Saturday, 29 August 2015

JANSAMPARK NEWS 27-8-15

जिला जनसम्पर्क कार्यालय, बुरहानपुर म.प्र.
समाचार
हतनूर ग्राम में लोक कल्याण शिविर संपन्न 
ग्राम स्वच्छ और सुन्दर बनाने के लिये ग्रामीणजन करें पहल 
कलेक्टर ने शिविर का किया अवलोकन 
बुरहानपुर/27 अगस्त/ हतनूर ग्राम में आज लोक कल्याण शिविर संपन्न हुआ। इस दौरान सभी विभागों के स्टॉल लगाये गये। स्टॉलों पर ग्रामीणों की समस्याओं व मांग संबंधी प्रकरणों का निराकरण किया गया। शिविर में ग्रामीण विकास, राजस्व, वन, स्वास्थ्य, हाथ करघा, ग्रामोद्योग, पंजीयन, पीएचई, उद्यानिकी, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, आदिवासी विकास, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, जलसंसाधन विभाग सहित आदि विभाग शामिल थे। 
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया ने शिविर को संबोधित करते हुए ग्रामीणों को अपना आंगन, घर व आसपास साफ-सफाई रखने की सीख दी। उन्होनें कहा कि वर्षा मौसम के दौरान पीने के पानी में क्लोरिन की गोलियां अवश्य डाले। जिससे वर्षाजनित बीमरियों को नियंत्रण किया जा सकता है। उन्होनें ग्राम स्वास्थ्य समिति के सदस्यों/आंगनवाड़ी व आशा कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर ओ.आर.एस. तथा क्लोरिन गोलियों को वितरित करने निर्देश दिये। कलेक्टर ने सभी ग्रामीणजनों से अपने बच्चों को आंगनवाड़ी भेजने हेतु अनुरोध किया। उन्होनें बताया कि आंगनवाड़ी केन्द्रों में शासन द्वारा विभिन्न प्रकार सुविधा जैसें बच्चों को खेलने के लिये खिलौने, शिक्षा, नाश्ता, फ्लेवर दूध, पोषण आहार व भोजन प्रदान किया जा रहा है। शिविर में पीएचई विभाग द्वारा विभागीय योजनाओं के प्रचार-प्रसार संबंधी प्रदर्शनी की आयोजन किया। शिविर में जिला सलाहकार आईइसी श्री राजेश ठाकुर ने ग्रामीणों को जल की शुद्धता एवं स्वच्छता की जानकारी दी गई। कलेक्टर ने जल परीक्षण हेतु सरपंच को फिल्ड टेस्ट किट प्रदाय कर उसकी उपयोगिता समझाई। ग्रामीणों ने कलेक्टर को गांव में गंदगी की समस्या बताई। कलेक्टर ने कहा कि ग्रामीणों को कचरा एकत्र कर चिन्हित स्थान पर फेंकना होगा। तभी हमारा गांव स्वच्छ और सुन्दर बनेगा। सीईओ जिला पंचायत श्री कुर्रे ने भारत सरकार द्वारा संचालित बीमा योजनाओं के बारे में ग्रामीणजनों को जागरूक कर योजना में अधिक से अधिक प्रतिभागिता करने का आव्हान किया। शिविर में सीईओ जनपद बुरहानपुर श्री राकेश शर्मा, तहसीलदार जी.एस.गहरवार, सरपंच श्री राधेश्याम मांगीलाल, सचिव किशोर महाजन सहित अन्य अधिकारिगण उपस्थित रहे। 
टीपः- क्रमांक 5 से 8 तक 




----------
क्रमांक/94/746/2015                                                                     सचिन/प्रशासन/फोटो 
समाचार
राष्ट्रीय पोषण आहार सप्ताह हेतु आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की कार्यशाला सम्पन्न
बुरहानपुर/27 अगस्त/ संचालनालय एकीकृत बाल विकास सेवा म.प्र. द्वारा तैयार कार्ययोजना के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु 01 से 07 सितम्बर 2015 तक चलने वाले ‘राष्ट्रीय पोषण आहार सप्ताह 2015‘ के आयोजन स्थानीय लायन्स डेन में किया गया। उक्त कार्यशाला में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा कार्यकर्ताआंे ने भाग लिया। 
इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी अब्दुल गफ्फार ने राष्ट्रीय पोषण आहार सप्ताह के आयोजन और उद्देश्यों की जानकारी दी। उन्होनें बच्चों को उपरी आहार देने के महत्व, बीमारी के दौरान आहारपूर्ति के साथ-साथ आंगनवाड़ी केंद्रों पर सूचना संचार गतिविधियांे के आयोजन हेतु दिशा-निर्देश प्रदान किए। परियोजना अधिकारी श्रीमती चंद्रकांता वर्मा द्वारा उपरी आहार हेतु परामर्श कौशल के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सुपोषण अभियान पर आधारित फिल्म दिखाई गई। साथ ही बुरहानपुर जिले में विभिन्न आंगनवाड़ी केंद्रों पर किए गए नवाचारों को भी साझा किया गया। कार्यशाला में चंद्रशेखर जांगड़े, मंजूश्री ठाकुर परियोजना अधिकारी भी उपस्थित थे। 
यह गतिविधियां होगी आयोजित:- 28 अगस्त को सखी-सहेली, किशोरी बालिका, पोषण मित्र का प्रशिक्षण, 31 अगस्त को दीवार लेखन किशोरी बालिकाओं के द्वारा,  01 सितम्बर को आंगनवाड़ी केंद्र पर रेडियो कार्यक्रम सुनवाना, 02 सितम्बर को पोषण दस्तक  कर 06 से 08 माह के बच्चांे के परिवार में जानकारी देना एवं शंकाओं का समाधान करना, 03 सितम्बर को 06 माह से 08 माह एवं 8 से 10 माह के शिशु के लिए स्थानीय सामग्री से तैयार व्यंजन का प्रदर्शन, 04 सितम्बर को ‘जीना इसी का नाम है‘ फिल्म का प्रदर्शन किया जायेगा। वही 05 सितम्बर को  08 से 12 माह के बच्चांे के परिवार में पोषण संबंधी जानकारी देकर शंकाओं का समाधान किया जायेगा। 06 सितम्बर को पौष्टिक व्यंजन प्रतियोगिता का आयोजन होगा। 07 सितम्बर को 01 से 03 वर्ष के बच्चांे के परिवार में पोषण दस्तक देकर शंकाओं का समाधान किया जायेगा। 
----------
क्रमांक/95/747/2015                                                                       सचिन/ए.बा.से. 
समाचार
कलेक्टर ने शैक्षणिक गुणवत्ता मूल्यांकन कार्यक्रम अंतर्गत विभिन्न शालाओं का निरीक्षण किया
ग्राम चापोरा, धामनगांव, बोरसर और दापोरा की माध्यमिक शालाओं में बच्चों का शैक्षणिक स्तर जांचा 
एक शिक्षक पर निलंबन की गाज 5 शिक्षकों कारण बताओं सूचना पत्र जारी 
बुरहानपुर/27 अगस्त/आज कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया ने ग्राम चापोरा, धामनगांव, बोरसर और दापोरा स्थित माध्यमिक शालाओं का अवलोकन किया। जिसमें उन्होनें कक्षा 6 वी से 8 वी तक विद्यार्थियों में शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार मूल्यांकन कार्यक्रम अंतर्गत बच्चों के शैक्षणिक स्तर की जांच की। 
सर्वप्रथम उन्होनें ग्राम चापोरा की माध्यमिक शाला का निरीक्षण किया। उन्होनें शिक्षकों को बैठक व्यवस्था सुधारने तथा निर्धारित समय सारणी अनुसार ही परीक्षा कार्यक्रम संपादित करने के निर्देश दिये। शासकीय मराठी माध्यमिक शाला धामनगांव में पहुंचकर परीक्षा दे रहे छात्र-छात्राओं से प्रश्नो के उत्तर पूछनें पर किसी विद्यार्थी के सही जवाब नही देने पर सहायक शिक्षक धनंजय प्रभाकर को निलंबित करने और परीक्षा प्रभारी ईश्वर अम्बेकर को कारण बताओं सूचना पत्र जारी करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिये। इसी प्रकार ग्राम बोरसर की शा. माध्यमिक शाला में भी परीक्षा आयोजन में लापरवाही मिलने पर सहायक अध्यापक कैलाश पाटील को कारण बताओं सूचना पत्र जारी करने निर्देश दिये गये है। वहीं दापोरा में माध्यमिक शाला में परीक्षा में संलग्न शिक्षकों द्वारा घोर लापरवाही बरती गई। जिस पर उक्त शिक्षकों को कारण बताओं सूचना जारी कर कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही करने निर्देशित किया। इस दौरान कलेक्टर ने समस्त शिक्षकों को ईमानदारी से कार्य करने तथा बच्चों के भविष्य को दृष्टिगत रखते हुए समर्पण भावना से पढ़ाने और शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार लाने की समझाईश दी। दापोरा स्कूल किचन शेड में तैयार हो रहे मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता का परीक्षण भी भोजन चख कर किया। साथ ही समूह की महिलाओं एवं शिक्षकों को स्वच्छता के व्यापक उपाय करने के निर्देश दिये। 




टीपः- क्रमांक 1 से 4 तक 

----------
क्रमांक/96/748/2015                                                                सचिन/शिक्षा/फोटो

समाचार
घर-घर जाकर खुले में शौच नहीं करने की सीख ग्रामीणों को दी
साथ ही ग्रामीणों को शौचालय निर्माण व उपयोग करने अनुरोध किया 
बुरहानपुर/27 अगस्त/ स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत ग्रामों में विभिन्न कार्यक्रम चलाये जा रहे है। स्वच्छ भारत मिशन जिला समन्वयक श्री प्रवीण गुप्ता एवं मास्टर टेनर्स श्री धोण्डू प्रजापति द्वारा ग्रामीणों के घर-घर जाकर शौचालय निर्माण और उसके उपयोग करने हेतु जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है। 
इस दौरान मास्टर टेनर्स श्री प्रजापति द्वारा स्कूल, आंगनवाड़ी एवं ग्रामीणों की चौपाल लगाकर खुले में शौच नही करने हेतु जागरूकता फैलाई जा रही है। उन्होनें ग्रामीणों को बताया कि खुले में शौच करने से गंदगी पर मक्खी बैठते है। वही मक्खी भोजन और पेयजल बैठती है। जिससें कीटाणु पैदा होते है। वही कीटाणु भोजन व पानी के माध्यम से हमारे शरीर में प्रवेश करते है। जिससें उल्दी, दस्त, डेंगू, मलेरिया आदि अन्य घातक बीमारी होती है। साथ ही उन्होनें अवगत कराया अगर परिवार का एक सदस्य भी बीमार होता है, तो उसके उपचार के लिये एक वर्ष में जितनी राशि खर्च होती है। उतनी राशि में शौचालय निर्माण हो सकता है। इस मौके पर सरपंच श्रीमती सुनंदाबाई नामदेव पाटील, उपसरपंच प्रभाकर यावतकर, सचिव संतोष पाटील, रोजगार सहायक भारती यावतकर सहित ग्रामीणजन उपस्थित रहे। 


----------
क्रमांक/97/749/2015                                                                 सचिन/स्वच्छता/फोटो
समाचार
राष्ट्र निर्माण’’ विषय पर व्याख्यानमाला सम्पन्न    
राष्ट्र के निर्माण में व्यक्ति के नैतिक मूल्यों को सकारात्मक होना चाहिये
बुरहानपुर/27 अगस्त/व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के अंतर्गत शासकीय महाविद्यालय में आज ‘‘हम करे राष्ट्र निर्माण’’ पर व्याख्यान माला का आयोजन किया गया। मीडिया प्रभारी डॉ. प्रमोद गुप्ता ने बताया कि कार्यक्रम में मध्य प्रदेष गान की प्रस्तुति दी गई। इस मौके पर विद्यार्थियों में कु. षिल्पा चौकसे, कु. संगीता सोनवणे, नत्थु बर्डे, मनोज महाजन, मो. मुसन्ना हारिस ने भाषण एवं स्वयं लिखित ‘‘सजा दो हिन्दुस्तान’’ कविता प्रस्तुत की। इसके अतिरिक्त मो. तारिक, तनवीर आलम, समीना, मनीषा सोनवणे, नाजमीन, शबनम ने राष्ट्र निर्माण एवं देष भक्ति से ओत-प्रोत अपने विचार प्रस्तुत किये । 
कार्यक्रम में विषिष्ट अतिथि के रूप में देष के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री शत्रुध्न शोभाराम चौहान ने राष्ट्रीय आंदोलन में स्वयं द्वारा किये गये संघर्ष से प्राप्त आजादी का वर्णन किया, आपने बताया कि तिरंगंे को फहराने के लिये कितनी जद्दो जहद का सामना करना पडता था किस प्रकार गोली और लाठी का सामना करना पडता था।महाविद्यालय के श्री रफीक अंसारी के द्वारा आजादी के दिवानों के लिये एक नज्म इर्तेका का सफर प्रस्तुत की गई। वही समाज सेवी श्री घनष्याम मालवीय ने अपने उद्बोधन में कहा कि राष्ट्र का निमार्ण देष के प्रत्येक नोजवानो द्वारा प्रस्तुत अपने व्यक्तित्व से होता है जिस युवा में देष के प्रति सम्मान सद्भाव है वही नौजवान राष्ट्र के निर्माण में अपनी सहभागीता निभाता है। पूर्व महापौर श्री अतुल पटैल ने अपने व्याख्यान में विद्यार्थियों से कहा कि - राष्ट्र के निर्माण में व्यक्ति के नैतिक मूल्यों को सकारात्मक होना चाहिये यदि युवा वर्ग ने अपने मूल्यों को खो दिया तो निर्माण के विकास में कमी दिखाई देना प्रारंभ हो जायेगी। कार्यक्रम के अध्यक्ष महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.सुषील सोमवंषी ने कहा कि - आप मौलिक अधिकारों के प्रति सजग तो है ही किन्तु आज अधिक आवष्यकता इस बात की है कि आप मौलिक कर्त्तव्य के प्रति भी और अधिक सजग हो और राष्ट्र को हानि पहुचाने वाले तत्वों या व्यक्तियों को यथास्थान रोकने का प्रयास करें। कार्यक्रम में महाविद्यालय के डॉ.संगीता सोमवंषी, श्री एस.के.पाराषर, श्री ़ित्रदिप कुलकर्णी, श्री महेन्द्र राणे, श्री अंकित चौहान, श्री दुर्गेष सराठे, श्री प्रकाष भालसे महाविद्यालय परिवार के साथ उपस्थित थें। कार्यक्रम का संचालन डॉ.प्रमोद गुप्ता एवं आभार कु.सोनल विवरेकर ने माना। 


                                                            ----------
क्रमांक/98/750/2015                                                                     सचिन/उच्च.शि./फोटो

No comments:

Post a Comment