Saturday, 21 November 2015

JANSAMPARK NEWS 7-11-15

जिला जनसंपर्क कार्यालय, बुरहानपुर म.प्र. 

समाचार 

जिले में तिलहनी एवं दलहनी फसलों में उर्वरक के प्रयोग हेतु किसानो 

को सलाह

बुरहानपुर/7 नवम्बर/ कृषि कल्याण एवं कृषि विकास विभाग द्वारा जिले के कृषकों को सलाह दी गई है कि तिलहनी एवं दलहन फसलों में जिप्सम का उपयोग करने से फास्फोरस, सिलिका, मैग्नीशियम एवं पोटॉश की उपलब्धता बढ़ती है। मृदा में उपलब्ध क्षारों का विषैला प्रभाव कम होता हैं। 
उपसंचालक कृषि श्री एम.एस.देवके ने बताया कि जिप्सम का उपयोग फूल आते समय फसलों के चारों ओर छिड़क कर भी किया जा सकता है। सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली जैसे स्प्रिंक्लर और ड्रिप का उपयोग करने से 30 से 70 प्रतिशत जल की बचत होती है। वहीं असमतल जमीन में पानी का समान व समुचित उपयोग होता है। भू-उपचार हेतु ट्राइक्रोडर्मा विरड़ी एवं जैव उर्वरक कल्चर की सिफारिश की गई मात्रा 5 लीटर जल में घोल बनाकर 100 कि.ग्रा. पकी देशी खाद अथवा नाडेप खाद या वर्मी कम्पोस्ट में समान रूप से घोल को मिलाकर शाम के समय बुवाई के पूर्व खेत में छिडकाव करें। यदि किसान भाई एक से अधिक कृषि रसायन से बीज उपचार करना है तो सर्वप्रथम फूंद नाशक उसके बाद कीटनाशक और अंत में जैव उर्वरक से बीज उपचार करें। उपचारित बीज 30 मिनट पश्चात् बुवाई के लिये तैयार हो जाता है। यूरिया के अधिकतम् एवं दक्ष उपयोग हेतु नीम लेपित यूरिया का प्रयोग करें या 6 कि.ग्रा यूरिया के साथ 1 कि.ग्रा. खली का मिश्रण बनाकर यूरिया का उपयोग टॉप ड्रेसिंग के लिये करें। 
      दलहनी फसलों में इल्ली से बचाव हेतु चिड़ियों के बैठने के लिये अंग्रेजी के अक्षर ‘‘टी‘‘ के आकार की लगभग 4 फुट लंबी 20-25 खूटियाँ प्रति हेक्टेयर की दर से उपयोग करें। किसान भाई अधिक जानकारी के लिये अपने ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी या विकासखण्ड स्तर पर संबंधित वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी कार्यालय में सम्पर्क कर सकते है।  
-------
क्रमांक-25/942/2015                              सचिन/कृषि
समाचार 

किसानों को बीज वितरण अनुदान सीधे बैंक खाते में जमा होगा-श्री

देवके

बुरहानपुर/7 नवम्बर/ कृषि कल्याण एवं कृषि विकास विभाग उपसंचालक श्री एम.एस.देवके ने बताया कि जिले में रबी सीजन के लिये गेंहूॅ एवं चना का बीज उपलब्ध है। जिसमें मुख्यतः गेंहूॅ की किस्म एसआई-8663, गेंहॅू जी.डब्ल्यू-366 जो की 3-4 सिंचाई में एवं 12 से 15 क्विंटल उपज प्रति एकड़ प्राप्त होती है। इसी प्रकार चने मे भी जेजी-11, जाकी-9218, जेजी-16, जेजी-130 एवं राजविजय 203, तथा वैभव (काटे वाली किस्म) आदि मध्यम दाने की किस्म उपलब्ध है। उक्त किस्मों पर शासन व्दारा वितरण अनुदान निर्धारित है। गेंहूॅ पर रू. 1000/- तथा चना पर रू. 1600/- प्रति क्विटल वितरण अनुदान का प्रावधान है। बीज अनुदान प्राप्त करने के लिये कृषक को बीज खरदते समय बीज की पूरी कीमत जमा करनी होगी। इसके बाद अनुदान की राशि कृषक के खाते में सीधे जमा की जावेगी। गेहूॅ बीज की कीमत 3150/- तथा चना 6200/- प्रति क्विटल है। इस प्रकार कृषक को अनुदान प्राप्त होने पर गेंहूॅ बीज 2150/- तथा चना बीज 4600/- प्रति क्विंटल में प्राप्त होगा। अधिक जानकारी के लिये किसान भाई बीज निगम प्रभारी श्री ए.के. सैनी मोबाईल नम्बर-94254-44055 और उपसंचालक कृषि जिला बुरहानपुर का मोबाईल नम्बर- 94066-37546 पर सम्पर्क कर सकते है। 
-------
क्रमांक-26/943/2015                              सचिन/कृषि
समाचार
 
शासकीय रोपणी बसाड़ में फलबहार नीलामी 17 को
  
बुरहानपुर/7 नवम्बर/- जिले की शासकीय रोपणी बसाड़ में फलबहार की नीलामी 17 नवम्बर 2015 को अपरान्ह 3 बजे होगी। जिसमें अमरूद के 90 वृक्ष की नीलामी शर्तो के अधीन की जावेगी। उपसंचालक उद्यान सुश्री सानू मेश्राम ने उक्त जानकारी दी। इस संबंध में कार्यालय उद्यान विभाग संयुक्त कार्यालय भवन बुरहानपुर से कार्यालयीन समय में संपर्क कर विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते है। 
-------
क्रमांक-27/944/2015                           सचिन/उद्यानीकि

समाचार 

पंचायतों में संचालित योजनाओं के लक्ष्य अनुसार कार्य पूर्ण करने 

निर्देश जारी

बुरहानपुर/7 नवम्बर/- जिले में ग्राम पंचायत सचिव अपने-अपने ग्राम पंचायतों में संचालित योजनाओं में प्राप्त लक्ष्य अनुसार कार्य एक माह में पूर्ण करने निर्देश दिये गये है। गत दिनों खकनार विकासखण्ड में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया की अध्यक्षता में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गई थी। इस दौरान उन्होनें स्वच्छ भारत मिशन, समग्र पेंशन पोर्टल, मनरेगा, इंदिरा आवास योजना, सांसद/विधायक मद आदि कार्यो की प्रगति पर अप्रसन्नता व्यक्त की गई। 
कलेक्टर ने सचिवों को एक माह में लंबित पडे़ कार्यो को पूर्ण कर प्रगति की जानकारी लेकर आगामी बैठक में उपस्थित होने निर्देशित किया है। सीईओ ने बताया कि सचिवों को योजनाओं में प्राप्त लक्ष्य को पूर्ण कर प्रगति रिपोर्ट 30 नवम्बर 2015 तक सीईओ जनपद पंचायत खकनार को प्रस्तुत करने निर्देश दे दिये गये है। प्रगति संजोषजनक नही होने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जावेगी। 
-------
क्रमांक-28/945/2015                             सचिन/पं.ग्रा.वि.

समाचार

विधानसभा क्षेत्र नेपानगर हेतु 2 नवीन मतदान केन्द्र स्थापित 

बुरहानपुर/7 नवम्बर/- विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-179 नेपानगर के 2 मतदान केन्द्रों क्रमशः 195 डबाली खुर्द एवं 218 जैनाबाद में मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1250 से अधिक होने के कारण पृथक से मतदान केन्द्र स्थापित करने संबंधी प्रस्ताव भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली को भेजे गये थे। 
अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रकाश रेवाल ने बताया कि आयोग के निर्देशानुसार अब विधानसभा क्षेत्र नेपानगर में कुल 296 मतदान केन्द्र होगें। जिनमें मतदान केन्द्र 196 डबाली खुर्द अतिरिक्त कक्ष विमुक्त जाति बालक आश्रम डबाली खुर्द और मतदान केन्द्र क्रमांक 220 जैनाबाद सामुदायिक भवन ग्राम जैनाबाद गिट्टी खदान शामिल है। 

-------
क्रमांक-29/946/2015                             सचिन/निर्वा. 




प्राथमिक/माध्यमिक शालाओं हेतु अक्टूबर, नवम्बर और दिसम्बर माह

 के लिये खाद्यान्न आवंटित 

बुरहानपुर/7 नवम्बर/ जिले में मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अंतर्गत प्राथमिक/माध्यमिक शालाओं में 65 दिवसों के लिये खाद्यान्न कोटा आवंटित किया गया है। 
जिला पंचायत सीईओ श्री बसंत कुर्रे ने बताया कि यह आवंटन प्राथमिक/माध्यमिक शालाओं के लिये सत्र 2015-16 में माह अक्टूबर/नवम्बर/दिसम्बर 2015 की अवधि के लिये दिया गया है। जिसमें प्राथमिक शालाओं हेतु कुल 2318.77 खाद्यान्न दिया गया है। जिसमें 1916.15 क्विंटल गेहूँ और 402.62 क्विंटल चांवल शामिल है। इसी प्रकार माध्यमिक शालाओं के लिये कुल 1497.61 क्विंटल खाद्यान्न आवंटित किया है। इसमें गेहूँ 1230.25 एवं चांवल 267.36 क्विंटल सम्मिलित है। उन्होनें नागरिक आपूर्ति निगम प्रबंधक को शासकीय उचित मूल्य की दुकान को अच्छी किस्म का खाद्यान्न प्रदाय करने निर्देश दिये है। 
-------
क्रमांक-30/947/2015                             सचिन/पं.ग्रा.

समाचार 

रोजगारमूलक योजनाओं में प्रकरण स्वीकृत कराकर शत-प्रतिशत वितरण कराये-श्रीमती 

सिंथिया 

कलेक्टर ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिये निर्देश 

बुरहानपुर/7 नवम्बर/कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरीन सिंथिया की अध्यक्षता में शासन की हितग्राहीमूलक योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु समीक्षा बैठक संपन्न हुई। 
बैठक में कलेक्टर ने उद्योग विभाग में संचालित योजना की प्रगति संबंधी जानकारी प्राप्त की। कलेक्टर ने उद्योग विभाग को निर्देश दिये कि नवम्बर माह तक शत-प्रतिशत प्रकरण स्वीकृत कर वितरण कराना सुचिश्चित करें। इसी प्रकार हाथकरघा उपसंचालक से कहा कि लंबित प्रकरणों को स्वीकृत कर वितरण की कार्यवाही शीघ्रता से करें। ताकि पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा सकें। जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक सभी बैंकों को निर्देशित करें कि विभाग द्वारा सभी प्रकरणों में शत-प्रतिशत वितरण की कार्यवाही जल्द करवायें। साथ ही मार्जिन मनी राशि के लिये प्रकरणों को लंबित ना रखा जाये। 
प्रसूति सहायता योजना में जानकारी दी जायें
बैठक में कलेक्टर ने श्रम विभाग से कहा कि विभाग द्वारा संचालित प्रसूति सहायता योजना में शत-प्रतिशत पात्र हितग्राहियों को सहायता प्रदान करें। नगरीय एवं ग्रामीण निकायों सहित आंगनवाड़ी केन्द्रों में बैैनर/पोस्टर के माध्यम से प्रचार-प्रसार करें। ताकि योजना से अधिक से अधिक पात्र हितग्राहियों को लाभ दिया जा सकें। उन्होनें जानकारी देते हुए बताया कि आगामी 15 नवम्बर को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित वर्कशाप में योजना की रूपरेखा तैयार कर प्रस्तुत करें। समीक्षा बैठक में पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक विभाग, आदिवासी, जिला शहरी विकास अभिकरण, अंत्यावसायी विभाग सहित अन्य विभागों में संचालित योजनाओं का समीक्षात्मक जायजा लिया गया। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे, उद्योग महाप्रबंधक श्री आर.एस.ठाकुर सहित अन्य विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। 
-------
क्रमांक-31/948/2015                             सचिन/प्रशासन

समाचार

कलेक्टर ने की जिले में चल रहे निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा 

संबंधित अधिकारियों को शीघ्रता से कार्य करने दिये निर्देश 

बुरहानपुर/7 नवम्बर/ जिले में विभिन्न विभागों द्वारा किये जा रहे निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा आज कलेक्टेªट सभाकक्ष में कलेक्टर श्रीमती जे.पी.आईरिन सिंथिया द्वारा की गई। उन्होनें बुरहानपुर/खकनार विकासखण्ड में विभिन्न कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि कार्यो को जल्द से जल्द पूर्ण कर ले। 
उन्होनें दोनों जनपद सीईओ को आंगनवाडी भवनों के निर्माण कार्य में गति लाने के निर्देश दिये। उन्होनें कहा कि आंगनवाड़ी निर्माण कार्य बंद नही होना चाहिए। शौचालय निर्माण की समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि जिन परिवारों को शौचालय सौंपे गये है। उनकी प्रविष्टि पोर्टल पर अनिवार्य रूप से करें। साथ ही लंबित पड़ी एन्ट्रियों को भी 3 दिवस में पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। पेयजल कार्य को प्राथमिक से पूरा करें। इसी प्रकार कलेक्टर ने बैठक में इंदिरा आवास, मुख्यमंत्री आवास योजनाओं की समीक्षा करते हुए एलडीएम को निर्देशित किया कि बैंकों से कहे कि उक्त योजनाओं में लक्ष्य शत-प्रतिशत हासिल करें। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री बसंत कुर्रे सहित अन्य विभागों के जिला प्रमुख एवं सब इंजिनियर उपस्थित रहे।

 
-------
क्रमांक-32/949/2015                       सचिन/प्रशासन/फोटो 

No comments:

Post a Comment