामिल है। उन्होनें कहा कि यह तिरंगा इतना ऊंचा होगा कि बुरहानपुर शहर की हर छत से देखा जा सकेगा।

दो पंचायत सचिव पद से पृथक किये गये 
 
बुरहानपुर | 23-जुलाई-2016
ग्राम पंचायत जम्बूपानी  में पूर्व में पदस्थ रहे दो पंचायत सचिव श्री छतरसिंह बडोले एवं भरतसिंह पवार को जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री बसंत कुर्रे ने पद से पृथक करने के आदेश जारी किये है। उन्होनें बताया कि ये दोनो पंचायत सचिव जम्बूपानी पंचायत में इनके द्वारा की गई वित्तीय अनियमितओं के कारण पद से पृथक किये गये है। श्री बसंत कुर्रे ने बताया कि इनके विरूद्ध अनियमितओं की शिकायत प्राप्त होने पर इसकी जांच करायी गई तथा जांच में दोषी पाये जाने पर यह कार्यवाही की गई।  
पी.एस.सी मुख्य परीक्षा-2016 के लिए 12 अगस्त तक करें आवेदन 
 
बुरहानपुर | 23-जुलाई-2016
राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा  अर्ह आवेदकों के लिये राज्य सेवा मुख्य परीक्षा-2016 की लिखित परीक्षा 2 नवम्बर से होगी। अर्ह आवेदक मुख्य परीक्षा में बैठने के लिये आवेदन-पत्र एम.पी. ऑनलाइन के जरिये 20 जुलाई से 12 अगस्त तक भर सकेंगे।
      इसके लिये अर्ह आवेदक आयोग की वेबसाइट www.mppsc.com या www.mppscdemo.in और www.mppsc.in पर प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम देख सकते हैं। लिखित परीक्षा के समय प्रवेश-पत्र के साथ आवेदक को अपना मूल फोटो युक्त पहचान-पत्र अनिवार्य रूप से लाना होगा। परीक्षा के समय इसकी प्रतिदिन जाँच होगी। मूल पहचान-पत्र प्रवेश-पत्र के साथ नहीं होने पर परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होगी। विस्तृत जानकारी आयोग की वेबसाइट पर दी गयी है। 
 
जिले में जारी मौसम में 299.8 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज 

बुरहानपुर | 23-जुलाई-2016
जिले में जारी मौसम में अभी तक 299.8 मिली मीटर औसत वर्षा हुई है। पिछले 24 घंटो के दौरान बुरहानपुर तहसील में 8 मि.मी.वर्षा, नेपानगर में 9 मि.मी. एवं खकनार में 10 मि.मी. वर्षा मॉपी गई है। प्रभारी अधीक्षक भू-अभिलेख श्री खुमानसिंह चौहान ने बताया कि अभी तक बुरहानपुर में 264.5 मि.मी, नेपानगर 348 मि.मी. और खकनार में 287 मि.मी. वर्षा ऑकी गई है। जबकि गत वर्ष इसकी तुलना में बुरहानपुर में 200.6 मि.मी., नेपानगर में 221 मि.मी. और खकनार में 127.3 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई थी। 

No comments:

Post a Comment