Friday, 7 August 2015

JANSAMPARK NEWS 7-8-15

जिला जनसंपर्क कार्यालय, बुरहानपुर म.प्र.
समाचार
शासन द्वारा संचालित बीमा योजनाओं हेतु पार्षदगणों का सहयोग अपेक्षित-श्री भोंसले 
महापौर ने शिविर में सहयोग के लिये किया आश्वस्त 
बुरहानपुर/7 अगस्त / भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं अटल पेंशन योजना संचालित है। प्रीमियम की राशि खाताधारक के बचत खाते से बैंक द्वारा ऑटो डेबिट सुविधा के माध्यम से जमा की जा सकती है। कोई भी व्यक्ति एक बचत खाता द्वारा ही उक्त योजना के लिये पात्र होगा। इस संबंध में आज कलेक्टोरेट सभागार में नगर निगम क्षेत्र के पार्षदगणों की बैठक संपन्न हुई। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल नगर निगम आयुक्त श्री सुरेश रेवाल, कार्यपालन यंत्री श्री डी.के.पटेल सहित सम्मानीय पार्षदगण उपस्थित रहे। 
महापौर श्री अनिल भोसले ने नगर निगम क्षेत्रान्तर्गत बीमा प्रकरण बनाने के लिये वार्ड पार्षदों से सहयोग की अपेक्षा की है। उन्होंनें कहा कि किसी वार्ड में वार्ड पार्षद द्वारा उक्त योजना के तहत शिविर आयोजित किया जाता है। तो उसका सहयोग नगर निगम द्वारा किया जायेगा। उन्होनें सभी पार्षदगणों से अनुरोध किया कि अपने-अपने वार्ड में प्रधानमंत्री सुरक्षा एवं जीवन ज्योति बीमा योजना और अटल पेंशन योजनान्तर्गत कैम्प लगाकर सभी नागरिकों के प्रकरण अवश्य बनायें। ताकि भविष्य में हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा सके। उन्होनें कहा कि यह योजनाऐं बहुत ही लाभदायक है। इसके लिये हमें सभी लोगों को प्रेरित करने की आवश्यकता है। 
नगर निगम अध्यक्ष श्री मनोज तारवाला ने कहा कि उक्त योजनाओं में पात्रता के आधार पर प्रत्येक परिवार के सदस्यों का बीमा किया जाना है। उन्होनें कहा कि प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत वार्षिक प्रीमियम सिर्फ 12 रूपये जमा करने पर 2 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा हो जाता है। इस योजना में समस्त बचत बैंक खाताधारक जिनकी आयु 18 से 70 वर्ष है। वे योजना में पात्र होगें। इस बीमा दुर्घटना में स्थाई निःशक्ता भी शामिल की गई है। इसके लिये हम सभी को मिलकर प्रयास करना होगा। 
सहयोग हेतु आगे आये पार्षदगण 
बैठक में सभी पार्षदों ने योजनाओं में जिला प्रशासन एवं आमजन का हर संभव सहयोग करने की बात कही। उन्होनें कहा कि वार्ड/मोहल्लों में बैठक कर सभी आमजन में बीमे से जूड़ी सभी योजनाओं के बारें जागरूकता लायी जायेगी। जिससंे योजना में ज्यादा से ज्यादा हितग्राही जूडे़। यह केन्द्र एवं राज्य शासन का सराहनीय प्रयास है। 
कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया ने बैठक में जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री जन सुरक्षा बीमा तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा के लिये 15 अगस्त 2015 के पश्चात मेडिकल सर्टिफिकेट अनिवार्य किया गया है। उन्होनें जिले के बीमा से बचे हुये सभी नागरिकों से अनुरोध किया गया है कि इस कार्य में लगे अधिकारियों/कर्मचारियों/आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/पीडीएस सेल्समेन/पंचायत सचिव से संपर्क कर वे 15 अगस्त से पूर्व अपना बीमा करा ले। अन्यथा मेडिकल सर्टिफिकेट देने के बाद ही बीमा होगा। 
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति एवं प्रधानमंत्री बीमा सुरक्षा योजना:- बैठक में कलेक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना में वार्षिक प्रीमियम कुल 330 रूपये बैंक खाताधारक को जमा करना है। जिसमें 2 लाख रूपये का जीवन ज्योति बीमा कराया जा सकता है। इस हेतु बचत बैंक खाताधारक की आयु 18 से 50 वर्ष होना चाहिए। इसमें आपके बाद परिवार को भी बीमा राशि मिलेगी। इसी प्रकार प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत वार्षिक प्रीमियम सिर्फ 12 रूपये जमा करने पर 2 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा होगा। उक्त दोनों योजना के लिये खाताधारक के बैंक खाते में 342 रूपये होना आवश्यक है। 
अटल पेंशन योजना:- अटल पेंशन योजना में मासिक पेंशन 1000 से 5000 रूपये तक की राशि जमा की गई प्रीमियम के अनुपात में हितग्राही को लाभान्वित किया जायेगा। इसमें भी आयकरदाता छोड़कर सभी को योजना से लाभान्वित किया जाना है। जिनके बैंक में खाते नही है। उनके बैंक एकाउन्ट खुलवायें जा रहे है। उन्होनें सभी पार्षदगणों से कहा कि उक्त योजनाओं के बारें में सभी लोगों को जानकारी अवश्य देे। अधिक से अधिक वार्ड/मोहल्ला बैठक करें। उसमें सभी को योजनाओं की जानकारी दे। साथ ही बीमा प्रकरण बनाने हेतु प्रेरित भी करें। ताकि भविष्य में आमजन को योजना का लाभ दिलाया जा सके। कलेक्टर ने पुनः जिले के आमजन से अपील करते हुए कहा है कि प्रत्येक खाताधारक बीमा अवश्य कराये। नगर निगम के अधिकारी/कर्मचारी आपके क्षेत्र में जब भी आये तो आगे आकर इस योजना का लाभ ले। उनके द्वारा वहां फार्म भरें जा रहे है। जिसकी प्रतिपूर्ति कर इस योजना का लाभ उठाये। ताकि जिले को आवंटित लक्ष्य की पूर्ति हो सके। 

 ----------
क्रमांक-28/680/2015                                                                   सचिन/प्रशासन/फोटो

समाचार
रामेश्वरम्् तीर्थ यात्रा अपरिहार्य कारणों से स्थगित 
आगामी तिथि की सूचना पृथक से दी जावेगी
बुरहानपुर/7 अगस्त /राज्य शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजनान्तर्गत जिले से रामेश्वरम् की यात्रा 9 से 14 अगस्त 2015 तक जाना थी। इस संबंध में नगरीय एवं ग्रामीण निकाय को जिले से 975 चयनित यात्रियों की सूची भेजी जा चुकी है। 
उक्त जानकारी सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे ने दी। उन्होनें नगरीय एवं ग्रामीण निकायों को यात्रा संबंध में तीर्थयात्रियों को यात्रा स्थगन की सूचना देने निर्देश दिये है। आगामी यात्रा कार्यक्रम की सूचना पृथक से दी जावेगी। 
----------
क्रमांक-29/681/2015                                                                         सचिन/पं.ग्रा.वि.
समाचार 
‘कामकाज के दौरान न भूलें स्तनपान’- श्रीमती सिंथिया
बच्चों के सर्वंगीण विकास हेतु पोस्टरों का विमोचन
बुरहानपुर/7 अगस्त/ षिषु और महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार के लिए स्तनपान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 1 से 7 अगस्त तक जिले भर में विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया गया। वर्ल्ड एलाइंस फोर ब्रेस्टफिडिंग ऐक्शन ;ॅ।ठ।द्ध ने मां के दूध को बढ़ावा देने के उद्देश्य से वर्ष 1992 में विश्व स्तनपान सप्ताह की शुरुआत की थी। अब इस सप्ताह को भारत सहित 170 से अधिक देषों में मनाया जाता है। इस बार विश्व स्तनपान सप्ताह की थीम -”ब्रेस्टफीडिंग एण्ड वर्क, लेट्स मेक इट वर्क“ यथा कामकाज के दौरान भी न भूलें स्तनपान  थी। इस संदेष के प्रचार-प्रसार के लिए 1 से 7 अगस्त तक जिले में विभिन्न स्तरों पर जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्तनपान सप्ताह का समापन बुरहानपुर जिले में कलेक्टर जेपी आईरीन सिंथिया की अध्यक्षता में कलेक्टरेट में आयोजित मिडिया कार्यषाला के साथ किया गया। जिसमें जिले भर के मिडियाकर्मीयों ने प्रतिभागीता की।
कलेक्टर श्रीमती जेपी आईरीन सिंथिया ने कार्यषाला में बताया की  है कि जन्म के एक घंटे के भीतर ही यदि शिशु को स्तनपान कराया जाए। तो 22 प्रतिशत नवजात षिषुओ को मृत्यु से बचाया जा सकता है। जन्म के बाद मां का पहल दूध यानी कि कोलेस्स्ट्रम देना षिषु की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आवष्यक है। इतना ही नहीं शिशु के बेहतर षारीरिक और मानसिक विकास के लिए आवष्यक है, कि उसे जन्म छः माह की उम्र तक केवल स्तनपान करवाया जाए। साथ ही छः माह का होने पर स्तनपान के साथ-साथ षिषु को पर्याप्त, सुरक्षित एवं उपयुक्त पूरक/ऊपरी आहार दिया जाए। जो छोटे बच्चों की पोषण आवष्यकता को पूरा कर सके। पूरक/ऊपरी आहर के साथ दो वर्ष या अधिक स्तनपान जारी रखा जाए। उन्हांेने मिडियाकर्मीयों से स्तनपान के संबंध में वर्षभर प्रचार-प्रसार करने का आव्हान किया। साथ ही प्रधानमंत्री बीमा योजनाओं में सभी मिडिया कर्मीयो को पंजीयन कराने हेतु अनुरोध भी किया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी अब्दुल गफफ्ार ने बताया की कि पिछले वर्षों में कामकाजी माताओं की संख्या बढ़ने के साथ ही उनमें स्तनपान को नजर अंदाज करने की प्रवृत्ति बढ़ी है। वे षिषु को बॉटल से ऊपर का दूध दे रही हैं। जिससे षिषु को संक्रमण हो सकता है। उसकी पोषण संबंधी आवष्यकताओं की पूर्ति भी नहीं होती। ऐसे में 01 से 07 अगस्त 2015 तक चलने वाले सप्ताह के दौरान माताओं को जानकारी दी गई। कि जन्म के बाद छः माह में नवजात शिशु को करवाया गया स्तनपान न केवल भरपूर पोषण देता है। बल्कि यह उसके शारीरिक मानसिक विकास एवं स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी है। उन्होने कहा की यह महत्वपूर्ण है कि परिवार तथा महिलाओं को स्तनपान के फायदे, स्तनपान और शरीर की प्रतिरक्षण क्षमता, नवजात शिशु का विकास, स्तनपान और मां का स्वास्थ्य आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाए। यह भी समझाया कि स्तनपान शिशु के स्वास्थ्य के लिए जितना जरूरी होता है। उतना ही मां के लिए भी आवश्यक होता है। मां के दूध में सभी पोषक तत्व बिलकुल सही अनुपात में होते हैं। इसका कोई विकल्प नहीं हो सकता। 
इस अवसर पर ए सी एफ द्वारा बच्चों के सर्वंगीण विकास हेतु तैयार किये गए पोस्टरों का विमोचन भी किया गया। यह पोस्टर जिले के सभी आंगनवाडी केन्द्रों पर लगाए जाएगें। इस कार्यषाला में जिले भर के इलेक्ट्रानिक एवं प्रिंट मिडिया के मिडिया कर्मीयों ने षिरकत की।
म0प्र0 एवं बुरहानपुर के पोषण संबंधी सुचकांक की वर्तमान स्थिति
क्र.  सूचकांक  म0प्र0 की स्थिति एन.आई.एन (2010)रु  बुरहानपुर की स्थिति एन.आई.एन
(2010)रु
5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में कम वजन का प्रतिषत  51.9  55.4
5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में बौनापन  (ठिगनापन)  का प्रतिषत  48.9  48.6
5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में मांसपेषियों के क्षय का प्रतिषत  25.8  26.7
5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में मांसपेषियों के अति गंभीर क्षय का प्रतिषत ;ै।ड दृ गंभीर कुपोषणद्ध  8.3  6.7
5 जन्म के 1 घन्टे के भीतर स्तनपान की शुरुआत का प्रतिषत  26.4 42.6
6 जन्म से 5 माह के बच्चें में केवल स्तनपान का प्रतिषत 71.0 25.5
7 बच्चों में 6 माह की आयु पुर्ण होने के पष्चात उपरी आहार की ष्षुरुआत का प्रतिषत 23.5 30.7
8 केलोस्ट्रम फिडिंग 26.4 94.6

----------
क्रमांक-30/682/2015                                                     सचिन/ए.बा.से./फोटो
समाचार 
आंगनवाडी कार्यकर्ता और सहायिकाओं की नियुक्ति-अंतिम सूची जारी 
बुरहानपुर/7 अगस्त/ जिले में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं की नियुक्ति हेतु विकासखण्ड स्तरीय चयन समितियों द्वारा जारी अनन्तिम सूची के विरूद्ध प्राप्त आपत्तियों के निराकरण हेतु 22 जुलाई 2015 को जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक सीईओ  जिला पंचायत बुरहानपुर के अध्यक्षता में आयोजित की गई थी। आपत्तियों के निराकरण के पश्चात जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा बुरहानपुर द्वारा पांच आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं तीन सहायिकाओं की अंतिम सूची का प्रकाशन किया गया है। जिसका अवलोकन संबंधित कार्यालयों के सूचना पटल पर किया जा सकता है। अंतिम सूची के विरूद्ध अपील न्यायालय कलेक्टर में प्रस्तुत की जा सकती है। संबंधित परियोजना अधिकारियों को दो दिवस में नियुक्ति आदेश प्रदान करने हेतु निर्देशित किया गया है। 
----------
क्रमांक-31/683/2015                                                                           सचिन/ए.बा.से.

No comments:

Post a Comment